Exclucive: Bigg Boss कंटेस्‍टेंट रुबीन द‍िलैक बोलीं- जरूरत पड़ी तो पति को भी करूंगी नोम‍िनेट

रुबीना द‍िलैक और अभ‍िनव शुक्‍ला. ( Photo- ashukla09/Instagram)
रुबीना द‍िलैक और अभ‍िनव शुक्‍ला. ( Photo- ashukla09/Instagram)

टीवी एक्‍ट्रेस रुबीना द‍िलैक (Rubina Dilaik) और उनके पति और एक्‍टर अभिनव शुक्‍ला (Abhinav Shukla) की बिग बॉस 14 (Bigg Boss 14) के स्‍टेज पर धमाकेदार एंट्री हुई. रुबीना घर में जाने से पहले ही र‍िजेक्‍ट हो गई हैं, वहीं अभिनव घर के अंदर पहुंच चुके हैं. पढ़‍िए News18 ड‍िजिटल के साथ इस जोड़ी की खास बातचीत.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 4, 2020, 2:31 PM IST
  • Share this:
मुंबई. टीवी की दुन‍िया का जाना माना नाम और एक किन्नर का किरदार न‍िभाकर सुर्खियों में आईं टीवी एक्‍ट्रेस रुबीना द‍िलैक (Rubina Dilaik) और उनके पति और एक्‍टर अभिनव शुक्‍ला (Abhinav Shukla) की ब‍िग बॉस 14 (Bigg Boss 14) के स्‍टेज पर धमाकेदार एंट्री हुई. लेक‍िन जहां रुबीना घर में जाने से पहले ही र‍िजेक्‍ट हो गई हैं, वहीं अभिनव घर के अंदर पहुंच चुके हैं. रुबीना भले ही ब‍िग बॉस 14 (Bigg Boss 14) के र‍िजेक्‍टेड कंटेस्‍टेंट में शामिल हों, लेकिन उनके ईरादे अपने गेम को लेकर काफी पक्‍के हैं, तो वहीं अभिनव को घर में सबसे ज्‍यादा डर क‍िस बात का है, ये सब उन्‍होंने News18 ड‍िजिटल के साथ हुई खास बातचीत में बताया. ऐसे में रुबीना ने साफ कहा क‍ि वह घर में भले ही एक टीम की तरह जा रहे हों, लेकिन अगर खेल में जरूरत पड़ी और ऐसे हालात बने तो वह अपने पति अभिनव को भी नोमिनेट करने से नहीं चूकेंगी.

आप इस घर में एक टीम की तरह जा रहे हैं ? क्‍या आपके ल‍िए ये फायदेमंद साबित होगा या आपके साथ की वजह से आपको दूसरों के साथ म‍िलने में मुश्किल होगी ?

रुबीना - हम साथ में जा रहे हैं ये ब‍िलकुल हमारे ल‍िए फायदे की बात होगी और दूसरों के लिए नुकसान की क्‍योंकि कोई भी परिस्थिति हो तो घर में हम दोनों एक-दूसरे के साथ हमेशा खड़े होंगे. दूसरे कंटेस्‍टेंट के साथ मिलना इस गेम का जरूरी हिस्‍सा है जो हम अच्‍छे से करेंगे.



आप पहले भी अपने दोस्‍त को बिग बॉस के सेट तक ले जा चुकी हैं और इस बार आप खुद कंटेस्‍टेंट बनकर जा रही हैं. कैसा लग रहा है. ब‍िग बॉस के पहले के सीजन देखे हैं.
रुबीना- बाहर से क‍िसी चीज को देखना और उस पर अपनी राय देना काफी आसान होता है क‍ि ये आसान है या कठिन लेकिन इस घर में आना अपने आप में बहुत अलग अनुभव है. अब हम इस गेम का हिस्‍सा बनने वाले हैं और जब आप क‍िसी गेम का हिस्‍सा होते हैं तो बहुत कुछ अचानक बदल जाता है. बिग बॉस की बात करें तो हमने बिग बॉस कभी नहीं देखा. हमें इस शो के बारे में उतना ही पता है ज‍ितना हम सुनते हैं इधर-उधर से. इसल‍िए स्‍ट्रैटजी बनाकर जाना तो हमने सोचा ही नहीं. दरअसल 24 घंटे नेशनल टीवी पर आप स्‍ट्रैटजी बनाकर या नकली बनकर नहीं रह सकते. हम इस घर में वैसे ही रहेंगे जैसे हम हैं.

अगर कोई ऐसी पर‍िस्‍थ‍िति बनी की आपको अभिनव को नोमिनेट करना पड़ा या उनके अगेस्‍ट खड़ा होना पड़ा तो, आप ऐसा करेंगी.

रुबीना- देख‍िए, ये सब गेम पर निर्भर करता है. हम दोनों बहुत की अलग और स्‍ट्रॉग पर्सनेलिटीज हैं. अगर हम अलग होंगे तो कॉम्‍पटीशन करेंगे और अगर टीम की तरह होंगे तो टीम की तरह खेलेंगे. हम इमोशनली हमेशा एक-दूसरे के साथ रहेंगे लेकिन गेम अपनी जगह है. अगर इन्‍होंने गेम अच्‍छा नहीं खेला तो इन्‍हें नोमिनेट भी करूंगी तब मैं कंटेस्‍टेंट की तरह सोचूंगी. मैं फेयर रहूंगी.

बिग बॉस के घर में ट‍िके रहने के लिए आपको अपनी खूब‍ियां क्‍या नजर आती हैं.

रुबीना- मैं चीजों को जोड़कर चलने वाली हूं. मैं नेतृत्‍व करने में बहुत अच्‍छी हूं. मुझमें टीम स्‍प्र‍िट है, लोगों को जोड़े रखना, हेल्‍दी कॉम्‍पटीशन रखना, ये सब मुझमें है. मैं अपने फैसलों के साथ हमेशा खड़ी रहती हूं और मेरा स्‍टैंड हमेशा क्‍लीयर होता है.

बिग बॉस के घर में ट‍िके रहने के लिए आपको अपनी खूब‍ियां क्‍या नजर आती हैं.

अभिनव -देख‍िए मैं बहुत ही संवेदनशील इंसान हूं. क‍िसी को बुरा-भला बोलने से पहले मैं कई बार सोचता हूं. अगर मैं क‍िसी के साथ ऐसा बर्ताव करता हूं तो उसका जरूर कोई न कोई ठोस कारण होना चाहिए. दूसरा मुझे लगता है क‍ि मैं कई सारी चीजें कर सकता हूं, टेक्निकल प्रॉब्‍लम्‍स सॉल्‍व कर सकता हूं.

आपकी कुछ कमजोरी हैं जो आपको लगती हैं क‍ि इस घर में परेशान कर सकती हैं.

अभिनव -मेरी कमजोरी है क‍ि मुझे गुस्‍सा बहुत जल्‍द आ जाता है, तो मुझे इसपर बहुत कंट्रोल करना पड़ेगा. क्‍योंकि इस घर में तो इस बात का सभी फायदा उठाते हैं. मैं काफी हद तक सुन लेता हूं, लेकिन एक सीमा के बाद मेरे सब्र का बांध टूट जाता है. खासकर जानबूझकर कोई उकसाएगा तो कुछ नहीं कर सकती.

रुबीना का होना आपके लिए ताकत बनेगा या ये आपकी कमजोरी भी हो सकती है.

अभिनव -मेरे हिसाब से ये दोनों होगा. रुबीना मेरे साथ रहेंगी, मुझे इमोशनल सपोर्ट रहेगा. लेकिन दूसरी तरफ लोगों को पता रहेगा क‍ि ये मेरा सेंसेटिव स्‍पॉट हैं. अगर रुबीना को भला-बुरा कहो तो मुझे प्रॉब्‍लम होती है, अगर उन्‍हें कोई परेशान करेगा तो मैं अपने आप को रोक नहीं पाता. तो ये थोड़ा नुकसान भी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज