'हंप्टी' का दोस्त अब बना 'बद्री' का भी दोस्त

छुटपन से ही थिएटर कर रहे साहिल अब ‘बद्रीनाथ की दुल्हनिया’ में एक बार फिर वरुण धवन के दोस्त के किरदार में नजर आ रहे हैं

दीपक दुआ | News18Hindi
Updated: March 6, 2017, 12:53 PM IST
'हंप्टी' का दोस्त अब बना 'बद्री' का भी दोस्त
छुटपन से ही थिएटर कर रहे साहिल अब ‘बद्रीनाथ की दुल्हनिया’ में एक बार फिर वरुण धवन के दोस्त के किरदार में नजर आ रहे हैं
दीपक दुआ
दीपक दुआ | News18Hindi
Updated: March 6, 2017, 12:53 PM IST
साहिल वैद-मुमकिन है इन्हें नाम से न पहचाना जाए, लेकिन इनकी सूरत देखते ही फौरन याद आता है ‘हंप्टी शर्मा की दुल्हनिया’ में निभाया पोपलू का इनका किरदार. छुटपन से ही थिएटर कर रहे साहिल अब ‘बद्रीनाथ की दुल्हनिया’ में एक बार फिर वरुण धवन के दोस्त के किरदार में नजर आ रहे हैं. न्यूज 18 हिंदी ने उनसे खास बातचीत की.

सवाल: एक्टिंग के कीड़े ने कब काटा?

जवाब: पता ही नहीं चला, बहुत छोटा था शायद तभी काट कर चला गया. पांच-छह साल की उम्र से मैं नाटक कर रहा हूं.

sahil3

सवाल: एक्टिंग को प्रोफेशन बनाने के बारे में कब सोचा?

जवाब: मेरे लिए एक्टिंग एक नशा था, आज भी है जिसे करके मुझे आनंद मिलता है. स्कूल के बाद मैंने मास कम्युनिकेशन की पढ़ाई की, लेकिन थिएटर था कि छूटता ही नहीं था. धीरे-धीरे सब ने कहना शुरू कर दिया कि इसे करियर बनाओ और एक दिन पापा ने भी वह सवाल पूछ लिया जो हर बाप अपने बेटे से पूछता है-आगे क्या करना है? और बस, मुंह से निकला-एक्टिंग.

sahil3 shail2

सवाल: मुंबई जाने की टिकट क्या सोच कर खरीदी थी?

जवाब: दरअसल मैंने सुभाष घई जी के इंस्टीट्यूट ‘व्हिस्लिंग वुड्स’ का एक विज्ञापन देखा था. तब मुझे लगा कि अगर एक्टिंग करनी है तो फिल्मों में चला जाए और अगर फिल्मों में जाना है तो मुझे यह कोर्स कर लेना चाहिए.

सवाल: काम पाने के लिए कितना स्ट्रगल करना पड़ा?

जवाब: स्ट्रगल तो काफी करना पड़ा और वह आज भी चल रहा है. पंकज कपूर जी को लेकर ‘धर्म’ बनाने वाली भावना तलवार की ‘हैप्पी’ मिली जिसमें मैंने पंकज जी जैसे बड़े कलाकार के साथ काम किया, लेकिन वह फिल्म रिलीज ही नहीं हो पाई. फिर ‘बिट्टू बॉस’ में एक अच्छा किरदार मिला. सुभाष घई जी ने ‘कांची’ में एक रोल दिया और उसके बाद ‘हंपटी शर्मा की दुल्हनिया’ मिली तो सारा खेल ही बदल गया.

सवाल: मगर ‘हंप्टी शर्मा की दुल्हनिया’ के बाद लग रहा था कि आप फिल्मों की लाइन लगा देंगे. ऐसा न हो पाने की क्या वजह है?

जवाब: लाइन तो लगी थी, उस फिल्म के बाद मेरे पास बहुत सारे ऑफर्स आए, लेकिन हर कोई मुझ से बस पोपलू जैसा ही किरदार करवाना चाहता था, जबकि मैंने आज से नहीं, बल्कि बहुत पहले से तय किया हुआ है कि मैं एक बार जो किरदार निभा लूंगा, दोबारा वैसा रोल नहीं करूंगा. ‘वेडिंग पुलाव’ मैं साईन करने ही वाला था लेकिन नहीं की. शाहरुख खान की ‘दिलवाले’ में वरुण शर्मा वाला किरदार पहले मुझे ही ऑफर हुआ था, लेकिन वह भी फिर दोहराव ही हो जाता.

सवाल: बद्रीनाथ की दुल्हनिया’ में क्या किरदार निभा रहे हैं?

जवाब: -इसमें भी मैं वरुण धवन का दोस्त बना हूं, लेकिन पिछली फिल्म में मैं निठल्ला था जबकि इसमें मैं एक वेबसाइट चलाता हूं ‘चुटकी में शादी डॉट कॉम’ और बद्री यानी वरुण की आलिया से शादी करवाने का जिम्मा इसने अपने ऊपर लिया हुआ है. बड़ा ही मजेदार कैरेक्टर है और यह पूरी फिल्म में वरुण को साधे रखता है.

सवाल: अपनी अगली फिल्म के बारे में बताएं?

जवाब: अब मैं यशराज की ‘बैंक चोर’ में नजर आऊंगा. यह एक फुलटू एंटरटेंनिंग फिल्म होगी, जिसमें रितेश देशमुख, विवेक ओबरॉय और मैं लीड रोल में हैं. इससे ज्यादा इस समय मैं नहीं बता पाऊंगा. जब आप यह फिल्म देखेंगे तो समझ जाएंगे कि मैं ऐसा क्यों कह रहा हूं.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर