Home /News /entertainment /

जाट आंदालेन: मृतकों के परिजनों को 10 लाख और नौकरी

जाट आंदालेन: मृतकों के परिजनों को 10 लाख और नौकरी

जाट आंदोलन में मरने वाले लोगों के परिजनों को 10 लाख रुपए का मुआवजा और परिवार के एक सदस्य को नौकरी दी जाएगी. साथ ही किसी के भी खिलाफ झूठा मामला नहीं दर्ज किया जाएगा.

जाट आंदोलन में मरने वाले लोगों के परिजनों को 10 लाख रुपए का मुआवजा और परिवार के एक सदस्य को नौकरी दी जाएगी. साथ ही किसी के भी खिलाफ झूठा मामला नहीं दर्ज किया जाएगा.

जाट आंदोलन में मरने वाले लोगों के परिजनों को 10 लाख रुपए का मुआवजा और परिवार के एक सदस्य को नौकरी दी जाएगी. साथ ही किसी के भी खिलाफ झूठा मामला नहीं दर्ज किया जाएगा.

    हरियाणा सरकार ने जाट आरक्षण को लेकर चल रहे आंदोलन में मारे गए लोगों के आश्रितों को 10-10 लाख रुपए की आर्थिक सहायता राशि और पीड़ित परिवार के एक सदस्य को नौकरी देने का निर्णय लिया है. इसके अलावा किसी के भी विरूद्ध झूठे मुकदमे दर्ज नहीं करने का भी फैसला लिया है.यह जानकारी यहां हरियाणा के संसदीय कार्य मंत्री रामबिलास शर्मा ने दी. संसदीय कार्य मंत्री रामविलास शर्मा ने चंडीगढ़ में कहा कि राज्य सरकार ने जाट आंदोलन में वाणिज्यिक और आवासीय संपत्तियों को हुए नुकसान के लिए पूर्ण मुआवजा देने का फैसला किया है. उन्होंने बताया कि मौजूदा आंदोलन में मरने वाले लोगों के परिजनों को 10 लाख रुपए का मुआवजा और परिवार के एक सदस्य को नौकरी दी जाएगी. साथ ही किसी के भी खिलाफ झूठा मामला नहीं दर्ज किया जाएगा. शर्मा ने कहा कि सरकार आगामी विधानसभा सत्र में जाटों को आरक्षण देने के लिए एक विधेयक लाएगी. शर्मा ने कहा कि 19 फरवरी को मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर द्वारा बुलाई गई सर्वदलिय बैठक में मुख्यमंत्री ने पहले ही अपना प्रस्ताव रखा था और प्रारूप बिल के प्रावधानों पर एकमत होने की बात कही थी.

    Tags: Jat reservation, हरियाणा

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर