KBC 12 Live: तनीषा ने स्वतंत्रता सेनानी से जुड़े इस सवाल पर गंवाए 25 लाख रुपए, क्या आपको पता है जवाब?

केबीसी 12 (Photo Credit- @Sonytv/Twitter)
केबीसी 12 (Photo Credit- @Sonytv/Twitter)

KBC 12 Live: अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) द्वारा होस्ट किए जाने वाले शो केबीसी 12 में आज कंटेस्टेंट तनीषा ने 12 लाख 50 हजार जीत तक खेल को क्विट कर दिया. ये सवाल 25 लाख रुपए के लिए था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 2, 2020, 9:48 PM IST
  • Share this:
मुंबई. KBC 12 Live: आज अमिताभ बच्चन द्वारा होस्ट किया जाने वाला शो केबीसी 12 (KBC 12) कंटेस्टेंट तनीषा के साथ शुरु हुआ. गांधी जयंति के मौके पर अमिताभ बच्चन ने बापू को याद किया और इस इसके बाद इनकम टैक्स इंस्पेक्टर तनीषा को हॉटसीट पर बुलाया. तनीशा कल से 40 हजार जीतक हॉटसीट पर बनी हुई थीं. इसके बाद उन्होंने तीन लाइफ लाइनों के साथ खेल की शुरुआत की है. उनसे पूछे गए सवाल कुछ इस तरह हैं.

2015 में स्थापित कौन सी होल्डिंग कंपनी वर्तमान गूगल की मूल कंपनी है?
अल्फाबेट इंक

मालगुजारी किस प्रकार का कर था?
इस सवाल पर तनीषा अटक गईं और उन्होंने 50-50 लाइफलाइन का इस्तेमाल किया



इसके बाद उन्होंने जवाब दिया- लैंड रेवेन्यू
प्राचीन हिंदू ग्रंथों के अनुसार इनमें से कौन कृष्ण के प्रिय मित्र थे, जिन्हें कृष्ण ने वृंदावन में संदेश वाहक के तौर पर भेजा था?
इस सवाल पर भी तनीषा अटक गईं और उन्होंने एक्सपर्ट एडवाइस लाइफ लाइन ली. जिसके बाद उन्हें सही जवाब मिला- उद्धव

इनमें से क्या एक संकीर्ण भौगोलिक गलियारा है, जिसे चिकिन्स नेक के तौर पर भी जाना जाता है?
सिलिगुड़ी कोरिडॉर

कौन सी एथेलीट बचपन में पोलियोग्रस्त होने के बावजूद 1960 के ओलंपिक में 3 स्वर्ण पदक जीती थीं. जो इस खेल के इतिहास में अभी तक का सबसे असाधारण प्रदर्शन माना जाता है?
इस सवाल पर तनीषा अटक गईं और अपनी आखिरी लाइफ लाइन का इस्तेमाल किया. उन्होंने विडियो अ फ्रेंड के जरिए अपने दोस्त से मदद मांगी. इसके बाद उन्हें सही जवाब मिला-विल्मा रुडोल्फ

कौन से स्वतंत्रता सेनानी दो खंडो में विभाजित पुस्तक 'द इंडियन स्ट्रगल 1920-1942' के लेखक हैं?

25 लाख की राशि के इस सवाल पर तनीषा ने शो छोड़ने का फैसला किया और 25 लाख रुपए गंवा दिए. तनीषा 12 लाख 50 लाख रुपए लेकर घर गईं. क्या आपको पता है इस सवाल का जवाब क्या है? अगर आपको नहीं पता तो बता दें कि इस सवाल का सही जवाब है- नेताजी सुभाष चंद्र बोस.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज