1200 बच्चों को पालती हैं सिंधुताई, KBC 11 में अमिताभ बच्चन ने छुए पैर

News18Hindi
Updated: August 23, 2019, 8:45 AM IST
1200 बच्चों को पालती हैं सिंधुताई, KBC 11 में अमिताभ बच्चन ने छुए पैर
केबीसी में खास मेहमान बनकर आएंगी सिंधुताई

कौन बनेगा करोड़पति (Kaun Banega Crorepati) का 'कर्मवीर स्पेशल एपिसोड' आने वाला है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 23, 2019, 8:45 AM IST
  • Share this:
टेलीविजन इंडस्ट्री का सबसे लोकप्रिय क्विज शो 'कौन बनेगा करोड़पति 11' (Kaun Banega Crorepati) शुरू हो चुका है. इस सीजन के साथ ही ये तय हो गया है कि ये शो अपने शानदार सवालों के साथ-साथ कंटेस्टेंट्स को लेकर एक दिलचस्प एंगल लेकर आएगा. शो का पहला 'कर्मवीर स्पेशल एपिसोड' इस हफ्ते आने वाला है. इस एपिसोड में ऐसे मेहमान आते हैं, जिन्होंने अपने काम से लोगों को इंस्पायर किया है. वहीं इस हफ्ते जो मेहमान आने वाली हैं, वो देश भर में अपने नेक कामों के लिए पहचानी जाती हैं. अमिताभ बच्चन तो उनका इतना सम्मान करते हैं कि शो पर उनका स्वागत पैर छूकर किया.

ये मेहमान और कोई नहीं बल्कि महाराष्ट्र की वरिष्ठ समाजसेवी सिंधुताई सपकाल है. सिंधुताई केबीसी के पहले 'कर्मवीर स्पेशल एपिसोड' में शामिल होंगी. केबीसी 11 एपिसोड को लेकर सोनीटीवी के ऑफिशियल इंस्टाग्राम एकाउंट पर एक वीडियो शेयर किया गया है. इस वीडियो में सिंधुताई के केबीसी में एंट्री की एक झलक शेयर की है.

अमिताभ बच्चन ने छुए पैर


अमिताभ बच्चन ने छुए पैर

सिंधुताई का अमिताभ बच्चन पैर छूकर स्वागत करते नजर आने वाले हैं. सिंधुताई इस एपिसोड में सवालों का जवाब तो देंगी ही, इसके अलावा वो अपने मसखरे अंदाज में अपनी जिंदगी की पूरी कहानी भी बताएंगी.

1200 बच्चों की मां हैं सिंधुताई
अगर आप सिंधुताई के बारे में ज्यादा नहीं जानते तो बता दें कि वो पूरे भारत भर में 1200 बच्चों को गोद ले चुकी हैं. सिंधुताई को 'अनाथों की मां' और 'महाराष्ट्र की मदर टेरेसा' कहा जाता है. सिंधुताई पास 36 बहुएं हैं और 272 दामाद हैं. वो अपने 1200 बच्चों का पूरी तरह ध्यान रखती हैं. सिंधुताई कहती हैं कि 'जिसकी कोई मां नहीं है उसकी मां मैं हूं'.
Loading...

अनाथों की मां


रेलवे स्टेशन पर मिला था एक बच्चा
महाराष्ट्र के वर्धा जिले में एक सामान्य परिवार से आने वाली सिंधुताई सपकाल को आज देशभर में लोग जानते हैं. सिंधुताई से जुड़ी एक कहानी ऐसी है जिसे सुनकर आप भी इमोशनल हो जाएंगे. सिंधुताई ने रेलवे स्टेशन से पड़े एक मासूम बच्चे को नई जिंदगी दी. आज वही उनका बड़ा बेटा है जो बाल निकेतन, महिला आश्रम, छात्रावास व वृद्धाश्रम का प्रबंधन देखता है.

ऐसी हैं सिंधुताई


750 बार मिला है सम्मान
हैरानी की बात नहीं है कि सिंधुताई राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय समेत करीब 500 अवॉर्ड पा चुकीं हैं. उन्हें अब तक राष्ट्रपति सम्मान, अहिल्याबाई पुरस्कार समेत 750 अवार्ड्स ने नवाजा जा चुका है. इसके अलावा सिंधुताई के जीवन पर फिल्में भी बन चुकी हैं. सिंधुताई को पिंक रंग की साड़ी बेहद पसंद है. केबीसी में उन्होंने बताया कि उन्होंने जिंदगी में इतना काला देखा है तो वो अब अपनी जिंदगी को गुलाबी रखना चाहती हैं.

ये भी पढ़ें- बाढ़ पीड़ितों की मदद को लिए Video बना बुरे फंसे कपिल शर्मा, ट्विटर पर ट्रोल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए टीवी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 23, 2019, 5:19 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...