KBC Season 11: मालूम था सही जवाब फिर भी 1 करोड़ नहीं जीत पाए रायबरेली के हिमांशु, जानें क्यों?

News18Hindi
Updated: September 11, 2019, 10:56 AM IST
KBC Season 11: मालूम था सही जवाब फिर भी 1 करोड़ नहीं जीत पाए रायबरेली के हिमांशु, जानें क्यों?
रायबरेली के हिमांशु एक करोड़ के सवाल तक पहुंचने वाले पहले कैंडिडेट बने (स्क्रीन ग्रैब)

मशहूर टीवी रिएलिटी शो ‘कौन बनेगा करोड़पति’ (Kaun Banega Crorepati) में सोमवार को अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) के सामने रायबरेली (Raebareli) के हिमांशु धूरिया थे. बेहतरीन खेल खेलने के बावजूद वे अंतत: खेल में इतिहास (History) के एक प्रश्न के चलते 1 करोड़ रुपये की रकम जीतने से चूक गए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 11, 2019, 10:56 AM IST
  • Share this:
मुंबई. मशहूर टीवी रिएलिटी शो ‘कौन बनेगा करोड़पति’ (Kaun Banega Crorepati) में सोमवार को अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) के सामने रायबरेली के हिमांशु धूरिया थे. हिमांशु इस शो में ही नहीं अभी तक के सभी 11 सीजन का सबसे तेज फास्टेस्ट फिंगर फर्स्ट जवाब दिया था लेकिन बेहतरीन खेल खेलने के बावजूद वे अंतत: खेल में इतिहास के एक प्रश्न के चलते 1 करोड़ रुपये की रकम जीतने से चूक गए.

हिमांशु धूरिया एक ट्रेनी पायलट (Trainee Pilot)  हैं. वे अपनी डेढ़ साल की ट्रेनिंग पूरी कर ली है. हिमांशु ने केबीसी (KBC) के 11वें सीजन में कई सारे रोचक रिकार्ड बना दिए हैं.

हिमांशु के प्रेम-जीवन में काफी इंट्रेस्टेड दिखे अमिताभ बच्चन
हिमांशु की पारिवारिक जिंदगी को लेकर अमिताभ बच्चन ने उत्सुकता दिखाई. वे हिमांशु के प्रेम जीवन में भी रुचि लेते दिखे. हिमांशु के साथ उनकी नानी और दो दोस्त भी उनके साथी के तौर पर केबीसी (KBC) में आए थे. हिमांशु ने कहा कि वे अपने दोनों दोस्तों के साथ डील करके आए हैं कि वे अपने दोनों दोस्तों को जीती हुई राशि में से तीसरा हिस्सा दे देंगे.

हिमांशु के व्यक्तित्व में अमिताभ बच्चन भी काफी रुचि लेते दिखे. वैसे तो कमर्शियल पायलट बनने वाले हैं लेकिन उन्होंने स्वीकार किया कि उन्हें ऊंचाई से डर लगता है.

क्या था 1 करोड़ का सवाल और उसका जवाब?
हिमांशु से एक करोड़ के सवाल के लिए पूछा गया था- किनके द्वारा किए गए अनेक उपनिषदों के फारसी अनुवाद के संकलन को 'सिर्र-ए-अकबर' नाम से जाना जाता है.
Loading...

इस सवाल का जवाब देने के लिए हिमांशु को अमिताभ बच्चन ने चार ऑप्शन दिए थे- अबुल फजल, शाह वलीउल्लाह दहलवी, दारा शिकोह और अहमद-अल-सरहिंदी.

इस सवाल का जवाब था दारा शिकोह. हालांकि हिमांशु को इस बात का पूरा अंदाजा था कि इस सवाल का जवाब दारा शिकोह होगा लेकिन उन्होंने जवाब पर कंफर्म न होने के चलते, जवाब न देकर इस सवाल पर क्विट करने का फैसला किया. हालांकि जब उन्हें अंत में बताया गया कि अगर वे जवाब लॉक कर देते तो सही होते तो उन्हें निराशा भी हुई.

बता दें कि दारा शिकोह ने अपने उपनिषदों की किताब का अनुवाद 'सिर्रे अकबर' नाम से किया था. उन्होंने इस किताब को अपने परदादा अकबर को समर्पित किया था.

यह भी पढ़ें: KBC Season 11: पहले ही सवाल में लाइफलाइन लेने वाले हिमांषु पहुंचे 1 करोड़ के सवाल पर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए टीवी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 10, 2019, 9:35 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...