एसपी बालासुब्रमण्यम हुए पंचतत्व में विलीन, नम आंखों से दी गई अंतिम विदाई

एसपी बालासुब्रमण्य

एसपी बालासुब्रमण्यम (SP Balasubrahmanyam) को उनके परिवार और फैंस ने नम आंखों से विदाई (SP Balasubrahmanyam Last Rites) दी. बालासुब्रमण्यम का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:
    मुंबई. एसपी बालासुब्रमण्यम (SP Balasubrahmanyam) शनिवार दोपहर पंचतत्व में विलीन हो गए. नम आंखों से परिवार और फैंस ने उन्हें विदाई (SP Balasubrahmanyam Last Rites) दी. बालासुब्रमण्यम का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गिया. बालासुब्रमण्यम के बेटे एसपी चरण ने अंतिम संस्कार की सभी रस्मों को पूरा किया.

    लंबे समय से बीमार चल रहे बालासुब्रमण्यम का 74 साल की उम्र में शुक्रवार दोपहर निधन हो गया था. गुरुवार को उनकी तबीयत ज्यादा नासाज होने की जब खबर आई तो उनके फैंस ने दुआएं मांगनी शुरू कर दीं, लेकिन इन दुआओं का भी कोई असर नहीं हुआ और लाखों दिलों को अपनी आवाज से धड़काने वाले बालासुब्रमण्यम दुनिया को अलविदा कह गए.



    संगीतकार एसपी बालासुब्रमण्यम (SP Balasubrahmanyam) का पार्थिव शरीर शुक्रवार रात चेन्नई के बाहर रेड हिल्स पर स्थित उनके फार्महाउस पर पहुंचा तो वहां लोगों की भारी भीड़ थी. कोरोना वायरस महामारी के चलते पाबंदियों के बावजूद एसपीबी के फार्महाउस पर बड़ी संख्या में उनके प्रशंसक एकत्रित हुए. द्रमुक प्रमुख एमके स्टालिन के बेटे एवं पार्टी की युवा इकाई के नेता उदयनिधि स्टालिन समेत कई नेता उनके आवास पर पहुंचे.

     மறைந்த எஸ்பிபி உடல்

    Photo Credit- News18 Tamil

    एसपी बालासुब्रमण्यम के अंतिम संस्कार के मौके पर पुलिस ने सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए थे. एसपी थिरुवल्लोर अरविंदन ने बताया कि इस मौके पर भीड़ को काबू करने के लिए 500 कर्मियों के साथ ट्रैफिक पुलिस टीम को भी अलर्ट किया गया था.

     மறைந்த எஸ்பிபி உடல்

    Photo Credit- News18 Tamil

    तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी ने शुक्रवार को कहा कि प्रसिद्ध गायक एसपी बालासुब्रमण्यम का अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान के साथ किया जाएगा. उन्होंने एक आधिकारिक विज्ञप्ति में इसकी घोषणा की थी.

    एमजीएम अस्पताल ने एक बयान में कहा कि बालासुब्रमण्यम की हालत गुरुवार को काफी बिगड़ गई थी, जिसके बाद से वो लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर थे. बालासुब्रमण्यम को 5 अगस्त को कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था. उन्होंने खुद भी सोशल मीडिया के जरिए एक वीडियो जारी कर बताया था कि अब ठीक हैं लेकिन दो हफ्तों बाद ही उनकी तबीयत खराब हुई थी. इसके बाद उन्हें ECMO सपोर्ट और वेंटिलेटर पर रखा गया था.

    एस.पी. बालासुब्रमण्यम का जन्म नेल्लूर के तेलुगू परिवार में हुआ था और उनके पिता एस.पी. सम्बामूर्ति एक हरिकथा आर्टिस्ट थे. एस.पी. बालासुब्रमण्यम प्लेबैक सिंगर के अलावा म्यूजिक डायरेक्टर, एक्टर, डबिंग आर्टिस्ट और फिल्म प्रोड्यूसर भी रहे थे. बालासुब्रमण्यम के परिवार में पत्नी सावित्री और दो बच्चे हैं. उनकी बेटी का नाम पल्लवी और बेटे का एसपी चरण है.

    आपको बता दें कि एसपी बालासुब्रमण्यम गिनीज बुक में लगभग 40,000 गीत गाने का रिकॉर्ड दर्ज करा चुके हैं. 1966 में इनको फिल्मों में गाने के लिए पहला ब्रेक मिला. यह एक तेलुगु फिल्म थी. इस गाने के महज आठ दिन बाद ही बालासुब्रमण्यम को गैर तेलुगु फिल्म में गाने का मौका मिल गया. 8 फरवरी 1981 को बालासुब्रमण्यम ने 12 घंटों में लगातार 21 गाने रिकॉर्ड किए थे, जो कि अपने आप में एक रिकॉर्ड है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.