Home /News /entertainment /

'एक्टर्स को गाना नहीं आए तो नहीं गाना चाहिए'

'एक्टर्स को गाना नहीं आए तो नहीं गाना चाहिए'

PIC : FACEBOOK

PIC : FACEBOOK

इन दिनों बॉलीवुड कलाकारों का फिल्मों में गीत गाना आम बात है, लेकिन प्लेबैक सिंगर नेहा भसीन का मानना है कि अभिनेताओं को फिल्मों में गीत तभी गाने चाहिए जब वे उनके साथ न्याय कर सकें.

  • Bhasha
  • Last Updated :
    इन दिनों बॉलीवुड कलाकारों का फिल्मों में गीत गाना आम बात है, लेकिन प्लेबैक सिंगर नेहा भसीन का मानना है कि अभिनेताओं को फिल्मों में गीत तभी गाने चाहिए जब वे उनके साथ न्याय कर सकें.

    फराहन अख्तर, श्रद्धा कपूर, आलिया भट्ट, परिणीति चोपड़ा, आयुष्मान खुराना जैसे कई सितारें फिल्मों में गीत गा चुके हैं.

    अभिनेताओं द्वारा फिल्मों में गीत गाए जाने से जुड़े सवाल के जवाब में नेहा ने कहा, ‘‘मैं किसी का अपमान नहीं करना चाहती. मैंने ‘ला ला लैंड..’ देखी, वह एक काफी सुंदर और जादुई फिल्म है. रेयान गोस्लिंग और एम स्टोन ने उसमें बेहतरीन गायकी की है. ’’

    उन्होंने कहा, ‘‘मेरे कहने का मतलब यह है कि अगर एक अभिनेता के रूप में आप अपने आपको गायक से बेहतर गीत गाने के लिए प्रशिक्षत कर सकते हैं तो जरूर गाएं लेकिन अगर आप ऐसा नहीं कर सकते तो आपको नहीं गाना चाहिए. ’’ ‘जग घूमेया’ की गायिका का मानना है कि गायन एक पवित्र कला है.

    सुपरस्टार सलमान खान ने एक बार कहा था कि आवाज में तकनीकी सुधार कर किसी की भी आवाज को सुरीला बनाया जा सकता है. इस पर नेहा ने कहा, ‘‘मैं खुश हूं कि उन्होंने इसका जिक्र किया. आजकल ऐसा हो रहा है. वे असली नहीं मशीनी आवाजें हैं. मुझे श्रोताओं के लिए बुरा लगता है. ’

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर