The Family Man 2: रिलीज से पहले ही विवादों में फंसी सीरीज, राज्यसभा सांसद ने उठाई बैन की मांग

द फैमिली मैन 2 पर बैन की मांग. फाइल फोटो

वेब सीरीज 'द फैमिली मैन' (The Family Man) के पहले पार्ट की सफलता के बाद मेकर्स इसका दूसरा पार्ट लेकर आ रहे हैं. इसी के साथ ही ये सीरीज कानूनी पचड़े में फंसती नजर आ रही है.

  • Share this:
    मुंबई. मनोज बाजपेयी (Manoj Bajpayee) की वेब सीरीज 'द फैमिली मैन' (The Family Man) के पहले पार्ट की सफलता के बाद मेकर्स इसका दूसरा पार्ट लेकर आ रहे हैं. जब से सीरीज के दूसरे सीजन की अनाउंसमेंट हुआ है, तभी से फैंस इसका बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं. सीरीज का ट्रेलर आज रिलीज हो गया है, जिसको दर्शक काफी पसंद कर रहे हैं. इसी के साथ ही ये सीरीज कानूनी पचड़े में फंसती नजर आ रही है.

    राज्यसभा सांसद वाइको ने सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर को पत्र लिखकर ओटीटी पर रिलीज होने वाली वेब सीरीज 'द फैमली मैन 2' पर जल्द से जल्द रोक लगाने की मांग की है. वाइको के मुताबिक, तमिल एलम वॉरियर्स के सैक्रिफाइज को आतंकवादी गतिविधियों के तौर पर गलत ढंग से दिखाया है. तमिल एक्ट्रेस समांथा को पाकिस्तानी कनेक्शन वाली आतंकवादी दिखाया गया है. इससे तमिलियन्स की संस्कृति और भावनाएं आहत हुई हैं. इसलिए तमिल लोगों ने इस सीरीज के खिलाफ विरोध करना शुरू कर दिया है.

    द फैमिली मैन 2
    द फैमिली मैन 2 पर बैन की मांग. फोटो साभार: @Sumit Kadel twitter


    उनका कहना है कि यह सीरीज तमिलों को लेकर एक गलत संदेश फैला रही है. तमिलों के भावनाओं को नजर में रखते हुए वाइको ने अपने लंबे चौड़े खत में लिखा है, 'फैमिली मैन 2 के ट्रेलर में तमिलियन्स को एक आतंकवादी और आईएसआई एजेंट के तौर पर दिखा गया है, जिनका पाकिस्तान से कनेक्शन है. एस नए सीजन से साउथ की सुपरस्टार सामंथा अक्किनेनी (Samantha Akkineni) हिंदी इंडस्ट्री में डेब्यू करने जा रही हैं.

    'द फैमिली मैन' एक एक्शन-ड्रामा सीरीज है, जो एक मिडिल क्लास व्यक्ति श्रीकांत तिवारी की कहानी है और वह राष्ट्रीय जांच एजेंसी के एक विशेष सेल के लिए काम करते हैं. इस सीरीज में श्रीकांत के तंग जीवन को दर्शाया गया है, जहां वह अपने सीक्रेट, कम इनकम, उच्च दबाव, उच्च-दांव वाली नौकरी और एक पति व पिता होने के बीच संतुलन बनाने के लिए संघर्ष करते है.