HBD: एक्टर नहीं, सैनिक बनना चहते थे माधवन; ब्रिटिश आर्मी, रॉयल नेवी और रॉयल एयरफोर्स के साथ ली है ट्रेनिंग!

आर माधवन ने कई बार सैनिक का किरदार निभाया है जो काफी लोकप्रिय हुए हैं.

आर माधवन ने कई बार सैनिक का किरदार निभाया है जो काफी लोकप्रिय हुए हैं.

Happy Birthday R Madhavan: आज दिग्गज एक्टर आर माधवन (R Madhavan) का बर्थडे (R Madhavan Birthday) है. एक्टिंग में अपना करियर बनाने से पहले माधवन (Madhavan) आर्मी में (Army) जाना चाहते थे. वो कॉलेज के दिनों में एनसीसी कैडेट (NCC Cadet) थे. जानिए एक्टिंग से पहले के उनके सफर के बारे में.

  • Share this:

भारत के सुपरस्टार आर मधवन (R Madhavan) किसी पहचान के मोहताज नहीं हैं. यूं तो उन्होंने तमिल फिल्मों (R Madhavan Tamil Films) में ज्यादा काम किया है मगर उनकी बॉलीवुड फिल्मों (R Madhavan Bollywood Films) ने भी तहलका मचाया है. इसलिए माधवन (Madhavan) को पैन इंडिया स्टार भी कहा जाता है. आज आर माधवन अपना 51वां जन्मदिन (R Madhavan Birthday) मना रहे हैं. उनके बर्थडे पर फैंस उन्हें ढेर सारी बधाई दे रहे हैं. माधवन को लोग उनके दमदार किरदारों के लिए जानते हैं. तमिल फिल्मों में ही नहीं, बॉलीवुड में भी उन्होंने एक से एक दमदार किरदारों को निभाया है. लेकिन क्या आप जानते हैं कि आर माधवन का सपना एक्टर बनने का नहीं था.

ब्रिटिश आर्मी के साथ माधवन ने की है ट्रेनिंग

जी हां, आपने सही पढ़ा. दिग्गज अभिनेता आर माधवन अपने शुरुआती दिनों में एक्टर नहीं बनना चाहते थे. उनकी करियर की पहली चॉइस एक्टिंग नहीं थी. कॉलेज के दिनों में वो मिलिट्री ट्रेनिंग के बहुत शौकीन थे. 22 साल की उम्र में उन्हें महाराष्ट्र की सर्वश्रेष्ठ एनसीसी केडिट्स की लिस्ट में शामिल किया गया था. उनकी इस उपलब्धि के चलते उन्हें 7 अन्य एनसीसी कैडेट्स के साथ इंग्लैड भेजा गया था. इस यात्रा के दौरान उनकी ट्रेनिंग ब्रिटिश आर्मी, रॉयल नेवी और रॉयल एयर फोर्स के साथ हुई थी. रिपोर्ट्स की मानें तो आर माधवन फोर्स को भी जॉइन करना चाहते थे. मगर उनकी उम्र 6 महीने अधिक थी इसलिए वो इस प्रोग्राम को जॉइन नहीं कर पाए. माधवन का सेना के लिए प्रेम उनके किरदारों में भी नजर आया है. 'सी हॉक', 'आरोहड़' जैसे टीवी शोज में उन्होंने जहां नेवी अफसर का किरदार निभाया वहीं 'सिकंदर', 'रंग दे बसंती' जैसी फिल्मों में उन्होंने एयरफोर्स और आर्मी के जवान का भी किरदार निभाया है.

R Madhavan
(बाईं ओर माधवन के टीवी शो सी हॉक की फोटो; दाईं ओर माधवन की एनसीसी के दिनों की पुरानी फोटो)

एक्टिंग से पहले सिखाते थे पब्लिक स्पीकिंग के गुण

इसके बाद माधवन ने टीचर के तौर पर अपने करियर की शुरुआत की. कोल्हापुर में उन्होंने पब्लिक स्पीकिंग और पर्सनैलिटी डेवलपमेंट पर लोगों को ट्रेन करना शुरू किया. इस दौरान उन्होंने पब्लिक स्पीकिंग में एक इंडियन चैम्पियनशिप भी जीती और इसके बाद उन्होंने 1992 में टोक्यो में हुई यंग बिजनेसमैन कॉन्फ्रेंस में भारत को रीप्रेजेंट किया. इसके कुछ वक्त बात उन्होंने मुंबई में मॉडलिंग में भी अपना हाथ आजमाया. उन्हें अपने पोर्टफोलियो के दम पर कई विज्ञापन भी मिलने लगे. यहीं से उनके फिल्मी करियर की शुरुआत हुई और इसके बाद उन्होंने इतिहास रच दिया. इसी साल आर माधवन की तमिल फिल्म 'मारा' (Maara) रिलीज हुई जिसे बहुत अच्छा रिस्पॉन्स मिला. इसके साथ ही उनकी फिल्म 'रॉकेट्री: द नांबी इफेक्ट' (Rocketry: The Nambi Effect) भी रिलीज होने वाली हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज