राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित मलयालम स्क्रीनप्ले राइटर-अभिनेता Madampu Kunjukuttan का कोरोना से निधन!

Madampu Kunjukuttan को नेशनल अवॉर्ड से भी सम्मानित किया गया था.

Madampu Kunjukuttan को नेशनल अवॉर्ड से भी सम्मानित किया गया था.

मडंपू का असली नाम मडंपू संकरन नामबूथिरी (Madampu Sankaran Namboothiri) है. उनका जन्म 1941 में हुआ था. 'करुणम' फिल्म के लिए उन्हें बेस्ट स्क्रिप्ट का नेशनल अवॉर्ड मिल चुका है.

  • Share this:

मलयालम सिनेमा के दिग्गज स्क्रीनप्ले राइटर और अभिनेता मडंपू कुंजुकुट्टन (Madampu Kunjukuttan) का कोरोना के चलते निधन हो गया है. मडंपू 81 साल के थे. उनका त्रिसूर के एक अस्पताल में इलाज चल रहा था. वो कोरोना संक्रमित पाए गए थे जिसके बाद उन्हें तेज बुखार आया जब उन्हें अस्पताल में एडमिट किया गया. वो अपने पीछे अपने दो बेटियों- जेसिना और हसीना को छोड़ गए हैं. कुछ साल पहले उनकी पत्नी की मौत हो चुकी है.

मडंपू का असली नाम मडंपू संकरन नामबूथिरी (Madampu Sankaran Namboothiri) है. उनका जन्म 1941 में हुआ था. 'करुणम' फिल्म के लिए उन्हें बेस्ट स्क्रिप्ट का नेशनल अवॉर्ड मिल चुका है. ये फिल्म साल 2000 में रिलीज हुई थी. फिल्म में उन्होंने अभिनय भी किया था. इसके अलावा उन्हें अशदोद इंटरनेशनल फिल्म अवॉर्ड में बेस्ट स्क्रीनप्ले के लिए भी नवाजा जा चुका है.

आपको बता दें कि मडंपू संस्कृत के बड़े जानकार थे. रिपोर्ट्स के अनुसार वो एक मंदिर के महंत भी रह चुके हैं और संस्कृत के गुरू भी थे. उन्होंने काफी साल पहले ऑल इंडिया रेडियो के लिए भी काम किया है. उनकी प्रमुख फिल्में हैं- 'Maargam', 'Kattu Vannu Vilichappol', 'Shantham', 'Agnisakshi', 'Purushardham', 'Aaram Thampuran', 'Utopyayile Rajavu', 'Chirakodinja Kinavukal', 'Adayalangal', 'Veeralipattu', 'Aanachandam', 'Vadakkumnadhan', 'Rasikan', 'Agninakshatram', और 'Ashwathama'.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज