करण वाही को मिली जान से मारने की धमकी, कुंभ के शाही स्नान-नागा साधुओं पर किया था पोस्ट

करण वाही. फोटो साभार-@karanwahi/Instagram

करण वाही. फोटो साभार-@karanwahi/Instagram

करण वाही (Karan Wahi) ने अपनी इंस्टाग्राम स्टोरी पर लिखा था, 'क्या नागा बाबाओं के लिए वर्क फ्रॉम होम जैसा कल्चर नहीं है? जैसे कि गंगा से जल लाकर घर पर ही नहा लें?

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 15, 2021, 12:35 PM IST
  • Share this:
मुंबई. बॉलीवुड और टीवी एक्टर्स को उनकी पोस्ट के लिए अक्सर लोग उन्हें ट्रोल कर देते हैं. हाल ही में टीवी एक्टर करण वाही (Karan Wahi) ने हरिद्वार में चल रहे कुंभ मेले (Kumbh Mela) और नागा बाबाओं (Naga Babas) पर एक पोस्ट किया, जो अब उनपर भारी पड़ता जा रहा है. इस पोस्ट की वजह से उन्हें जान से मारने की धमकी और नफरत भरे मैसेज भी मिल रहे हैं. इसकी जानकारी खुद करण वाही ने दी है.

दरअसल, करण वाही (Karan Wahi) कोरोना महामारी (Coronavirus) के बीच हरिद्वार में हर की पौड़ी पर शाही स्नान के लिए नागा बाबाओं को लेकर एक पोस्ट अपने इंस्टाग्राम स्टोरी पर किया था. करण वाही ने अपनी इंस्टाग्राम स्टोरी पर लिखा था, 'क्या नागा बाबाओं के लिए वर्क फ्रॉम होम जैसा कल्चर नहीं है? जैसे कि गंगा से जल लाकर घर पर ही नहा लें?

width: 640px; height: 998px;

इस पोस्ट के बाद ही कुछ लोगों ने उन्हें निशाने पर लेकर ट्रोल करना शुरू कर दिया. कुछ लोगों ने बेहद गंदे और धमकी भरे मैसेज भेजे, जिनके स्क्रीनशॉट एक्टर ने अपनी इंस्टाग्राम स्टोरी पर शेयर किए हैं.
width: 640px; height: 1150px;

width: 640px; height: 1223px;

width: 640px; height: 1184px;



कई यूजर्स ने करण वाही पर हिंदू भावनाओं को आहत करने का आरोप लगाया है.



उन्होंने इंस्टाग्राम स्टोरी पर लिखा- 'तो मुझे गालियों और नफरत भरे मैसेज आ रहे हैं. जान से मारने की धमकियां भी मिल रही हैं. वाह भारत के लोग. अगर एक हिंदू होने का मतलब कोविड के प्रोटोकॉल को नजरअंदाज करना है, तब फिर आपमें से बहुत से लोगों को यह पढ़ने की जरूरत है कि आखिर हिंदू होना क्या है'.

हरिद्वार में चल रहे शाही कुंभ मेले में कोरोना का बुरी तरह कहर टूटा है. वहां 102 तीर्थयात्रियों के अलावा 20 साधु कोविड पॉजिटिव पाए गए हैं. महाकुंभ मेले में शिरकत कर रहे धार्मिक संस्थाओं के प्रमुख न तो कोविड टेस्ट करवाने को राजी हुए और न ही मॉस्क पहन को. इतना ही नहीं इन लोगों द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग के प्रोटोकॉल का भी पालन नहीं किया किया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज