मां-पापा को बिना बताई मुंबई आई थीं Hina Khan, 20 साल की उम्र में शुरु किया था एक्टिंग करियर

हिना खान (Photo Credit- @realhinakhan/Instagram)

हिना खान (Photo Credit- @realhinakhan/Instagram)

हिना खान (Hina Khan) ने बताया कि वो किस तरह बिना माता-पिता को बताए ही मुंबई चली आई थीं. इसके बाद उन्होंने कैसे अपने पेरेंट्स को एक्टिंग करियर के लिए राजी किया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 19, 2020, 11:51 PM IST
  • Share this:
मुंबई. हिना खान (Hina Khan) ने टीवी से लेकर रिएलिटी शो और फिर फिल्मों तक का सफर 11 सालों में तय कर लिया है. उन्हें 8 सालों तक 'ये रिश्ता क्या कहलाता है' में दर्शकों का खूब प्यार मिला. इसके बाद बिग बॉस में भी हिना खान ने खूब शोहरत बटोरी. वहीं अब वो फिल्मों में बोल्ड सीन्स और शानदार एक्टिंग से अपने दर्शकों को इंप्रेस कर रही हैं. हाल ही में हिना खान ने अपने 11 सालों की कहानी शेयर की है. उन्होंने बताया कि श्रीनगर की एक साधारण सी लड़की ने किस तरह मुंबई तक का सफर तय किया और अपना रास्ता खुद बनाया.

हिना खान को लेकर ह्यूमन्स ऑफ बॉम्बे ने एक पोस्ट साझा किया है. जिसमें हिना ने अपनी पूरी कहानी बताई है. उन्होंने बताया कि ये सफर कैसे शुरु हुआ था. हिना का कहना है कि- मैं एक रूढ़िवादी कश्मीरी परिवार से आती हूं, जहां एक एक्टर बनना कभी कोई ऑप्शन था ही नहीं. मेरे माता-पिता मुझे कॉलेज की पढ़ाई के लिए दिल्ली भेजने में भी हिचकिचाए थे लेकिन मैंने किसी तरह पाप को मना लिया. इसलिए जब एक दोस्त ने मुझे सीरियल के लिए ऑडीशन देने की सलाह दी, मैंने उसे मना कर दिया. वहीं जब उसने कई बार कहा तो मैंने इसे ट्राई कर लिया और कास्टिंग डायरेक्टर में मुझे बहुत पसंद किया! दूसरे ही दिन मैं लीड रोल के लिए सिलेक्ट हो गई थी.

मैं 20 साल की थी जब मैं अपने माता-पिता को बताए बिना ही मुंबई आ गई. प्रोडक्शन के लोगों ने मुझे घर ढूंढ़ने में मदद की. मुझे पापा को बताने में कई हफ्ते लग गए. वो राजी नहीं थे. मॉम के दोस्तों और रिश्तेदारों ने हमसे रिश्ता तोड़ लिया. लेकिन तभी मेरे सीरियल को शोहरत मिलनी शुरु हो गई. कई हफ्तों तक मनाने के बाद पापा ने कहा- 'तुम तभी ये जारी रख सकती हो, जब तुम अपनी पढ़ाई भी पूरी करो'. इसके बाद मेरे माता-पिता भी मुंबई आ गए. मैं रात भर शूटिंग करती थी और ब्रेक में पढ़ाई करती थी. फिर दिल्ली जाकर परीक्षाएं भी देती थी. मेरे परिवार की चिंता भी बढ़ती जा रही थी. मैंने अपनी मां से कहा कि चिंता ना करें लेकिन ये आसान नहीं था. हम दोनों के बहुत झगड़े होते थे. लेकिन हर साल मेरा सीरियल नंबर 1 रहा, मुझे कैमरे से प्यार हो गया.




8 सालों के बाद बिग बॉस आया. पहले मैंने 'नो शॉर्ट्स, नो स्टीमी सीन्स' की पॉलिसी रखती थी लेकिन समय के साथ-साथ मैंने तय किया कि मैं अपने नियम खुद बनाऊंगी. और जब मेरे माता-पिता को मेरे एक्टिंग करियर की आदत हो गई, तभी मैंने उन्हें बता दिया कि मैं रॉकी को डेट कर रही हूं, ये मेरे परिवार के लिए किसी झटके से कम नहीं था क्योंकि यहां पर सिर्फ अरेंज मैरिज ही हुई हैं. लेकिन मैंने उन्हें समय दिया और अब वो रॉकी को मुझसे भी ज्यादा प्यार करते हैं.

इसके बाद कई टीवी के ऑफर्स आए लेकिन मैंने रिस्क उठाया और टीवी छोड़कर फिल्में कीं. मुझे बहुत खुशी हुई थी जब मैंने कांस फिल्म फेस्टिवल में पिछले साल डेब्यू किया था, मुझे बहुत गर्व महसूस हो रहा था कि मैं भारत को प्रस्तुत कर रही थी. जिस तरह पूरी फिल्म और टीवी इंडस्ट्री ने मुझे सपोर्ट किया है उसकी मैं आभारी हूं. इस साल मैं ओटीटी प्लैटफॉर्म की तरफ भी गई. जहां पर स्क्रिप्ट की डिमांड एक किसिंग सीन की भी थी. मैंने अपने माता-पिता से बात की. मैंने सिर्फ तभी हां कहा, जब उन्होंने ये समझ लिया कि ये मेपी फिल्म में रोल लिए जरूरी है, मेरी फिल्म इस प्लैटफॉर्म पर सबसे ज्यादा देखी जाने वाली फिल्म बन गई.



मुझे कैमरे के सामने आते हुए 11 साल हो चुके हैं- श्रीनगर में बड़ी हुई एक छोटी सी लड़की ने कभी कांस में वॉक के बारे में सोचा नहीं होगा. लेकिन कई मुश्किल फैसले मुझे यहां तक ले आए. श्रीनगर से बॉम्बे, मेरे परिवार से पहली एक्टर से अपनी कम्युनिटी के बाहर डेट करने वाली और करियर के पीक में पैसों को ठुकरा देने तक मैंने पूरे गर्व के साथ अपना रास्ता बनाया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज