Home /News /entertainment /

<b>बदलापुर:</b>क्या कहते हैं फर्स्ट शो देखने वाले दर्शक

<b>बदलापुर:</b>क्या कहते हैं फर्स्ट शो देखने वाले दर्शक

वरुण धवन अभिनीत बदलापुर आज रिलीज हो गई है। दिल्ली से सटे नोएडा के लगभग सभी सिनेमाघरों में सुबह के सभी शो 85 प्रतिशत भरे रहे। कैसी लगी दर्शकों को ये फिल्म?

वरुण धवन अभिनीत बदलापुर आज रिलीज हो गई है। दिल्ली से सटे नोएडा के लगभग सभी सिनेमाघरों में सुबह के सभी शो 85 प्रतिशत भरे रहे। कैसी लगी दर्शकों को ये फिल्म?

वरुण धवन अभिनीत बदलापुर आज रिलीज हो गई है। दिल्ली से सटे नोएडा के लगभग सभी सिनेमाघरों में सुबह के सभी शो 85 प्रतिशत भरे रहे। कैसी लगी दर्शकों को ये फिल्म?

    श्रवण शुक्ल

    नोएडा। वरुण धवन अभिनीत बदलापुर आज रिलीज हो गई है। दिल्ली से सटे नोएडा के लगभग सभी सिनेमाघरों में सुबह के सभी शो 85 प्रतिशत भरे रहे। कैसी लगी दर्शकों को ये फिल्म? किस सितारे के अभिनय ने किया उन्हें सबसे अधिक प्रभावित? कितनी अलग है फिल्म की कहानी? और दर्शक उसे देते हैं कितने स्टार? ये जानने के लिए आईबीएनखबर ने फिल्म के बाद बाहर निकल रहे दर्शकों से उनकी राय पूछी।

    नोएडा के स्पाइस सिनेमा में बदलापुर का 11 बजे वाला पहला शो देखकर निकले नितिन मिश्र का कहना था कि फिल्म जबरदस्त है। हालांकि कहीं-कहीं जबरन नाटकीयता भी देखने को मिली। नितिन के मुताबिक नवाजुद्दीन सिद्दीकी फिल्म की जान हैं। एक्टिंग में वरुण पिछली फिल्मों से बेहतर हैं। यामी गौतम अब एक मेच्योर एक्ट्रेस हो गई हैं। अपनी छोटी सी भूमिका में उनकी मासूमियत प्यारी लगी। संगीत में चदरिया गाना अच्छा है। नितिन फिल्म को 5 में से पूरे 4 स्टार देते हैं।

    सौरभ ने यामी गौतम की छोटी सी मगर दो-चार लाइन डायलॉग वाली भूमिका को रिफ्रेशमेंट बताया। सौरभ के मुताबिक विनय पाठक अलग करने के चक्कर में अलग ही लगे। जैसे उनसे जबरन एक्टिंग कराई गई हो। हुमा कुरैशी ने बेहतरीन अदाकारी दिखाई, हालांकि दिव्या दत्ता ने उन्हें खासी टक्कर दी। सौरभ ने भी फिल्म को 4 स्टार दिए। उनका कहना है फिल्म थोड़ी अलग है। इसके लिए राघवन की हिम्मत की दाद तो देनी ही पड़ेगी।

    बदलापुर की बदले वाली कहानी से शुभम नाराज लगे। शुभम का कहना है कि फिल्म बेहतर थी लेकिन वरुण धवन का अभिनय निराशाजनक रहा। वो संवेदनहीन लगे। वरुण के चेहरे से लगा ही नहीं कि ये व्यक्ति लंबे समय से गहरे दुःख और गुस्से में हैं। कुछ ऐसा ही धर्मेंद्र को भी लगा। धर्मेंद्र कहते हैं कि फिल्म का नाम बदलापुर नहीं, बल्कि दयावान टाइप रखना चाहिए थे। धर्मेंद्र को फ़िल्म बोरिंग भी लगी। सिर्फ टुकड़ों में ही फ़िल्म उन्हें प्रभावित कर पाई। धर्मेंद्र फिल्म को 1.5 देते हैं तो शुभम बड़ा दिल दिखाते हुए 2स्टार देते हैं।

    फिल्म देखने पहुंचे शौकत अली को फिल्म साधारण नजर आई। हालांकि बदले की भावना को छोड़ देना, वो भी बिना कारण बताए, ये हजम नहीं हुआ। शौकत का कहना है कि श्रीराम राघवन को बदलापुर फ़िल्म नहीं, बल्कि डॉक्युमेंट्री बनानी चाहिए थी। हालांकि वो नवाजुद्दीन के अभिनय से बेहद खुश दिखे। शौकत की मानें तो फ़िल्म का असली हीरो वरुण धवन नहीं, नवाजुद्दीन है। उन्हें फ़िल्म का संगीत पक्ष थोड़ा कमजोर लगा। फिल्म में बेहतर गाने होते तो अच्छा होता। लेकिन फालतू के डांस सीक्वेंस नहीं हैं, ये बेहतर है। बैकग्राउंड स्कोर शानदार रहा। शौकत नोएडा में ही संगीत की शिक्षा लेते हैं। शौकत फिल्म को एक बार देखने लायक बताते हुए 2.5 स्टार देते हैं।
    जीआईपी से फिल्म देखकर बाहर निकल रहे लोगों में से राहुल को लीड एक्टर के तौर पर धवन कुछ जंचे नहीं। राहुल का कहना है कि धवन को इस फिल्म का हिस्सा बनने से पहले कुछ गंभीर भूमिकाएं करनी चाहिए थीं। राहुल राघवन की तारीफ़ करते हैं कि उन्होंने बदले की साधारण सी कहानी को बेहतर तरीके से प्रदर्शित किया। राहुल ने नवाजुद्दीन को फ़िल्म की जान बताया तो हुमा कुरैशी का अभिनय भी सराहा। राधिका आप्टे उन्हें शानदार लगीं तो विनय पाठक ने भी उनके मुताबिक छोटी सी भूमिका से न्याय किया। राहुल के मुताबिक पाठक की भूमिका थोड़ी बड़ी करनी चाहिए थी। दिव्या दत्ता ठीक ठाक लगीं। राहुल ने फिल्म को 5 में से 1.5 स्टार दिए।

    कुल मिलाकर लोगों ने फिल्म को ठीक ठाक पसंद किया है। थियेटरों का 85% भरा रहना भी ये इशारा करता है कि फिल्म का प्रमोशन फिल्म के काम आया। अगर लोगों से बातचीत में मिली प्रतिक्रिया को आधार बनाया जाए तो बदलापुर को 5 में से 3.5 स्टार मिलते हैं।

    Tags: Varun Dhawan

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर