होम /न्यूज /मनोरंजन /रानी को था हीरोइन न बन पाने का डर, गेहुंआ रंग-छोटी हाइट को मानती थी कमजोरी, साउथ एक्टर की सलाह से बदला नसीब

रानी को था हीरोइन न बन पाने का डर, गेहुंआ रंग-छोटी हाइट को मानती थी कमजोरी, साउथ एक्टर की सलाह से बदला नसीब

रानी मुखर्जी की आवाज भी ठीक नहीं थी. (फोटो साभारः Instagram @ranimukherjeefp)

रानी मुखर्जी की आवाज भी ठीक नहीं थी. (फोटो साभारः Instagram @ranimukherjeefp)

रानी मुखर्जी (Rani Mukerji) बॉलीवुड के सबसे प्रतिभाशाली एक्ट्रेसेज में से एक हैं. आज उनका जन्मदिन हैं. रानी इकलौती ऐसी ...अधिक पढ़ें

मुंबई. रानी मुखर्जी (Rani Mukerji Birthday) आज 45 साल की हो गई हैं. उनका आज जन्मदिन है. रानी 90 के दशक से ही टॉप एक्ट्रेस रही हैं. उनका चार्म आज तक कम नहीं हुआ है. उन्होंने साल 1996 में ‘राजा की आएगी की बारात’ से बॉलीवुड डेब्यू किया. उन्होंने साल 1998 में ‘गुलाम’ और ‘कुछ कुछ होता है’ जैसी सुपरहिट फिल्म दी. इसके बाद उन्होंने कभी मुड़कर नहीं देखा. उन्होंने समय-समय पर ‘हम तुम’, ‘ब्लैक’, ‘वीर-जारा’, ‘मरदानी’ जैसी सुपरहिट फिल्में दी हैं और अभी तक चर्चित एक्ट्रेस हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं एक वक्त था जब उन्हें लगता था कि वह कभी एक्ट्रेस नहीं बन सकतीं.

रानी मुखर्जी को लगता था कि उनका गेहुंआ रंग और छोटी हाइट एक हीरोइन बनने के लिए लायक नहीं है. यहां तक उन्हें अपनी आवाज को लेकर भी काफी दिक्कत थी. फिल्म ‘गुलाम’ में उनकी आवाज को डब किया गया था. रानी को लगता था कि उनकी मोटी आवाज, हाइट और गेहुंआ रंग उनकी करियर के लिए बहुत बड़ी बाधा है. कमल हासन (Kamal Hassan) ने उन्हें करियर में आगे बढ़ते रहने की सलाह दी.

कजिन रानी मुखर्जी को पसंद नहीं करती थीं काजोल, की थी हिट फिल्म से निकलवाने की कोशिश, फैमिली से जुड़ी थी वजह

आवाज, छोटी हाइट और स्किन कलर को लेकर परेशान थीं रानी मुखर्जी

साल 2021 में इंडिया टुडे को दिए इंटरव्यू में कहा था,”मैंने कभी नहीं सोचा था कि मैं हीरोइन की कैटेगरी में फिट बैठती हूं. मैं सच में एक हिरोइन के अपॉजिट हूं. मैं हाइट छोटी है, मेरी आवाज एक्ट्रेस की तरह नहीं है. मेरा स्किन कलर गेहुंआ है. मुझे लगता है कि जब मैंने शुरुआत की थी, तो मुझे कभी विश्वास नहीं हुआ था कि मैं एक एक्ट्रेस बन सकती हूं.”

श्रीदेवी और माधुरी दीक्षित को स्क्रीन की देवी मानती थीं रानी मुखर्जी

रानी मुखर्जी ने आगे कहा था, “मैं श्रीदेवी, जूही चावला, माधुरी दीक्षित और रेखा जी को देखते हुए बड़ी हुई हूं, जो कि स्क्रीन देवी थीं और मैंने कभी खुद को वहां तक पहुंचने की कल्पना नहीं की थी. जैसे ही मेरी जर्नी शुरू हुई, मैंने कई दिग्गजों से बात की, जिनके साथ मुझे काम करने का अवसर मिला. उनमें से एक कमल हासन सर थे.”

कमल हासन ने दिया था रानी मुखर्जी को ये ज्ञान

रानी मुखर्जी ने कहा, “उन्होंने मुझे बताया कि आप अपनी शारीरिक बनावट के आधार सफलता को नहीं माप सकते. लेकिन आप अपनी मेहनत और लगन से बहुत ऊंचाई तक बढ़ सकते हैं. इसलिए मैंने लोगों कि उन सभी रूढ़िवादी सोच को तोड़ा, जिन्हें लगता था कि मैं एक एक्ट्रेस नहीं बन सकती.”

Tags: Rani mukerji

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें