Home /News /entertainment /

Film Review: क्राइम, ड्रामा और कॉमेडी का बेहतरीन मेल है 'थ्री बिलबोर्ड्स आउटसाइड एबिंग, मिजुरी'

थ्री बिलबोर्ड्स आउटसाइड एबिंग, मिजुरी
थ्री बिलबोर्ड्स आउटसाइड एबिंग, मिजुरी
4/5
पर्दे पर:23 फरवरी 2018
डायरेक्टर : मार्टिन मेकडोनाह
संगीत : कार्टर बरवेल
कलाकार : फ्रांसेस मेसडोर्मंड, सैम रॉकवेल, वूडी हरेलसन
शैली : क्राइम, ड्रामा
यूजर रेटिंग :
0/5
Rate this movie

Film Review: क्राइम, ड्रामा और कॉमेडी का बेहतरीन मेल है 'थ्री बिलबोर्ड्स आउटसाइड एबिंग, मिजुरी'

जानिए कैसी है ये फिल्म

जानिए कैसी है ये फिल्म

थ्री बिलबोर्ड्स आउटसाइड एबिंग, मिजुरी: यह कहानी है एक मां की जो अपनी बेटी के मर्डर की गुत्थी को सुलझाने में लगी है. इसके लिए वो अकेले ही सभी नियम कायदों को चैलेंज कर देती है.

    विवेक शाह:

    प्लाट:

    थ्री बिलबोर्ड्स आउटसाइड एबिंग, मिजुरी: यह कहानी है एक मां की जो अपनी बेटी के मर्डर की गुत्थी को सुलझाने में लगी है. इसके लिए वो अकेले ही सभी नियम कायदों को चैलेंज कर देती है.

    रिव्यू:

    मार्टिन मेकडोनाह (जिन्हें इन ब्रूज के लिए जाना जाता है) द्वारा डायरेक्ट की गई यह फिल्म एक डार्क ड्रामा है जो उनकी पिछली फिल्म से भी ज्यादा हकीकत के करीब है. इस फिल्म की थीम ही गुस्सा और सुलह है जो आपको बहुत अन्दर तक हिला देती है. एक बहुत सिंपल सी कहानी के साथ इस फिल्म में डिटेल्स पर खासा काम किया गया है. यह फिल्म आपको शुरू से अंत तक बांधे ही रहती है.

    इस फिल्म का प्लाट बहुत हटके है, रहस्यमयी है और इतना दिलचस्प है कि आपको हर पल कुछ नया गेस करते रहने पर मजबूर कर देता है. साथ ही इससे आपका समय भी बहुत अच्छा बीतता है. अपनी बेमिसाल कहानी, के साथ ही इस फिल्म का स्क्रीनप्ले एक से एक शानदार डायलॉग्स से भरा हुआ है. इसमें एक भी लाइन गलत तरह से इस्तेमाल की गई नहीं लगती. साथ ही हर किरदार बहुत बखूबी लिखा गया. यानी फिल्म की सभी बेसिक बातें- स्क्रिप्ट, स्क्रीनप्ले, बैकग्राउंड म्यूजिक और सिनेमेटोग्राफी इस फिल्म को अलग ही लेवल का बनाती हैं.

    मेकडोनाह की बाकी फिल्मों की ही तरह 'थ्री बिलबोर्ड्स आउटसाइड एबिंग, मिजुरी' में दर्शकों को भावात्मक रूप से जोड़ने की कोशिश नहीं करती, बल्कि तीखी और साफ भाषा में, हिंसा से भरे सीन्स और पागलपन से भरे किरदारों की फिल्म है.

    इस फिल्म में मुझे जो बात सबसे ज्यादा पसंद आई वो है कि इस दर्दभरी फिल्म का अंत बहुत शानदार है. असल जिंदगी में ऐसा कहानियों का कोई अंत नहीं होता, जहां रेप, मर्डर या इस तरह की कोई हिंसा होती है. कुल मिलाकर, 'थ्री बिलबोर्ड्स आउटसाइड एबिंग, मिजुरी' एक कमाल की फिल्म है.

    एक्टिंग और तकनीक:

    एक्ट्रेस फ्रांसेस मेसडोर्मंड इस फिल्म में मिल्ड्रेड हेस नाम की एक दुखभरी और फ्रस्टेट हो चुकी मां बनी हैं. उनकी एक्टिंग इतनी कमाल की है कि उन्हें बेस्ट एक्ट्रेस के लिए ऑस्कर में नॉमिनेट भी किया गया है.

    वो अपनी आंखों और चेहरे पर दुख लिए हुए कमाल का ह्यूमर करती हैं. सैम रॉकवेल फिल्म में ऑफिसर डिक्सन के किरदार में और वूडी हरेलसन फिल्म में पुलिस चीफ विलियम विलबाय के किरदार में टक्कर की परफॉरमेंस देते नजर आए हैं.

    फिल्म में लाल रौशनी का प्रयोग बहुत किया गया है, जिसे हम प्यार और मौत से जोड़ते हैं. साथ ही यहां बैकग्राउंड में असली तीन बिलबोर्ड्स का प्रयोग फिल्म को रियलिटी का टच देता है. फिल्म की सिनेमेटोग्राफी कमाल की है, खासकर वहां जहां वाइड एंगल शॉर्ट्स फिल्माए गए हैं.

    कुल मिलाकर:

    कुल मिलाकर यह फिल्म आपके फिल्मी साल की शुरुआत करने का एक नायाब जरिया हो सकती है. मार्टिन मेकडोनाह ने एकबार फिर साबित कर दिया कि ड्रामा और कॉमेडी का ऐसा संगम उनके अलावा कोई नहीं बना सकता.

    डिटेल्ड रेटिंग

    कहानी:
    3.5/5
    स्क्रिनप्ल:
    4/5
    डायरेक्शन:
    4/5
    संगीत:
    4/5

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर