• Home
  • »
  • News
  • »
  • entertainment
  • »
  • मां ने बेचे गुब्बारे, खुद किए जूते पॉलिश, बिना संगीत सीखे सनी हिंदुस्तानी बने Indian Idol

मां ने बेचे गुब्बारे, खुद किए जूते पॉलिश, बिना संगीत सीखे सनी हिंदुस्तानी बने Indian Idol

जीत के बाद सनी को 25 लाख की इनामी राशि के साथ चमचमाती ट्रॉफी और टाटा अल्ट्रोज कार मिली है.

जीत के बाद सनी को 25 लाख की इनामी राशि के साथ चमचमाती ट्रॉफी और टाटा अल्ट्रोज कार मिली है.

गरीबी से भरे जिंदगी जीने वाले सनी के घर में जहां दो वक्त रोटी के जद्दोजहद करनी पड़ती थी, उसके एक-एक सुर को सुनकर जज भी हैरान हो जाते थे.

  • Share this:
    मुंबई: टीवी पर आने वाले रियलिटी शो इंडियन आइडल 11 (Indian Idol 11) का खिताब (Indian Idol 11 Winner) सनी हिंदुस्तानी ने अपने नाम कर लिया है. इंडियन आइडल ने अब तक कई हुनरमंद सिंगर्स की खोजकर उन्हें नया मुकाम दिया और संगीत की दुनिया को नए हीरे दिए. इस बार भी इंडियन आइडल 11 ने ऐसे ही हीरो को तराशा है. जीत के बाद सनी को 25 लाख की इनामी राशि के साथ चमचमाती ट्रॉफी और टाटा अल्ट्रोज कार प्रदान की गई. इसके साथ ही हिमेश की अगली फिल्म में उन्हें गाने का मौका मिलेगा. सनी हिंदुस्तानी की अपनी आवाज का बदौलत भले नया मुकाम मिला हो, लेकिन वो अपने उन दिनों को कभी नहीं भूले, जो वो इंडियन आइडल 11 में आने से पहले बीता रहे थे.






    सनी हिंदुस्तानी (Sunny Hindustani) पंजाब के बठिंडा स्थित अमरपुरा बस्ती के रहने वाले हैं. शो में आने से पहले सनी सड़क किनारे जूते पॉलिश करते थे, जबकि उनकी मां गुब्बारे बेचती थीं. उन्होंने बताया था कि कई दफा हालात ऐसे हो जाते थे कि उनकी मां दूसरों के घरों में चावल भी मांगने पड़ते थे. ये देखकर उन्हें काफी बुरा भी लगता था. छोटी सी उम्र में उन्होंने अपने जीवन में कई उतार-चढ़ाव देखे हैं.

    गरीबी से भरे जिंदगी जीने वाले सनी के घर में जहां दो वक्त रोटी के जद्दोजहद करनी पड़ती थी, उसके एक-एक सुर को सुनकर जज भी हैरान हो जाते थे. सनी की आवाज का हर कोई कायल है. न सिर्फ दर्शक बल्कि शो के जज भी कई दफा इस बात का जिक्र कर चुके हैं कि उनके गानों को सुनते ही नुसरत फतह अली खान की याद आ जाती है. गाने का शौक सनी को बचपन से था. सनी हिंदुस्तानी ने कभी भी संगती की शिक्षा नहीं ली है. उन्होंने गाने सुनकर संगीत सीखा.






    एक एपिसोड में उन्होंने खुद इस बात का जिक्र किया था कि वह बहुत छोटे थे तब उन्होंने पहली बार नुसरत फतेह अली खान का गाना 'वो हटा रहे हैं परदा' एक दरगाह पर सुना था. उस गाने को सुनकार वह रोने लगे. बस यही से उन्हें गायकी का शौक लगा. इसके बाद वह नुसरत फतेह अली खान सहित कई गायकों को गाना शुरू कर दिया था.

    आपको बता दें कि सनी को शो के दौरान ही एक सुनहरा मौका शंकर महादेवन ने दिया था. उन्होंने सनी को कंगना रनौत की फिल्म पंगा के लिए गाना गाने का मौका दिया था. सनी ने शंकर महादेवन के साथ गाना गाया था जिसे जावेद अख्तर ने लिखा था.

    ये भी पढ़ें: सनी 'हिंदुस्तानी' ने जीता Indian Idol 11, मिले 25 लाख रुपये और टी-सीरीज की फिल्म में गाने का मौका

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज