सैंडलवुड कर्मियों को फ्रंटलाइन वर्कर का दर्जा देने पर विचार करेगी कर्नाटक सरकार

उपमुख्यमंत्री सी एन अश्वथ नारायण ने कहा कि फिल्म उद्योगमहामारी और लॉकडाउन के कारण बुरी तरह प्रभावित हुआ है.

उप मुख्यमंत्री सी एन अश्वथ नारायण ने रविवार को यह बात कही. उपमुख्यमंत्री सी एन अश्वथ नारायण ने कहा कि फिल्म उद्योग उन क्षेत्रों में से एक है, जो महामारी और उससे प्रेरित लॉकडाउन के कारण बुरी तरह प्रभावित हुआ है.

  • Share this:
    मुंबई. कर्नाटक सरकार इस बात की जांच करेगी कि क्या राज्य के फिल्म उद्योग यानी सैंडलवुड में COVID-19 महामारी की चपेट में आए कर्मचारियों को फ्रंटलाइन वर्कर माना जा सकता है और उन्हें टीकाकरण की सुविधा मिल सकती है. उप मुख्यमंत्री सी एन अश्वथ नारायण ने रविवार को यह बात कही. उपमुख्यमंत्री सी एन अश्वथ नारायण ने कहा कि फिल्म उद्योग उन क्षेत्रों में से एक है, जो महामारी और उससे प्रेरित लॉकडाउन के कारण बुरी तरह प्रभावित हुआ है.

    उन्होंने कहा कि, ‘फिल्म उद्योग मार्च 2020 से मुश्किलों में है और शूटिंग गतिविधियों पर प्रतिबंध और सिनेमाघरों के बंद होने के कारण उनका संकट जारी है. संगठनों और दानदाताओं को इस समय उदारता से आगे आना चाहिए ताकि फिल्म कलाकारों को उनकी दुर्दशा को देखते हुए मदद मिल सके.’

    कोरोना वायरस का कहर जारी है. 'शक्ति' फेम रुबीना दिलैक के बाद अब इसकी चपेट में एक्ट्रेस जिज्ञासा सिंह आ गई हैं. शो 'शक्ति अस्तित्व के एहसास की' में हीर का किरदार निभाती हैं. जिज्ञासा सिंह ने इस बात की जानकारी सोशल मीडिया के जरिए दी है. वहीं, बॉलीवुड एक्टर संजय कपूर स्टारर वेब सीरीज ‘द लास्ट आवर’ (The Last Hour) हाल ही में अमेजॉन प्राइम वीडियो पर रिलीज हुई है. इस सीरीज को लोग पसंद कर रहे हैं. IMDb ने द्वारा दी जाने वाली रेटिंग की बात करें तो संजय कपूर की सीरीज को 10 में से 8 रेटिंग मिली हैं. वहीं, सलमान खान की ‘राधे’ को IMDb ने केवल 2.5 रेटिंग ही दी थी.