अपना शहर चुनें

States

उस्ताद गुलाम मुस्तफा खान को राजकीय सम्‍मान के साथ किया गया विदा, मुंबई में किए गए सुपुर्द-ए-खाक

उस्ताद गुलाम मुस्तफा खान का पूरे राजकीय सम्मान के साथ मुंबई में अंतिम संस्कार कर दिया गया. (Photo: ANI)
उस्ताद गुलाम मुस्तफा खान का पूरे राजकीय सम्मान के साथ मुंबई में अंतिम संस्कार कर दिया गया. (Photo: ANI)

भारतीय शास्त्रीय संगीतकार और पद्म विभूषण से सम्मानित उस्ताद गुलाम मुस्तफा खान (Ustad Ghulam Mustafa Khan) का पूरे राजकीय सम्मान के साथ मुंबई में अंतिम संस्कार कर दिया गया. रामपुर-सहसवान घराने से संबंधित मुस्तफा खान का रविवार को 89 साल की उम्र में निधन हो गया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 18, 2021, 12:31 AM IST
  • Share this:
मुंबई. भारतीय शास्त्रीय संगीतकार और पद्म विभूषण से सम्मानित उस्ताद गुलाम मुस्तफा खान (Ustad Ghulam Mustafa Khan) का पूरे राजकीय सम्मान के साथ मुंबई में अंतिम संस्कार कर दिया गया. रामपुर-सहसवान घराने से संबंधित उस्ताद गुलाम मुस्तफा खान का रविवार को 89 साल की उम्र में निधन हो गया. उन्हें भारत सरकार ने पद्म भूषण और पद्म विभूषण से सम्मानित किया था. उस्ताद का जन्म 3 मार्च, 1931 को उत्तर प्रदेश के बंदायू में हुआ था. अपने चार भाइयों और तीन बहनों में उस्ताद सबसे बड़े थे.

उनके निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और संगीत जगत ने शोक जताया. जनाजे पर तिरंगा लपेटकर उनकी अंतिम यात्रा निकाली गई. उनकी अंतिम यात्रा में संगीत जगत के कई दिग्गज शामिल हुए. इनमें सबसे चर्चित नाम हैं सोनू निगम. मुस्तफा खान के देहांत की खबर मिलने के बाद ही सोनू निगम उनके घर पहुंच चुके थे. अपने गुरु उस्ताद गुलाम मुस्तफा खान की अर्थी को सोनू निगम ने कंधा भी दिया. गुरु की अंतिम यात्रा में सोनू भावुक हो गए.


गुलाम मुस्तफा खान की अंत‍िम यात्रा में अनूप जलोटा भी शामिल हुए. संगीत जगत के कुछ लोगों के अलावा उनके जनाजे में बहुत भीड़ जुट गई. अंतिम यात्रा में शामिल सभी लोग दुखी दिखाई दिए. पुलिस ने उस्ताद गुलाम मुस्तफा खान को सलामी दी. मुस्तफा खान की यात्रा में लोगों का हुजूम देखने को मिला. गुलाम मुस्तफा खान को सांताक्रूज के कब्रिस्तान में दफनाया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज