होम /न्यूज /मनोरंजन /

विवेक ओबेरॉय ने बढ़ाए नेकी के हाथ, कैंसर से जूझ रहे 3,000 बच्चों के लिए आए आगे

विवेक ओबेरॉय ने बढ़ाए नेकी के हाथ, कैंसर से जूझ रहे 3,000 बच्चों के लिए आए आगे

विवेक ओबेरॉय सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते हैं. (फोटो साभार : vivekoberoi/Instagram)

विवेक ओबेरॉय सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते हैं. (फोटो साभार : vivekoberoi/Instagram)

विवेक ओबेरॉय (Vivek Oberoi) ने कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी से पीड़ित बच्चों की मदद के लिए नेकी के हाथ आगे बढ़ाए हैं, सोशल मीडिया (Social Media) पर उन्होंने एक पोस्ट के जरिए इस बात की जानकारी दी.

    मुंबई. सोनू सूद (Sono Sood) के साथ बॉलीवुड (Bollywood) के कई स्टार्स हैं जो अपनी-अपनी तरह से कोरोना की इस जंग में मदद कर रहे हैं. कोई प्रधानमंत्री राहत कोष में दान कर रहा है तो कोई ऑक्सीजन सेलेंडर और ऑक्सीजन प्लांस्ट्स लगाने की हर संभव कोशिश में लगा हुआ है. लेकिन कोरोना से अलग दुनिया में ऐसे भी हैं जो पहले से ही किसी गंभीर बीमारी का शिकार हैं. हाल ही में बॉलीवुड एक्टर विवेक ओबेरॉय (Vivek Oberoi) ने कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी से पीड़ित बच्चों की मदद के लिए नेकी के हाथ आगे बढ़ाए हैं, सोशल मीडिया (Social Media) पर उन्होंने एक पोस्ट के जरिए इस बात की जानकारी दी.

    विवेक ओबेरॉय (Vivek Oberoi) सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते हैं साथ ही सोशल वर्क से जुड़े रहते हैं. हाल ही में उन्होंने बताया कि वह कैंसर से लड़ रहे 3000 जरूरतमंद बच्चों तक भोजन पहुंचाएंगे. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि वह आने वाले 3 महीनों में ज्यादा से ज्यादा बच्चों की मदद करना चाहते हैं.

    विवेक ओबेरॉय ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर एक लंबा वीडियो मैसेज पोस्ट किया है. इस पोस्ट में उन्होंने लोगों से अपील की है लोग उनकी इस नेक कम में मदद करें. विवेक ओबेरॉय ने कहा कि कैंसर से लड़ने वाले को सिर्फ 1000 रुपये में पूरे महीने का भोजन उपलब्ध कराया जा सकता है. वह इस काम को कैंसर रोगी सहायता संघ (CPAA) के साथ मिलकर कर रहे हैं.








    View this post on Instagram






    A post shared by Vivek Oberoi (@vivekoberoi)






    उन्होंने लिखा, कैंसर पेशेंट्स एड एसोसिएशन (CPAA) पिछले 52 साल से कैंसर केयर की तरफ अपना ध्यान केंद्रित किये हुए है और हमेशा ट्रीटमेंट से अलग हटकर मरीजों के बारे में सोचती है. इसका मकसद उन लोगों का जीवन बचाना है जो कैंसर से अपना इलाज करा पाने में आसमर्थ्य हैं. हजारों मरीजों और उनके परिवार को CPAA के फूड बैंक से फायदा पहुंचा है. हम आनेवाले 3 महीने के लिए मरीजों के खाने-पीने का पूरा इंतजाम करने में लगे हुए हैं. मगर हम ये अकेले नहीं कर सकते. इसलिए इस काम में हमें आपकी जरूरत है. आपका एक छोटा सा सहयोग एक मरीज को पूरे एक महीने का खाना मुहैया करा सकता है.

    कोरोना काल में कैंसर पेशेंट्स के बारे में इतना सोचना और उनकी मदद के लिए आगे आने पर विवेक ओबेरॉय की तारीफ की जा रही है. आपको बता दें कि विवेक ओबेरॉय ने 2.5 लाख से ज्यादा, वंचित बच्चों को कैंसर से बचाया है. विवेक ओबेरॉय ने 2200 से अधिक छोटी लड़कियों को बाल वेश्यावृत्ति से बचाया है, जिनमें से 50 से अधिक आज छात्रवृत्ति पर विदेश में पढ़ रही हैं.undefined

    Tags: Vivek oberoi

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर