Home /News /entertainment /

mahesh babu plhf to facilitate treatment for poor kids with congenital heart diseases bhojpuri south mogi

गरीब बच्चों के लिए देवदूत से कम नहीं Mahesh Babu, एक्टर का फाउंडेशन बचा रहा जन्मजात बीमार मासूमों की जिंदगियां

गरीब बच्चों का सालों से इलाज करा रहे महेश बााबू

गरीब बच्चों का सालों से इलाज करा रहे महेश बााबू

महेश बाबू (Mahesh Babu) का फाउंडेशन अब एक नेक पहल के लिए रेनबो चिल्ड्रन हार्ट इंस्टीट्यूट (RCHI) के साथ जुड़ चुका है. इससे पहले उन्होंने अपने फाउंडेशन के माध्यम से आंध्र अस्पतालों के माध्यम से 1,000 से अधिक बच्चों के दिल के ऑपरेशन की सुविधा प्रदान की है.

अधिक पढ़ें ...

सुपरस्टार महेश बाबू (Mahesh Babu) अपने अभिनय के जरिए तो करोड़ों दर्शकों के दिलों पर राज करते हैं लेकिन वे एक नेक दिल इंसान भी हैं. तेलुगू सिनेमा की सबसे सम्मानित हस्तियों में से एक महेश बाबू अक्सर चैरिटी कार्यों से जुड़े रहते हैं. 3 बच्चों के पिता बन चुका ये सुपरस्टार गरीब और अनाथ बच्चों से भी बहुत प्यार करते हैं. यही वजह है कि जरूरत पड़ने पर वे लाचार मासूमों का भी बहुत ख्याल रखते हैं. उनका फाउंडेशन सक्रिय रूप से बच्चों की चिकित्सा जरूरतों को पूरा कर रहा है. बता दें कि बच्चों की सेवा के लिए वे बेस्ट अस्पतालों में से एक रेनबो हॉस्पिटल्स आंध्रा हॉस्पिटल्स से जुड़े हैं.

महेश बाबू ने गरीब बीमार बच्चों के लिए लॉन्च किया PLHF
महेश बाबू का फाउंडेशन अब एक नेक पहल के लिए रेनबो चिल्ड्रन हार्ट इंस्टीट्यूट (RCHI) के साथ जुड़ चुका है. अभिनेता ने बच्चों की कार्डियक केयर के लिए आरसीएचआई में प्योर लिटिल हार्ट्स फाउंडेशन (PLHF) लॉन्च किया है. इस पहल के हिस्से के रूप में जन्मजात हृदय रोगों (congenital heart diseases) वाले आर्थिक रूप से कमजोर बच्चों का इलाज महेश बाबू फाउंडेशन के माध्यम से PLHF में किया जाएगा.

गरीब बच्चों की जिंदगी बचाने के लिए नई पहल से जुड़े महेश बाबू
भारत में जन्मजात हृदय रोग प्रत्येक 1000 जन्मों में से 10 हैं, इसलिए हर साल 200,000 से अधिक बच्चे इसी बीमारी के साथ पैदा होते हैं. इनमें से लगभग एक-पांचवें शिशुओं में गंभीर जन्म दोष (serious birth defect) होने की संभावना होती है, जिसके लिए पहले साल के दौरान हस्तक्षेप (intervention) की आवश्यकता होती है. ऐसे अधिकांश बच्चों के परिवार उनकी सही तरीके से देखभाल का खर्च वहन करने में असमर्थ होते हैं, जिससे उनकी मौत हो जाती है. इसी को ध्यान में रखते हुए महेश बाबू ने अपने फाउंडेशन के साथ मिलकर रेनबो चिल्ड्रन हार्ट इंस्टीट्यूट इस तरह प्योर लिटिल हार्ट्स फाउंडेशन (Pure Little Hearts Foundation) की शुरुआत की है.

महेश बाबू फाउंडेशन ने 1,000 से अधिक बच्चों का कराया ऑपरेशन
प्योर लिटिल हार्ट्स फाउंडेशन के लॉन्च पर बोलते हुए, महेश बाबू ने कहा, ‘मैं प्योर लिटिल हार्ट्स फाउंडेशन को लॉन्च करने के लिए बहुत खुश हूं. बच्चे हमेशा मेरे दिल के करीब रहे हैं, मुझे उन बच्चों का समर्थन करने में खुशी हो रही है और लिटिल हार्ट्स सबसे बड़ी केयर के हकदार हैं.’ महेश बाबू बीमार बच्चों को बचाने वाले लोगों में हमेशा आगे रहे हैं. उन्होंने अपने फाउंडेशन के माध्यम से आंध्र अस्पतालों के माध्यम से 1,000 से अधिक बच्चों के दिल के ऑपरेशन की सुविधा प्रदान की है. इस बीच, वे हील ए चाइल्ड फाउंडेशन से जुड़े हैं जो उन बच्चों का समर्थन करता है जिनके पास कोई वित्तीय सहायता नहीं है और वे चिकित्सा खर्च नहीं उठा सकते हैं.

ग्रावों को गोद लेकर दी सुविधाएं
इतना ही नहीं महेश बाबू ने आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में बुरिपालेम और सिद्धपुरम गांवों को भी गोद लिया था. उन्होंने स्वास्थ्य और स्वच्छता कार्यक्रमों में मदद करके और अपने फाउंडेशन के माध्यम से उन इलाकों में सामाजिक जागरूकता पैदा करने में योगदान दिया है. उन्होंने इन गांवों में बस शेल्टर, शौचालय, क्लारूम का निर्माण और बेसिक स्कूल इंफ्रास्ट्रक्चर जैसी कई कार्य किए हैं.

Tags: Mahesh Babu, South indian actor

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर