B'day Spl: संघर्ष से भरा रहा है भारती सिंह का बचपन, पिता को खोने के बाद ऐसी रही जिंदगी

B'day Spl: संघर्ष से भरा रहा है भारती सिंह का बचपन, पिता को खोने के बाद ऐसी रही जिंदगी
भारती सिंह आज अपना जन्मदिन सेलिब्रेट कर रही हैं. (photo credit: instagram/@bharti.laughterqueen)

कड़ी मेहनत और अपनी जिंदगी में कई उतार-चढ़ाव देखने के बाद आज भारती (Bharti Singh Birthday Special) अपनी यह पहचान बना पाई हैं. लोगों को हंसाने वाली भारती सिंह ने अपनी जिंदगी में काफी मुश्किल वक्त देखा है.

  • Share this:
मुंबईः टीवी इंडस्ट्री की कॉमेडी क्वीन कही जाने वाली भारती सिंह (Bharti Singh) आज अपना 36वां जन्मदिन मना रही हैं. भारती सिंह का जन्म 3 जुलाई 1984 को पंजाब के अमृतसर (Amritsar) में हुआ था. अपनी मेहनत और लाजवाब कॉमेडी के दम पर आज भारती ने देश के घर-घर में अपनी पहचान बना ली है. बड़ों से लेकर बच्चे तक, हर कोई उन्हें पहचानता है. लेकिन, उनके लिए यह पहचान बना पाना इतना भी आसान नहीं था. कड़ी मेहनत और अपनी जिंदगी में कई उतार-चढ़ाव देखने के बाद आज भारती अपनी यह पहचान बना पाई हैं. लोगों को हंसाने वाली भारती सिंह ने अपनी जिंदगी में काफी मुश्किल वक्त देखा है. आज जब भारती अपना जन्मदिन सेलिब्रेट (Happy Birthday Bharti Singh) कर रही हैं तो चलिए इस मौके पर उनसे जुड़ी कुछ खास बातें आपको बताते हैं.

पंजाब के अमृतसर में जन्मी भारती सिंह अपने परिवार में सबसे छोटी हैं. भारती इस बात का खुद खुलासा कर चुकी हैं कि, उनकी मां उन्हें तब ही खत्म कर देना चाहती थीं, जब वह उनके गर्भ में थीं. इसके लिए भारती की मां ने कई तरीके अपनाए, लेकिन शायद किस्मत को कुछ और ही मंजूर था. भारती के जन्म के बाद उनकी मां ने बहुत ही प्यार से उनकी परवरिश की और शायद इसी का नतीजा है कि आज भारती देश ही नहीं दुनिया भर में अपनी पहचान बना चुकी हैं. भारती जब 2 साल की थीं, तभी उनके पिता का निधन हो गया था. ऐसे में भारती का बचपन काफी संघर्ष से भरा रहा.

ये भी पढ़ेंः दिलजीत दोसांझ को याद आई सुशांत संग मुलाकात, फिल्म का पोस्टर शेयर कर बोले- 'जानदार बंदा था'



भारती की मां अपने तीनों बच्चों को पालने के लिए फैक्ट्री में काम करती थीं. भारती ने खुद एक इंटरव्यू में इस बारे में बात करते हुए बताया था कि, उनकी मां फैक्ट्री में काम करती थीं. बच्चों को आम जिंदगी देने के लिए वह फैक्ट्री का बचा हुआ काम घर आकर करती थीं. घर में रात-दिन मशीनों की आवाज आती थी. भारती के मुताबिक, आज भी जब कभी सड़क पर ऐसी आवाज वह सुनती हैं तो काफी परेशान हो जाती हैं. ये आवाजें उन्हें बचपन की याद दिलाती हैं. भारती के टैलेंट को मौका देने वाले और इसे पहचानने वाले पहले व्यक्ति सुदेश लहरी हैं.



सुदेश लहरी ने ही भारती सिंह को पहली बार एक पार्क में एक्टिंग करते देखा था और उनसे इंप्रेस होकर पहला रोल ऑफर किया था. भारती की जिंदगी का सबसे बड़ा टर्निंग पॉइंट साबित हुआ 'द ग्रेट इंडियन लाफ्टर चैलेंज'. इस शो से भारती को खासी पहचान मिली थी. कॉमेडियन के तौर पर भारती सिंह का नाम इस शो से ही रोशन हुआ. जिसके बाद उनके लिए नए रास्ते खुले और फिर भारती सिंह एक-एक कर कई शोज में नजर आईं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading