पिता के निधन के बाद संभावना सेठ का बड़ा खुलासा, कहा- 'पापा के हाथ-पैर दोनों बांध दिए गए थे'

संभावना सेठ के पिता का 8 मई को निधन हुआ था (फोटो साभारः Instagram@sambhavnasethofficial)

कुछ दिनों पहले एक्ट्रेस संभावना सेठ (Sambhavna Seth) के पिता का कोरोना (Corona) के इलाज के दौरान एक अस्पताल में निधन हो गया था. एक्ट्रेस ने पिता की मौत के लिए अस्पताल की लापरवाही को जिम्मेदार ठहराया है.

  • Share this:
    नई दिल्लीः एक्ट्रेस संभावना सेठ (Sambhavna Seth) के पिता की जयपुर गोल्ड हॉस्पिटल में इलाज के दौरान मौत हो गई थी. वे कोरोना (Corona) संक्रमण से पीड़ित थे. एक्ट्रेस ने अपने पिता की मौत के लिए अस्पताल की लापरवाही को जिम्मेदार ठहराया है और इसे मौत नहीं मर्डर कहा है. मीडिया रिपोर्ट्स के अऩुसार, एक्ट्रेस ने अस्पताल के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करते उन्हें लीगल नोटिस भेज दिया है. एक्ट्रेस ने पिता के निधन से करीब दो घंटे पहले एक वीडियो भी बनाया था, जिसे उन्होंने सोशल मीडिया पर शेयर किया था. अस्पताल प्रशासन पर गंभीर आरोप लगाए थे.

    संभावना ने अस्पताल को छह दिन पहले लीगल नोटिस भेजा था. आजतक से बातचीत के दौरान एक्ट्रेस ने कहा, 'मुझे अस्पताल के जवाब का इंतजार है. मेरे पापा लौट कर तो नहीं आएंगे, पर मैं नहीं चाहती कि कोई और अस्पताल की लापरवाही के चलते किसी अपने को खोए.' उन्होंने अस्पताल की खराब सर्विस और लापरवाही को देखते हुए यह लीगल नोटिस भेजा है.



    संभावना आगे कहती हैं, 'हाल ही में इस अस्पताल में 20 से 25 लोगों की एक साथ मौत हुई है. घर के पास और इतना बड़ा अस्पताल होने की वजह से मैंने पापा को एडमिट कराया था. अगर मुझे इसके बारे में पता होता, तो यहां नहीं आती.' एक्ट्रेस को अस्पताल के स्टाफ भरोसा दिलाते रहते थे कि सब कुछ ठीक है, कुछ नहीं होगा. वे आगे कहती हैं, 'मेरे पापा को कोरोना के माइल्ड सिम्टम थे. वे स्वस्थ हो रहे थे. मेरे पापा को गलती दवाई दी गई थी और लापरवाही बरती गई थी. उन्हें आईसीयू भी नहीं मिला था.'

    (फोटो साभारः Instagram@sambhavnasethofficial)


    वे अस्पताल का हाल बयां करती हैं, 'मिलने की अनुमति न होने से अपनों की सेहत का पता नहीं चलता है. जब मैं बिना अनुमति के अंदर गई थी तो पापा का हाल देखकर में दंग रह गई थी. पापा के हाथ-पैर बंधे हुए थे. वे तर्क दे रहे थे कि पापा ऑक्सीन नहीं ले रहे थे, इसलिए ऐसा किया था. पापा को समय-समय पर खाना मिलता था या नहीं, मैं तो यह भी नहीं जानती.' संभावना ने उन सभी डॉक्टर्स को मर्डरर बताया है, जिन्होंने इसे कमाई का जरिया बना लिया है.