बिना गॉडफादर के कंगना रनौत ने किया बहुत स्ट्रगल, जानिए उन्होंने क्या-क्या बताया

कंगना रनौत (फाइल फोटो)
कंगना रनौत (फाइल फोटो)

कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने एक इंटरव्यू में बताया कि, उन्होंने वे दिन भी देखे हैं जब उनके पास अवॉर्ड शो में जाने के लिए पहनने लायक अच्छे ब्रांड के कपड़े नहीं थे.

  • Share this:
नई दिल्ली. बॉलीवुड में अपनी अदाकारी के साथ-साथ अपने तीखे बयानों के लिए यदि कोई जाना जाता है तो वो हैं कंगना रनौत (Kangana Ranaut). उन्होंने अपने संघर्षों के बदौलत बॉलीवुड में अपनी अलग पहचान बनाई है. कंगना ने हाल ही में दिए एक इंटरव्यू में बताया था, ‘उनके एक एक्स ने उन पर 'गोल्ड डिगर' होने का आरोप लगाया था. उसी वक्त उन्होंने लोगों को गलत साबित करने के लिए 50 की उम्र तक देश के सबसे अमीर लोगों में अपना नाम शामिल करने का फैसला किया था.' कंगना का कोई गॉडफादर नहीं है, इसलिए उन्हें इंडस्ट्री में बहुत संघर्ष करना पड़ा.

अवॉर्ड फंक्शन में जाने के लिए पहनने लायक नहीं थे कपड़े
पिंकविला को दिए गए एक इंटरव्यू में कंगना ने कहा था, ‘एक्स के कमेंट के बाद कंगना ने फैसला कर लिया कि जब वह 50 साल की होंगी तब तक उनके पास बेस्ट घर और बेस्ट ऑफिस होगा.' उन्होंने इंटरव्यू में बताया कि डेब्यू फिल्म 'गैंगस्टर' के बाद उन्हें अवॉर्ड फंक्शन में जाना था, लेकिन उनके पास अच्छे कपड़े नहीं थे न ही अच्छे कपड़े खरीदने के लिए उनके पास पैसे थे.

फैशन डिजाइनर दोस्त ने की थी मदद
कंगना ने बताया कि, उनके फैशन डिजाइनर दोस्त रिकी रॉय, उनके लिए गाउन बनाते थे और वे हैरान होती थीं कि वे पैसे कहां से ला रहे हैं, लेकिन खुशी थी कि कोई तो मदद करने के लिए आगे आया. अगर उन्होंने मदद नहीं की होती तो मैं अवॉर्ड फंक्शन में नहीं जा पाती? मेरे पास बड़े ब्रांड के कपड़े नहीं थे. मैं तब 'मैंगो' के टॉप पहनती थीं, वही मेरे लिए ब्रांड थे. उस वक्त मैं वही अफोर्ड कर सकती थी.



नेपोटिज्म के खिलाफ सबसे मुखर हैं कंगना
सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या के बाद से फिल्म इंडस्ट्री के अंदर से भेदभाव से लेकर भाई-भतीजावाद, बाहरी और फिल्म इंडस्ट्री का, फिल्म इंडस्ट्री के बड़े परिवार या किसी गॉडफादर से जुड़ा होने और बिना गॉडफादर के संघर्ष करने वाले जैसे सवाल उठाए जा रहे हैं. ऐसे सवाल अभिनव सिंह कश्यप, कोएना मित्रा, अनुभव सिन्हा (Anubhav Sinha), निर्माता निखिल द्विवेदी के साथ हेयर स्टाइलिस्ट सपना मोती भवनानी और खेल जगत की बबीता फोगाट जैसे तमाम लोगों ने उठाए हैं, लेकिन इन लोगों में से सबसे मुखर आवाज कंगना रनौत की है.

अभिनव के अलावा शेखर कपूर जैसे फिल्म डायरेक्टर और कई राजनेताओं ने भी सुशांत सिंह राजपूत को प्रोफेशनल तौर पर परेशान किए जाने के आरोप लगाए हैं. अनुपम खेर, कंगना रनौत, विवेक ओबेरॉय, साहिल खान जैसे कई एक्टर्स इंडस्ट्री में अपने स्ट्रगल की कहानी बता चुके हैं. कांग्रेस नेता संजय निरूपम ने भी ट्वीट करके आरोप लगाया था कि छिछोरे के बाद से सुशांत सिंह राजपूत से 6 या 7 फिल्में छीन ली गईं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज