Home /News /entertainment /

एक कट के साथ 'उड़ता पंजाब' को रिलीज करें: बॉम्‍बे हाईकोर्ट

एक कट के साथ 'उड़ता पंजाब' को रिलीज करें: बॉम्‍बे हाईकोर्ट

फिल्म उड़ता पंजाब का पोस्टर

फिल्म उड़ता पंजाब का पोस्टर

फिल्‍म 'उड़ता पंजाब' महज एक कट के साथ रिलीज होगी. बॉम्‍बे हाईकोर्ट ने सोमवार को सेंसर बोर्ड को आदेश दिया कि फिल्‍म 'उड़ता पंजाब' को महज एक कट के साथ 48 घंटे के भीतर सर्टिफिकेट जारी करे. हालांकि हाईकोर्ट ने फिल्‍म को 'ए' सर्टिफिकेट जारी करने का आदेश दिया है.

अधिक पढ़ें ...
  • Pradesh18
  • Last Updated :
    फिल्‍म 'उड़ता पंजाब' महज एक कट के साथ रिलीज होगी. बॉम्‍बे हाईकोर्ट ने सोमवार को सेंसर बोर्ड को आदेश दिया कि फिल्‍म 'उड़ता पंजाब' को महज एक कट के साथ 48 घंटे के भीतर सर्टिफिकेट जारी करे. हालांकि हाईकोर्ट ने फिल्‍म को 'ए' सर्टिफिकेट जारी करने का आदेश दिया है.

    कोर्ट ने सेंसर बोर्ड को याद दिलाया अधिकार

    फैसला सुनाने से पहले हाईकोर्ट ने कहा कि फिल्‍म के टाइटल को लेकर कोई आपत्ति नहीं है. साथ ही सेंसर बोर्ड को उनका अधिकार भी याद दिलाया. कोर्ट ने कहा कि सीबीएफसी को कानून के हिसाब से फिल्मों को सेंसर करने का अधिकार नहीं है, क्योंकि सेंसर शब्द सिनेमाटोग्राफ अधिनियम में शामिल नहीं किया गया है.

    कोर्ट ने कहा कि हमें फिल्म में ऐसा कुछ नहीं मिला कि फिल्म में पंजाब को गलत दिखाया गया है या फिल्म में भारत की संप्रभुता को भी चुनौती नहीं दी गई है जैसा कि केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) में वर्णित है.

    मालूम हो कि सीबीएफसी के चेयरमैन पहलाज निहलानी ने रविवार को कहा था कि 13 कट के साथ फिल्म 'उड़ता पंजाब' को 'ए' सर्टिफिकेट जारी किया है. उन्‍होंने कहा था कि फिल्म से कुछ गंदे शब्दों को हटा गया है और 'ए' सर्टिफिकेट दिया गया है.

    निहलानी ने कहा था, 'बोर्ड के नियमों का पालन कर रहा हूं. नियमों पर ही चल रहा हूं. उड़ता पंजाब फिल्म में महज 10 सेकंड से कम के सिर्फ तीन सीन कट हुए हैं. बाकी कुछ शब्द म्यूट किए गए हैं. सेंसर बोर्ड पिछले डेढ़ साल में साढ़े तीन हजार फिल्में पास कर चुका है, जिनमें से 72 फीसदी बिना कट के पास कर दी गईं.'

    उन्होंने कहा, 'न तो मैंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के चमचे होने की बात कभी कही है. ये तो दूसरे लोग मुझसे कह रहे हैं. लोग तो कहते रहते हैं और लोगों का काम है कहना. मैं सबको सुन रहा हूं. हां, मैं पीएम मोदी के काम को पसंद करता हूं. इस बात को जो भी समझें, वो समझते रहें.

    निहलानी ने कहा, 'फिल्म उड़ता पंजाब को लेकर बेवजह विवाद खड़ा किया जा रहा है. सेंसर बोर्ड के नियम कानून पहले से बने हैं और जो लोग नए आए हैं, उन्हें तौर-तरीके नहीं पता है कि किस तरीके से काम होता है. अब इस पर कड़ाई की जा रही है. मेरे आने से पहले जो अपारदर्शी काम चलता था, वो पारदर्शितापूर्ण हो गया है. इसीलिए कुछ लोगों को तकलीफ हो रही है. फिल्म के नाम को लेकर मैंने कभी कुछ नहीं कहा. 'उड़ता पंजाब' नाम को लेकर आखिरी फैसला हाईकोर्ट का ही होगा.'

    Tags: Bombay high court, Udta Punjab

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर