• Home
  • »
  • News
  • »
  • entertainment
  • »
  • EXCLUSIVE: सिद्धार्थ शुक्ला के जिम ट्रेनर ने किया दावा, बोले- 'उनकी मौत हार्ट अटैक से नहीं हो सकती है'

EXCLUSIVE: सिद्धार्थ शुक्ला के जिम ट्रेनर ने किया दावा, बोले- 'उनकी मौत हार्ट अटैक से नहीं हो सकती है'

मैं पिछले डेढ़ सालों से सिद्धार्थ को जिम में ट्रेनिंग दे रहा था- जिम ट्रेनर सोनू चौरसिया  (फोटो साभारः Instagram @realsidharthshukla)

मैं पिछले डेढ़ सालों से सिद्धार्थ को जिम में ट्रेनिंग दे रहा था- जिम ट्रेनर सोनू चौरसिया (फोटो साभारः Instagram @realsidharthshukla)

सिद्धार्थ शुक्ला (Sidharth Shukla) के जिम ट्रेनर सोनू चौरसिया ने कहा, 'मैं मान ही नहीं सकता कि सिद्धार्थ की मौत हार्ट अटैक से हो सकती है. वो बेहद ही फिट और फिटनेस को लेकर सजग रहते थे.'

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

नई दिल्ली. दिवंगत अभिनेता सिद्धार्थ शुक्ला (Sidharth Shukla) के निधन के बाद अब उनके जिम ट्रेनर सोनू चौरसिया का बयान सामने आया है. News18 से एक्सक्लूसिव बातचीत करते हुए सोनू चौरसिया ने कहा, ‘मैं मान ही नहीं सकता कि सिद्धार्थ की मौत हार्ट अटैक से हो सकती है. वो बेहद ही फिट और फिटनेस को लेकर सजग रहते थे. मैं पिछले डेढ़ सालों से सिद्धार्थ को जिम में ट्रेनिंग दे रहा था. हर दिन सुबह 10.30 बजे हम लोग जिम में मिलते थे. वो जिम में बहुत हार्ड वर्क करते थे.’

उन्होंने आगे कहा, ‘मुझे राहुल वैद्य का सुबह 9.30 बजे कॉल आया कि सिद्धार्थ की तबीयत खराब है. पहले यकीन नहीं हुआ, लेकिन फिर कई कॉल्स आने लगे. सिद्धार्थ की मौत सुनकर मैं बिल्कुल शॉक में हूं. सिद्धार्थ कभी भी किसी मानसिक तनाव या डिप्रेशन में नहीं रहे. हमेशा खुश रहने और लोगों को खुश रखने वाले इंसान थे. 24 अगस्त को मेरी बात हुई थी. उन्होंने मुझे जन्मदिन विश किया था, क्योंकि उसके बाद मैं मुंबई में नही था. 20 अगस्त को उन्होंने रक्षा बंधन के दिन अपनी बहन को गाड़ी गिफ्ट करने की बात कही और 22 अगस्त को गिफ्ट भी किया. जिम में हमेशा खुश रहते थे और कड़ी मेहनत करते थे.’

पढ़ें पूरी खबर- शहनाज गिल की बाहों में सिद्धार्थ शुक्ला ने ली आखिरी सांस, बोलीं- ‘अब मैं कैसे जी पाऊंगी’

सोनू चौरसिया ने आगे कहा, ‘इसके बाद रात को डिनर के बाद भी वह 40 मिनट तक वॉक करते थे. कल रात करीब 11.30 बजे एक मीटिंग से वापस आए. मीटिंग के दौरान ही कुछ बाहर खाकर आए थे, इसलिए घर पर रात में छाछ और फल खाया और करीब 1.30 बजे सोने चले गए. सुबह उनकी मां जब उन्हें उठाने गईं, तो वह बिल्कुल स्ट्रेट लेते हुए थे, जबकि वह ऐसे कभी नहीं सोते थे. तुरंत डॉक्टर को बुलाया गया. पंप वगैरह किया गया, लेकिन डॉक्टर से तबीयत ज्यादा खराब होने की बात कहते हुए अस्पताल ले जाने को कहा, लेकिन अस्पताल ले जाते वक्त उनकी मौत हो गई. मुझे भी पोस्टमार्टम रिपोर्ट का ही इंतजार है, क्योंकि मैं मान ही नहीं सकता कि उनकी मौत हार्ट अटैक से हो सकती है.’

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज