सनी देओल को जब 'गदर' के लिए मिला था सम्मान, गुस्से में बाथरूम में छोड़ आए थे अवॉर्ड

सनी देओल को अवॉर्ड फंक्शन में गुस्सा आया था.(फोटो साभार: iamsunnydeol/Instagram)

‘गदर: एक प्रेम कथा’ (Gadar: Ek Prem Katha) में सनी देओल (Sunny Deol) का अंदाज और डायलॉग्स आज भी बेहद पसंद किया जाता है. इस फिल्म को अवॉर्ड भी मिला था, लेकिन सनी देओल को यहां भी गुस्सा आ गया.

  • Share this:
    मुंबई. बॉलीवुड एक्टर सनी देओल (Sunny Deol) की फिल्म ‘गदर: एक प्रेम कथा’ (Gadar: Ek Prem Katha) ने हाल ही में अपने रिलीज के 20 साल पूरे किए हैं. इस फिल्म में गुस्से में लाल आंखों वाले सनी को आज भी कोई भूल नहीं पाया है. इस फिल्म के गाने और डायलॉग्स अक्सर याद किए जाते हैं. जब पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान में हैंडपंप उखाड़ सिल्वर स्क्रीन पर सनी दहाड़े थे तो थिएटर तालियों की गड़गड़ाहट और सीटियों से गूंज उठा था. ऐसे सनी को एक बार उस समय भी गुस्सा आ गया था जब उनकी इस ब्लॉकबस्टर सुपरहिट फिल्म के लिए अवॉर्ड मिला था.

    फिल्म ‘गदर: एक प्रेम कथा’ (Gadar: Ek Prem Katha) को हिट करवाने में स्क्रिप्ट, गाने, पिक्चराइजेशन सबका योगदान था. इस फिल्म की एक्ट्रेस अमीषा पटेल की मासूमियत ने दर्शकों का दिल जीत लिया था. ‘गदर’  के लिए बेस्ट क्रिटिक्स एक्टर च्वॉइस अवॉर्ड से सनी देओल को सम्मानित किया गया था. सनी इससे खुश नहीं थे इसलिए अवॉर्ड तो ले लिया लेकिन बाथरुम में छोड़ आए. सनी देओल का ऐसा करने के पीछे की वजह और भी हैरान करने वाली है.

    (फोटो साभार: iamsunnydeol/Instagram)


    दरअसल, आमिर खान की फिल्म ‘लगान’ और सनी देओल की ‘गदर: एक प्रेम कथा’  15 जून 2001 को एक ही दिन रिलीज हुई थी. दोनों ही फिल्में हिट रही थी. लेकिन जब अवॉर्ड देने की बारी आई तो ‘लगान’ को शामिल किया गया और ‘गदर’ को नहीं. ‘लगान’ को बेस्ट फिल्म और आमिर खान को बेस्ट एक्टर का अवॉर्ड मिला. इस अवॉर्ड फंक्शन में सनी देओल भी शामिल हुए थे. कुछ लोगों ने उन्हें भड़का दिया कि उन्हें शो में बेइज्जत करने के लिए बुलाया गया है. हालांकि, सनी देओल के लिए बेस्ट क्रिटिक्स एक्टर च्वॉइस अवॉर्ड खासतौर पर रखा गया था. बुलाए जाने पर सनी स्टेज पर आए, लेकिन अवॉर्ड लेकर बिना बोले कुछ चले गए. शो के बाद आयोजको को जानकारी मिली कि सनी अपना अवॉर्ड बाथरुम में छोड़कर चले गए थे.

    ये भी पढ़िए-कंगना रनौत से लेकर सोनू सूद तक... अपने सपने को पूरा करने के लिए इन सितारों ने छोड़ा था अपना घर

    इस पूरी घटना का खुलासा जी टेलीफिल्म्स के पूर्व सीईओ संदीप गोयल ने अपनी बुक ‘ऑनेस्ट टू गॉड’ में करते हुए बताया कि ‘गदर’  जी टेलीफिल्म्स के बैनर तले बनी फिल्म थी. अवॉर्ड फंक्शन भी जी का ही था इसलिए अपनी फिल्म की जगह ‘लगान’ को अवॉर्ड दिया गया था.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.