बॉलीवुड के लिए गाते हुए उदित नारायण ने पूरे किये 40 साल, इनके कहने पर शुरू किया यूट्यूब चैनल

बॉलीवुड के लिए गाते हुए उदित नारायण ने पूरे किये 40 साल, इनके कहने पर शुरू किया यूट्यूब चैनल
उदित नारायण.

उदित नारायण (Udit Narayan) ने अमिताभ बच्चन, आमिर खान, शाहरूख खान, सलमान खान, अक्षय कुमार और अजय देवगन समेत बॉलीवुड के ज्यादातर अभिनेताओं के लिये पार्श्वगायन किया.

  • Share this:
मुम्बई. गायक उदित नारायण (Udit Narayan) ने फिल्म उद्योग में चार दशक पूरे कर लिए हैं और उन्होंने प्रशंसकों के निरंतर आशीर्वाद के लिये उनका शुक्रिया अदा करने की खातिर अपना यूट्यूब चैनल शुरू किया है. नारायण ने 1980 में फिल्म ‘उन्नीस-बीस’ में ‘मिल गया, मिल गया’ गाने से फिल्म उद्योग में अपने सफर की शुरूआत की थी. 1988 में आई आमिर खान-जूही चावला अभिनीत फिल्म ‘कयामत से कयामत तक’ के गानों से उनके करियर को चार चांद लग गये. इस फिल्म में उन्होंने ‘‘पापा कहते हैं...’’ और ‘‘ ऐ मेरे हमसफर...’’ गाने गाये. इंस्टाग्राप पर 64 वर्षीय गायक ने एक वीडियो साझा किया और कहा कि उन्होंने जितनी उम्मीद की थी, यह उद्योग उन्हें उससे भी अधिक देने में ‘बड़ा उदार’ रहा.

नारायण ने वीडियो में कहा, ‘‘इसने मुझे सब कुछ दिया और लोगों के आशीर्वाद और प्यार से मैं आज इस उद्योग में 40 साल पूरा कर रहा हूं. मेरा एकमात्र उद्देश्य भारतीय फिल्म एवं संगीत उद्योग में और इससे भी कहीं ज्यादा, लोगों के दिलों में अपनी जगह बनाना था. मैं अपने प्रशंसकों के प्रति आभारी हूं क्योंकि उन्हीं के कारण मुझे पद्मश्री, पद्म विभूषण और चार राष्ट्रीय पुरस्कारों से सम्मानित किया गया.....

नारायण ने अमिताभ बच्चन, आमिर खान, शाहरूख खान, सलमान खान, अक्षय कुमार और अजय देवगन समेत बॉलीवुड के ज्यादातर अभिनेताओं के लिये पार्श्वगायन किया. उन्होंने ‘कभी खुशी कभी गम’ फिल्म के गाने ‘बोले चूडि़या’, आमिर की फिल्म ‘राजा हिंदुस्तानी’ के गाने ‘परदेशी, परदेशी’ और सन्नी देओल की फिल्म ‘गदर’ के गाने ‘ मैं निकला गड्डी लेके’ समेत कई गानों को अपना स्वर दिया.



नारायण ने कहा कि उनके बेटे आदित्य के हठ पर उन्होंने अपना यूट्यूब चैनल शुरू करने का निर्णय लिया. उन्होंने कहा, ‘‘ आदित्य ने मुझसे कहा कि मैं इस साल यूट्यूब पर सबसे ज्चादा देखे जाने वाला पुरूष गायक हूं और उसने मुझे अपना यूट्यूब चैनल शुरू करने के लिये प्रोत्साहित किया.’’


बॉलीवुड का हर निर्माता पिछले कुछ समय से भारत-चीन सीमा पर चल रहे तनाव को पर्दे पर लाकर भुनाने के चक्कर में है. इसमें छोटे और बड़े दोनों निर्माता शामिल हैं. अजय देवगन ने गलवान घाटी में पिछले महीने भारत-चीन सैनिकों की मुठभेड़ पर फिल्म बनाने की घोषणा करके बॉलीवुड में बढ़त ले ली मगर अब खबर है कि एक अन्य निर्माता दिनेश विजन ने ‘गलवान वैली’ नाम से टाइटल रजिस्टर्ड करा लिया है. इंडियन मोशन पिक्चर्स प्रोड्यूसर्स एसोसिएशन (इंपा) ने भी इस बात की पुष्टि की है. विजन इससे पहले राजकुमार राव को लेकर स्त्री और मेड इन चाइन जैसी फिल्में बना चुके हैं.

यह भी पढ़ेंः बोल्ड अंदाज में दिखीं सपना चौधरी, बोलीं- तरक्की और खुशी का कोई संबंध नहीं

विजय के गलवान वैली नाम रजिस्टर्ड कराने बाद अजय देवगन के हाथों से यह आकर्षक टाइटल निकल गया है. हालांकि विजन ने फिल्म बनाने की घोषणा अभी नहीं की है परंतु इतना तय है कि उनके दिमाग में इस घटना को बड़े पर्दे पर उतारने का खयाल चल रहा है. अजय ने घोषणा की थी कि वह गलवान घाटी में भारत-चीन सैनिकों की मुठभेड़ और इसमें 20 सैनिकों के शहीद होने की घटना को पर्दे पर उतारेंगे. फिल्म को अजय देवगन फिल्म्स और सिलेक्ट मीडिया होल्डिंग्स मिलकर बनाने वाले हैं. अजय ने अभी फिल्म का टाइटल तय नहीं किया है.

बताया जाता है कि दिनेश विजन ने भारत-चीन के बीच मुठभेड़ की घटना के अगले दिन ही इंपा में टाइटल रजिस्टर्ड करने का आवेदन कर दिया था. इंपा के सूत्रों का कहना है कि इस समय उनके पास चीन और गलवान घाटी से जुड़े कई टाइटल रजिस्टर होने के लिए आ रहे हैं. इससे साफ है कि कई निर्माता भारत-चीन मुद्दे पर फिल्म बनाने की तैयारी में लगे हैं.

जानकारों का कहना है कि संभव है कि जल्दी ही बॉलीवुड में भारत-चीन को लेकर कई फिल्में एक साथ शुरू हो जाएं. लेकिन सवाल यह है कि कितने बड़े निर्माता गलवान वैली की घटना पर फिल्म बनाने के मामले में कूदेंगे. क्या ऐसा होगा कि अजय देवगन और दिनेश विजन जैसे निर्माता एक साथ अपनी फिल्में लेकर बॉक्स ऑफिस पर टकराएं. यह भी हो सकता है कि अजय फिल्म बनाएं और जरूरत पड़ने पर दिनेश विजन से गलवान गैली टाइटल की मांग करें. तब क्या विजन उन्हें यह टाइटल आसानी से दे देंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading