Woman’s Day पर अपनी मम्‍मी को खास तौहफा देने चाहती हैं टीवी की ये एक्‍ट्रेस

सोनी सब टीवी आर्टिस्ट के महिला दिवस पर विचार.

सोनी सब टीवी आर्टिस्ट के महिला दिवस पर विचार.

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस (International Woman’s Day) वीक चल रहा है. देश और दुनिया में महिला सशक्तिकरण (Empowerment) को लेकर लगातार कोशिश की जा रही है. ऐसे में टीवी की दुन‍िया की प्रस‍िद्ध एक्‍ट्रेसेस ने अपनी अपनी बात रखी है.

  • Share this:
मुंबई. महिलाएं हर फील्ड में हाथ आजमा रही हैं. सफलता मिलने से उनमें आत्मविश्वास बढ़ा है. अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस (International Woman’s Day) पर महिलाएं खुद को अपने अपने तरीके से जाहिर कर रही हैं. ऐसे में टीवी की दुन‍िया की प्रस‍िद्ध एक्‍ट्रेसेस ने अपनी अपनी बात रखी है. सीरियल 'मेडम सर' की कर‍िश्‍मा स‍िंह के क‍िरदार में नजर आने वाली एक्‍ट्रेस युक्ति स‍िंह से लेकर 'काटेलाल एंड सन्‍स' में गरिमा का क‍िरदार न‍िभाने वाली मेघा चक्रवर्ती ने अपनी बात साझा की.

सबसे पहले बात युक्ति सिंह उर्फ  ‘मैडम सर’ की करिश्मा  सिंह ने कहा कि  ‘हम सबको अलग तरह की लड़ाइयां लड़नी पड़ती हैं. इस साल मैंने अपनी जयपुर में रहने वाली अपनी मां को कुछ तोहफे और फूल भेजने के बारे में सोचा है. इस दिन सेलिब्रेशन की कोई खास प्लानिंग नहीं है ,बस ये है कि मेरी जिंदगी मे जितनी महिलाएं हैं उन्हें शुभकामनाएं देते हुए बताऊंगी कि उनका मेरी जितनी में होना कितना मायने रखता है. मेरी दोस्त अंतरा और मेरी मां मेरे जीवन में दो सबसे खास महिलाएं हैं जिन्होंने  हर उतार चढ़ाव में मेरा साथ दिया. साथ ही मैं अपनी सभी महिला प्रशसंकों से कहूंगी कि ‘मैडम सर’ की करिश्मा सिंह की तरह दिलेर और होशियार बनें’.





‘काटेलाल एंड सन्स‘ की गरिमा यानि मेघा चक्रवर्ती का कहना है कि ‘मेरी जिंदगी में सबसे खास महिला मेरी मां हैं. मैं उन्हें ढेर सारी चीजें देकर स्पेशल फील करवाना चाहती हूं. सच कहूं तो किसी एक दिन ‘वीमन्स डे’  मनाने पर मैं भरोसा नहीं करती, हमें पूरे साल ही महिलाओं का सम्मान करना चाहिए . मेरे शो के किरदार गरिमा और सुशीला, अपने सपनों को पूरा करने के लिये हर मुसीबत से लड़ जाते हैं. इसलिये, हमें गरिमा और सुशीला के जीवन से सीखने की जरूरत है और हमें सपने देखना बंद नहीं करना चाहिये.
जबकि जिया शंकर यानि ‘काटेलाल एंड सन्स’ की सुशीला का कहना है कि ‘मैं अपने आस-पास सारी अद्भुत महिलाओं को ‘महिला दिवस’ की शुभकामनाएं देती हूं. मेरी मां मेरे जीवन की सबसे खास महिला हैं मैंने उन्हें संघर्ष करते हुए देखा है मुझे उन पर गर्व महसूस होता है’. मेघा की तरह जिया भी एक दिन महिला दिवस मनाने में विश्वास नहीं रखती. अपने शो के बारे में बात करते हुए कहती हैं कि ‘इस शो को लाने और महिलाओं को अपने सपने पूरे करने के लिये प्रेरित करने के लिये मुझे मेरे कई सारे फैंस के मैसेज मिलते रहते हैं. मुझे इस बात की बेहद खुशी है कि संदेश लोगों तक पहुंच रहा है’.



‘हीरो : गायब मोड ऑन’ की ज़ारा उर्फ येशा रुघानी का कहना है कि ‘ मेरे जीवन में जितनी भी बेमिसाल महिलाएं हैं उन सबको वीमेंस डे की शुभकामनाएं देती हूं. किसी के चेहरे पर मुस्कुराहट लाकर आप उन्हें खास महसूस करा सकते हैं.'



उन्‍होंने आगे कहा, ' चूंकि, हमें यह एक खास दिन दिया गया तो क्यों  ना इस दिन का इस्तेमाल खुशियां फैलाने में किया जाए. मैंने कुछ बहुत बड़ा नहीं सोचा है, लेकिन अपना पर्सनल टच देने के लिए मैं अपने आस-पास की महिलाओं के लिये कोई नोट लिखूंगी या फूल दूंगी या फिर कुछ पर्सनलाइज़ करूंगी’.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज