कभी बैंक में कैशियर थे CID के SP प्रद्युमन, थियेटर ने बदल दी शिवाजी साटम की जिंदगी

शिवाजी साटम

शिवाजी साटम

शिवाजी साटम (Shivaji Satam) ने कई हिंदी और मराठी फिल्मों और टीवी शो में भी काम किया है. मनोरंजन जगत में जाने से पहले शिवाजी साटम सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया में कैशियर के रूप में काम करते थे. लेकिन, शुरुआत से ही उनका थियेटर की ओर रुझान था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 21, 2021, 11:26 AM IST
  • Share this:
मुंबईः टीवी शो 'सीआईडी' (CID) के एसीपी प्रद्युमन (ACP Pradyuman) यानी शिवाजी साटम (Shivaji Satam) का आज जन्मदिन है. शिवाजी साटम आज अपना 71वां बर्थडे सेलिब्रेट कर रहे हैं. उन्होंने कई हिंदी और मराठी फिल्मों और टीवी शो में भी काम किया है. मनोरंजन जगत में जाने से पहले शिवाजी साटम सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया में कैशियर के रूप में काम करते थे. लेकिन, शुरुआत से ही उनका थियेटर की ओर रुझान था.

थियेटर में रुचि के चलते उन्होंने नौकरी के साथ-साथ एक्टिंग की ट्रेनिंग लेना भी शुरू कर दिया. इसी बीच जब उन्होंने म्यूजिकल ड्रामा संगीत वारद में अभिनय किया तो मराठी थियेटर के दिग्गज एक्टर बाल धुरी ने उन्हें देखा और उनकी प्रतिभा को पहचाना.

उन्होंने मराठी म्यूजिकल ड्रामा, संगीत वारद से शोबिज में डेब्यू किया. वहीं, 1980 में रिश्ते-नाते सीरियल से टीवी जगत में कदम रखा. वहीं 1988 में वह एक अन्य टीवी सीरीज में नजर आए. इसके बाद वह कई हिट फिल्मों वास्ते, कुरुक्षेत्र और नायकः द रियल हीरो में नजर आए. लेकिन, उन्हें घर-घर में पहचान मिली सीआईडी के एसीपी प्रद्युमन बनकर.

एसीपी प्रद्युमन के रूप में शिवाजी साटम आज घर-घर में पहचाने जाते हैं. उनका किसी केस को सुलझाते हुए हाथ उठाना और आईब्रो को ऊपर कर लेना, इंटरनेट का बेस्ट मीम बना हुआ है. वहीं उनके डायलोग- 'दया, दरवाजा तोड़ दो' और 'कुछ तो गड़बड़ है' जैसे डायलॉग भी कम फेमस नहीं हैं. सीआईडी टीवी जगत के सबसे लंबे चलने वाले शोज में से एक है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज