महिला आयोग प्रमुख ने की कंगना को ‘धमकी देने वाले’ शिवसेना विधायक की गिरफ्तारी की पैरवी

महिला आयोग प्रमुख ने की कंगना को ‘धमकी देने वाले’ शिवसेना विधायक की गिरफ्तारी की पैरवी
कंगना रानावत

कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने एक ट्वीट में सवाल किया था, "मुंबई, पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर की तरह क्यों लग रहा है?" संजय राउत ने कथित तौर पर कहा था कि अगर वह नगर की पुलिस से डरती हैं तो उन्हें वापस मुंबई नहीं आना चाहिए.

  • Share this:
नयी दिल्ली. राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने शु्क्रवार को शिवसेना के उस विधायक की गिरफ्तारी की पैरवी की जिन्होंने अभिनेत्री कंगना रनौत को कथित तौर पर धमकी दी है. शिवसेना विधायक प्रदीप सरनाईक द्वारा कंगना को कथित तौर पर धमकी देने के मामले का हवाला देते हुए रेखा ने कहा कि उन्होंने इसका संज्ञान लिया है.

उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘मुबई पुलिस आयुक्त, उन्हें (विधायक) तत्काल गिरफ्तार किया जाना चाहिए.’’ बाद में मुंबई के पुलिस आयुक्त एसके जायसवाल को भेजे पत्र में रेखा शर्मा ने कहा कि जिम्मेदार पद पर बैठे व्यक्ति द्वारा एक महिला को ‘धमकी देने’ का महिला आयोग ने संज्ञान लिया है.

महिला आयोग की अध्यक्ष ने कहा, ‘‘आयोग यह सलाह देता है कि प्रदीप सरनाईक के खिलाफ कानून के तहत सख्त कार्रवाई की जाए और इस बारे में आयोग को जल्द सूचित किया जाए.’’



दरअसल, सरनाईक ने ट्वीट कर कहा है कि मुंबई की तुलना पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) से करने के लिए कंगना पर देशद्रोह का मामला दर्ज होना चाहिए.
उन्होंने कहा, ‘‘संजय राउत जी ने बहुत ही नरम होकर कंगना को सावधान किया था. अगर वह यहां आती हैं तो हमारी बहादुर महिलाएं उन्हें थप्पड़ मारे बगैर नहीं छोड़ेंगी.’’

गौरतलब है कि कंगना ने हाल ही में एक ट्वीट में सवाल किया था, "मुंबई, पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर की तरह क्यों लग रहा है?" उन्होंने एक सितंबर की एक समाचार रिपोर्ट को भी टैग किया था जिसमें संजय राउत ने कथित तौर पर कहा था कि अगर वह नगर की पुलिस से डरती हैं तो उन्हें वापस मुंबई नहीं आना चाहिए.

उनके इस बयान के बाद संजय राउत और शिवसेना के दूसरे नेता उन पर हमलावर हो गए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज