COVID-19 इफेक्ट: रामायण, महाभारत के बाद देखने को मिल सकते हैं ये पुराने पॉपुलर टीवी शोज

यदि कोरोना वायरस के कारण स्थित और खराब हुई तो फिर से टीवी पर पॉपुलर टीवी शो देखने को मिल सकते हैं. (Image: Youtube Video Grab)

यदि कोरोना वायरस के कारण स्थित और खराब हुई तो फिर से टीवी पर पॉपुलर टीवी शो देखने को मिल सकते हैं. (Image: Youtube Video Grab)

कोरोना वायरस (Coronavirus) के कारण हालात खराब हुए तो टीवी पर फिर से पॉपुलर टीवी शो देखने को मिल सकते हैं. मोस्ट फैंटेसी शो ‘चंद्रकांता (Chandrakanta)’ दर्शकों के दिलों में आज भी जिंदा है. शो की शुरुआत इस गाने से होती थी- ‘चंद्रकांता की कहानी..., नौगढ़ विजयगढ़ में थी तकरार.’

  • Share this:
मुंबई. देशभर में कोरोना वायरस (Coronavirus) की दूसरी वेब शुरू हो गई है. दूसरी वेब का भी सबसे अधिक असर महाराष्ट्र में पड़ रहा है. इससे फिल्मों और सीरियलों की शूटिंग पर असर पड़ना शुरू हो गया है. दस से अधिक एक्टर कोरोना वायरस के संक्रमण से ग्रस्त हो चुके हैं. कुछ टीवी कलाकारों को भी वायरस का संक्रमण हो गया है. इसके बाद शूटिंग पर बुरी तरह असर पड़न शुरू हो गया है.

पिछले साल मार्च में लॉकडाउन लागू होने के बाद से अचानक फिल्मों और टीवी सीरियल्स की शूटिंग रोक दी गई थी. इसके कारण टीवी पर पुराने सीरियल्स दिखाए जा रहे थे. रामायण-महाभारत को लोगों ने मजबूरी में देखना शुरू किया, जिसे बाद में बहुत पसंद किया गया. इन दोनों सीरियल्स ने टीआरपी में रिकॉर्ड बनाया. महाराष्ट्र में वीकेंड पर लॉकडाउन लगा दिया गया है. इसके कारण शनिवार और रविवार को टीवी सीरियल्स की शूटिंग बंद कर दी गई है. यदि कोरोना वायरस के कारण स्थित और खराब हुई तो फिर से टीवी पर पॉपुलर टीवी शो देखने को मिल सकते हैं. आइए कुछ पुराने टीवी शो की चर्चा करते हैं.

चंद्रकांता
देवकी नंदन खत्री के उपन्यास पर बेस्ड मोस्ट फैंटेसी शो ‘चंद्रकांता (Chandrakanta)’ दर्शकों के दिलों में आज भी जिंदा है. सीरियल की शुरुआत इस गाने से होती थी- ‘चंद्रकांता की कहानी..., नौगढ़ विजयगढ़ में थी तकरार.’ चंद्रकांता, क्रूर सिंह से लेकर रूपमति तक कई कैरेक्टर्स बहुत चर्चित हुए थे.
तारा


यह जी टीवी पर प्रसारित किया जाने वाला पहला इंडियन सोप ओपेरा था. इसमें तीन शहरी महिलाओं की जिंदगी के संघर्ष और उनकी महत्वाकांक्षाओं के बारे में दिखाया गया था.

देख भाई देख
यह एक फैमिली ड्रामा था, जिसे लोगों ने उस समय बहुत पसंद किया था. इसमें फैमिली वैल्यूज के साथ 3 जेनरेशन की स्टोरी दिखाई गई थी. इस शो में कॉमेडी भी जबरदस्त थी.

मालगुड़ी डेज
आरके नारायण लोकप्रिय साहित्यकार हैं. मालगुड़ी डेज नामक शो में भी उनकी कहानियां दिखाई गईं हैं. इसमें ब्रिटिश इंडिया काल की स्वामी नामक बच्चे की स्टोरी दिखाई गई है, जो ‘मालगुड़ी’ नामक टाउन पर बेस्ड है.

ब्योमकेश बक्शी
यह बंगाली का एक डिटेक्टिव शो था. इसे Sharadindu Bandyopadhyay ने बनाया था. इसमें यह दिखाया गया है कि बक्शी अपने लॉजिक्स, इंटेलिजेंस और फॉरेंसिक साइंस के जरिए क्राइम की गुत्थी सुलझाते हैं.

बनेगी अपनी बात
इसमें कॉलेज के रोमांस और ब्रेक-अप पर बेस्ड यूथ की लाइफ दिखाई गई थी. इसे टीनएजर और यूथ ने बहुत पसंद किया था. इसमें इरफान खान, बरुण बडोला के साथ ही साथ आर माधवन जैसे कलाकार थे.

चाणक्य
‘चाणक्य’ एक हिस्टोरिकल शो था, जिसे 1991 में रिलीज किया गया था. इसे चंद्रप्रकाश द्विवेदी ने बनाया था.

तू तू, मैं मैं
यह सास-बहू की नोंक-झोंक पर बेस्ड कॉमेडी शो, जिसे घर-घर में पसंद किया गया था. इसमें रीमा लागू और सुप्रिया पिलगांवकर लीड कलाकार थे.

श्रीमान श्रीमती
यह लोकप्रिय सिटकॉम है. श्रीमान श्रीमती में जतिन, अर्चना पूरन सिंह, राकेश बेदी और रीमा लागू जैसे कलाकार थे. इसमें कलाकारों ने दमदार एक्टिंग की थी.

वागले की दुनिया
इस शो में मिडिल क्लास के एक परिवार की कहानी दिखाई गई थी. यह 1988 में ऑनएयर हुआ था. खास बात यह है कि इसमें किंग खान यानी शाहरुख खान भी थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज