Solo: A Star Wars Story Movie Review : स्टार वॉर के फॉलोअर्स के लिए मस्ट वॉच है सोलो

सोलो के बारे में जो सबसे खास बात है वो ये कि इस फिल्म को आप क्लासिक स्टार वॉर्स के करीब पाएंगे.

News18Hindi
Updated: May 25, 2018, 10:20 AM IST
Solo: A Star Wars Story Movie Review : स्टार वॉर के फॉलोअर्स के लिए मस्ट वॉच है सोलो
फिल्म 'Solo: A Star Wars Story' का पोस्टर.
News18Hindi
Updated: May 25, 2018, 10:20 AM IST
विवेक शाह




स्टार वॉर फिल्मों की फ्रेंचाइजी से अलग इस कड़ी में एक नई फिल्म आई है इसका नाम है 'सोलो – अ स्टार वॉर स्टोरी'. एक कहानी जिसमें हैन सोलो जुर्म की दुनिया में घूम रहा है और अपनी इस यात्रा में भविष्य में अपने सबसे विश्वसनीय साथी और को पायलट च्युबाका से उनकी मुलाकात होती है.

स्टार वॉर्स की पिछली फिल्म 6 महीने पहले रिलीज़ हुई थी जिसका नाम था ‘द लास्ट जेडी’. अब इस फिल्म का एक स्पिन ऑफ सीरीज शुरू हो चुकी है जिसका पहला भाग था “रोग वन” जो 2016 में रिलीज हुआ था. स्टार वॉर देखने वाले नए दर्शकों के लिए ये थोड़ा परेशान करने वाला हो सकता है लेकिन इस फिल्म फ्रेंचाइजी के फैन्स के बीच इस नई फिल्म को लेकर गजब की एक्साइटमेंट है.

निर्देशक रॉन हॉवर्ड और स्क्रिप्ट राइटर लॉरेंस और जोनाथन कासदान की लिखी इस फिल्म में स्टार वॉर के एपिसोड 3 के बाद की घटनाओं को दिखाया गया है. साल 2005 में आई 'स्टार वॉर एपिसोड 3 – रिवेंड ऑफ द सिथ' और 'रोग वन' के बीच की घटनाओं को इस फिल्म में दिखाया गया है. स्टार वॉर की फिल्म 'राइज ऑफ दि एंपायर' के बाद ये पहली फिल्म है जो इन फिल्मों की टाइमलाइन के साथ मैच करती है. वर्ना निर्माता स्टार वॉर फिल्मों को इतना आगे पीछे घुमा चुके हैं कि नए दर्शकों के लिए इस फिल्म को समझना वाकई मुश्किल हो गया है.

इस फिल्म की कास्ट ने कमाल का काम किया है. बेटनी और हैरलसन अपने अपने किरदार में जमें है. सोलो के बारे में जो सबसे खास बात है वो ये कि इस फिल्म को आप क्लासिक स्टार वॉर्स के करीब पाएंगे. दर्शकों को स्टार वॉर की नई फिल्मों से यही शिकायत रही है कि वो पुरानी फिल्मों को पीछे छोड़ देती है लेकिन इस बार निर्माता ने इस बात का खास ख्याल रखा है और शायद ‘द फोर्स अवेकन’ और ‘द लास्ट जेडी’ से ज्यादा स्टार वॉर आप इस फिल्म में पाएंगे.

सोलो के सवांद छोटे और तेज हैं और एक्शन सीकवेंस मजा देते हैं. जॉन पॉवेल का संगीत इस फिल्म में जान डालता है और जॉन विलियम्स की पुरानी धुनों का इस्तेमाल इसे नॉस्टैलिजिया से भर देता है. फिल्म कहीं कहीं थोड़ी डार्क हो जाती है लेकिन आजकल की एवेंजर्स फिल्मों के सामने इसे खड़ा रखने के लिए इस डार्क टेस्ट को बनाए रखना जरूरी भी है.

इस फिल्म में सबकुछ है जो आपको अच्छा लगेगा लेकिन आपको ध्यान रखना होगा. अगर आपने इससे पहले स्टार वॉर सीरीज़ को फॉलो नहीं किया है तो ये फिल्म आपके लिए किसी काम की नहीं है. हमारी सलाह है कि आप पहले स्टार वॉर सीरीज के बारे में थोड़ी सी जानकारी जुटा लें और फिर इस फिल्म को देखने जाएं. इस फिल्म को हमारी ओर से 5 में से 3 स्टार.

पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर