जैब भट्ट का गाना 'याद जाए न' टी सीरीज ने किया रिलीज, शहीद माल्या ने दी है अपनी आवाज

साथ में एक्ट्रेस कृति अग्रवाल भी गाने की खूबसूरती को बढ़ाते हुए नजर आ रही हैं.

साथ में एक्ट्रेस कृति अग्रवाल भी गाने की खूबसूरती को बढ़ाते हुए नजर आ रही हैं.

जैब भट्ट के इस नए गाने 'याद जाए न' को गाया है मशहूर सिंगर शहीद माल्या ने, जबकि म्यूजिक राज सेन का है. सह निर्माता चन्दन सेठी, लिरिक्स निरंजन कुमार का है. डायरेक्टर संजीव कुमार राजपूत हैं.

  • Share this:

मुंबई. बॉलीवुड को जैब भट्ट के रूप में जम्मू कश्मीर से एक और नया टैलेंटेड चेहरा मिलने जा रहा है, जिनका न्यू सॉन्ग 'याद जाए न' शनिवार को टी सीरिज ने रिलीज कर दिया है. इस गाने को रिलीज के साथ ही जमकर व्यूज मिल रहे हैं. जैब के साथ इस गाने में आष्टा अभय नजर आ रही हैं. दोनों की जोड़ी इसमें कमाल की है और लोग उसे खूब पसंद भी कर रहे हैं. साथ में एक्ट्रेस कृति अग्रवाल भी गाने की खूबसूरती को बढ़ाते हुए नजर आ रही हैं.

जैब के इस नए गाने 'याद जाए न' को गाया है मशहूर सिंगर शहीद माल्या ने, जबकि म्यूजिक राज सेन का है. सह निर्माता चन्दन सेठी, लिरिक्स निरंजन कुमार का है. डायरेक्टर संजीव कुमार राजपूत हैं. प्रोजेक्ट इम्तियाज़ भट्ट का है, जो जैब भट्ट के पिता भी हैं और वे वेव फिल्म प्रोडक्शन के ओनर हैं. गाना 'याद जाए न' का फर्स्ट लुक भी बेहद आकर्षक था, जिसको लेकर गाने के प्रति दर्शकों में पहले से ही उत्सुकता थी. आज रिलीज के बाद यह गाना दर्शकों को बेहद पसंद आ रहा है.

बॉलीवुड एक्टर रणदीप हुड्डा इन दिनों अपने एक पुराने वीडियो को लेकर चर्चा में बने हुए हैं. इस वीडियो के वायरल होने के बाद उन्हें रणदीप हुड्डा को संयुक्त राष्ट्र की जंगली जानवरों की प्रवासी प्रजातियों के संरक्षण संबंधी संधि (सीएमएस) के राजदूत (एंबेसडर) के पद से हटा दिया गया है. उन्हें पिछले साल फरवरी 2020 में तीन साल के लिए राजदूत नियुक्त किया गया था. वहीं, अरिजीत सिंह ने ग्रामीण भारत के सपॉर्ट में कोविड राहत के लिए धन जुटाने के लिए अपने 'सोशल फॉर गुड' पहल और 'गिव इंडिया' के जरिए फेसबुक के साथ कोलाब्रेशन किया है. यह पहली बार है कि जब अरिजीत सिंह एक लाइव फंडरेजर को होस्ट कर रहे हैं और 'ग्रामीण भारत को सांस लेने और सुरक्षित रहने में मदद करना' अभियान के जरिए छोटे शहरों और गावों में महामारी से प्रभावित लोगों को ऑक्सीजन उपकरण, बेड, दवाएं, भोजन और वित्तीय सहायत जैसी आवश्यक चीजें उपलब्ध कराना चाहते हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज