‘पाताल लोक’ ने ‘हथौड़ा त्यागी’ बने अभिषेक बनर्जी के करियर को लगाए पंख, फिल्मों की लगी लाइन

हर नए प्रोजेक्ट में अभिषेक अपने अभिनय की कला दिखाते रहते हैं और अपनी काबिलियत साबित करते हैं क्योंकि वह हर बार वे नया रोल करते हैं. (Photo Credit: Amazon Prime Video)

हर नए प्रोजेक्ट में अभिषेक अपने अभिनय की कला दिखाते रहते हैं और अपनी काबिलियत साबित करते हैं क्योंकि वह हर बार वे नया रोल करते हैं. (Photo Credit: Amazon Prime Video)

वेब सीरीज 'पाताल लोक' की रिलीज को 1 साल हो गया. अभिषेक बनर्जी (Abhishek Banerjee) ने बताया कि, ‘हथौड़ा त्यागी’ के रोल के लिए मैंने कर्णेश और सुदीप को जो विकल्प दिए थे, वे उन्हें पसंद नहीं आ रहे थे! अंत में एक लंबे आंतरिक द्वंद्व के बाद मैंने साहस जुटाया और ऑडिशन दिया!

  • Share this:

मुंबई. एक साल हो गया है जब दुनिया ने अभिषेक बनर्जी (Abhishek Banerjee) को क्राइम-थ्रिलर सीरीज, 'पाताल लोक' (Paatal Lok) में शानदार प्रदर्शन करते हुए देखा था. इस प्रोजेक्ट से पहले कॉमिक रोल में एक्टिंग करने के वाले अभिषेक ने फैंस को दिखाया कि दूसरी जॉनर में रोल करते समय वह कितने बहुमुखी हो सकते हैं. उन्होंने अब पाताल लोक के दिनों से अपना अनुभव शेयर किया है.

अपने पाताल लोक के दिनों के बारे में अभिषेक कहते हैं कि, ‘सुदीप सर एक दिन थिएटर में ‘स्त्री’ देखने गए थे और उन्होंने अगले दिन मुझे यह कहते हुए फोन किया कि वह चाहते हैं कि मैं ‘हथौड़ा त्यागी’ के रोल के लिए ट्राय करूं!! उन्होंने कहा, ‘उन्होंने मेरी आंखों में एक सनक देखी थी.’ यह एक चौंकाने वाला था, मुझे इसकी उम्मीद नहीं थी. मैंने अपने आप में सनक की तलाश में खुद को आईने में देखा. शुरू में मुझे रोल रोमांचक नहीं लगा, त्यागी के पास ज्यादा डायलॉग नहीं थे, यहां तक ​​कि अन्य पात्रों की तुलना में स्क्रीन टाइम भी कम था! मैं ऑडिशन ट्राय करने के लिए बहुत खुश नहीं था और साथ ही मैं कास्टिंग डायरेक्टर भी था, इसलिए एक शर्मनाक स्थिति में नहीं पड़ना चाहता था जहां मुझे टीम से खुद के रिजेक्शन की खबर सुनने को मिले.’

उन्होंने आगे कहा कि, ‘हालांकि कर्णेश सर और सुदीप सर दोनों आश्वस्त थे कि मैं इस किरदार का रोल अच्छे से निभा सकता हूं. ‘हथौड़ा त्यागी’ के रोल के लिए मैंने उन्हें जो अन्य विकल्प दिए थे, वे उन्हें पसंद नहीं आ रहे थे! अंत में एक लंबे आंतरिक द्वंद्व के बाद मैंने साहस जुटाया और ऑडिशन दिया! मैंने इसे अपना शत प्रतिशत दिया, लेकिन फिर भी घबराया हुआ था, जब मैंने आखिरकार उन्हें टेस्ट भेजा. अगली सुबह कर्णेश सर ने फोन किया, मैंने घबड़ाते हुए फोन उठाया और फिर मुझे बताया गया कि उन्हें वास्तव में मेरा ऑडिशन पसंद आया है और मुझे इस किरदार के लिए सलेक्ट कर लिया गया है! ओह! यह एक अच्छी राहत थी, लेकिन यह एक कठिन लेकिन खूबसूरत सफर की बस एक शुरुआत थी!!’

उनके शो पाताल लोक को काफी सरहाया गया क्योंकि इसे मजबूत आलोचनात्मक प्रशंसा मिली. अभिषेक को उनके ‘हथौड़ा त्यागी’ के रोल के लिए भी काफी सराहना मिली है. सीरीज में उनके रोल ने वास्तव में उन्हें कॉमेडी व्यक्तित्व से मुक्त होने में मदद की, जिसके लिए उन्हें जाना जाता है. वह अब हर फिल्म डायरेक्टर निर्देशक की सूची में हैं, जो उन्हें अपने प्रोजेक्ट का हिस्सा बनने के इच्छुक हैं.
उनकी हाल ही में रिलीज हुई एंथोलॉजी फिल्म अजीब दास्तां, अभिषेक के लिए फिर से एक बहुत ही सफल आउटिंग थी क्योंकि वह अपने रोल को जीवंत करने के लिए फिर से प्रशंसा पा रहे थे. हर नए प्रोजेक्ट में अभिषेक अपने अभिनय की कला दिखाते रहते हैं और अपनी काबिलियत साबित करते हैं क्योंकि वह हर बार वे नया रोल करते हैं. अब उनके पास 5 प्रोजेक्ट्स हैं, जो पहले से डेवलपमेंट स्टेज में हैं. ‘अजीब दास्तान’ फेम यह एक्टर जल्द रश्मि रॉकेट, भेड़िया, आंख मिचोली, दोस्ताना 2 और हेलमेट में दिखाई देंगे.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज