Indian Idol 12: अमित कुमार की आलोचना पर अभिजीत सावंत का तंज- एपिसोड टेलीकास्ट होने के बाद...

अभिजीत सावंत ने इंडियन आइडल पर अमित कुमार के बयान पर प्रतिक्रिया दी है.

अभिजीत सावंत ने इंडियन आइडल पर अमित कुमार के बयान पर प्रतिक्रिया दी है.

इंडियन आइडल 12 (Indial Idol 12) का एपिसोड किशोर कुमार (Kishore Kumar) को समर्पित था. एपिसोड टेलीकास्ट होने के बाद अमित कुमार (Amit Kumar) ने भी शो पर तंज कसा था और कहा कि उन्हें मेकर्स द्वारा कंटेस्टेंट्स की तारीफ करने के लिए कहा गया था. जबकि, उन्हें कंटेस्टेंट के गाए गाने बिलकुल पसंद नहीं आए.

  • Share this:

मुंबईः सिंगिंग रियेलिटी शो इंडियन आइडल 12 (Indial Idol 12) इन दिनों जबरदस्त सुर्खियों में है. हाल ही में शो के पहले सीजन के विजेता अभिजीत सावंत (Abhijeet Sawant) ने शो को लेकर नाराजगी जाहिर की थी और टेलेंट से ज्यादा गरीबी दिखाने की बात कही थी. वहीं बीते दिनों किशोर कुमार (Kishore Kumar) के बेटे अमित कुमार (Amit Kumar) ने इंडियन आइडल 12 में हिस्सा लिया था. यह एपिसोड किशोर कुमार को समर्पित था.

सोशल मीडिया पर उड़े एपिसोड के मजाक के बाद अमित कुमार ने भी शो पर तंज कसा था और कहा कि उन्हें मेकर्स द्वारा कंटेस्टेंट्स की तारीफ करने के लिए कहा गया था. जबकि, उन्हें कंटेस्टेंट के गाए गाने बिलकुल पसंद नहीं आए. अमित कुमार के इस बयान पर अब अभिजीत सावंत ने प्रतिक्रिया दी है.

एक इंटरव्यू में अभिजीत सावंत ने कहा कि 'अगर अमित कुमार को शो पसंद नहीं आया, तो उन्हें तभी ये बात बोलनी चाहिए थी और बताना था कि उन्हें कंटेस्टेंट्स की गायकी पसंद नहीं आई. एपिसोड टेलीकास्ट होने के बाद उन्हें यह नहीं बोलना चाहिए कि उन्हें गायकी पसंद नहीं आई.'



उन्होंने आगे कहा- 'मुझे लगता है कि अगर अमित जी ने पहले ही कहा होता कि उन्हें शो का कंटेंट या कंटेस्टेंट की गायकी पसंद नहीं आई. गायन और कंटेंट को बेहतर किया जा सकता है तो मुझे यकीन है कि क्रिएटिव टीम उनकी बात पर ध्यान देती. वह देश के प्रसिद्ध सिंगर्स में से हैं और ऐसी स्थिति में हैं, जहां वह निर्माताओं को बता सकते हैं कि उन्हें क्या लगता है. मुझे नहीं लगता कि एपिसोड टेलिकास्ट होने के बाद ये कहना सही है.'

'कई युवा और संगीत प्रेमी ये शो देखते हैं. वह इन लेजेंड्री सिंगर्स को अपना भगवान मानते हैं. इसलिए यह हमारी जिम्मेदारी बन जाती है कि अगर हम कभी भी किसी शो में अतिथि के रूप में जाते हैं तो हमें अपने काम के प्रति ईमानदार होना चाहिए और वही कहना चाहिए जो हम महसूस करते हैं.'

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज