लाइव टीवी

तारक मेहता का निधन, सोशल मीडिया पर कई हस्तियों ने जताया शोक

News18Hindi
Updated: March 1, 2017, 4:06 PM IST
तारक मेहता का निधन, सोशल मीडिया पर कई हस्तियों ने जताया शोक
मशहूर टीवी सीरियल तारक मेहता का उल्टा चश्मा के लेखक तारक मेहता नहीं रहे. 87 साल के तारक मेहता काफी समय से बीमार थे अहमदाबाद में उन्होंने आखिरी सांस ली.

मशहूर टीवी सीरियल 'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' के लेखक तारक मेहता नहीं रहे. 87 साल के तारक मेहता काफी समय से बीमार थे अहमदाबाद में उन्होंने आखिरी सांस ली.

  • Share this:
मशहूर व्यंग्यकार और गुजराती के जाने माने लेखक तारक मेहता नहीं रहे. 87 साल के तारक मेहता काफी समय से बीमार थे. अहमदाबाद में उन्होंने आखिरी सांस ली.

सब चैनल पर आने वाला शो 'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' तारक मेहता के कॉलम 'दुनिया ने ऊंधा चश्मा' से प्रेरित है। दरअसल तारक मेहता ने गुजराती पत्रिका 'चित्रलेखा' में 1971 में कॉलम शुरू किया था 'दुनिया ने ऊंधा चश्मा' और उसी को सामयिक करते हुए यह सीरियल बना है.

अहमदाबाद में हुआ जन्म

गुजराती हास्य लेखन के सितारे तारक मेहता जन्म 26 दिसंबर 1929 को अहमदाबाद में हुआ था. उन्होंने 1945 मे मैट्रिक पास किया और मुंबई के भवन्स कॉलेज से 1958 मे एमए की डिग्री हासिल की.

पहले पत्रकारिता बाद में सरकारी नौकरी 

तारक मेहता 1958 में गुजराती नाट्य मंडल से जुड़े. 1959-60 में वो दैनिक प्रजातंत्र में डिप्टी एडिटर बने. हालांकि उन्होंने लंबे समय तक अखबार में काम नहीं किया और कुछ समय बाद सूचना और प्रसारण विभाग से जुड़ गए. 1960 से 1986 तक वो भारत सरकार के सूचना और प्रसारण विभाग में कंटेट राइटर रहे, बाद में वहीं अधिकारी बने.

पद्मश्री अवार्ड से सम्मानित
Loading...

साहित्य मे महत्वपूर्ण योगदान के लिए भारत सरकार ने तारक मेहता को 2015  में पद्मश्री अवार्ड से सम्मानित किया.

तारक मेहता के निधन पर सोशल मीडिया पर तमाम हस्तियों ने शोक जताया है.











News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए टीवी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 1, 2017, 12:22 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...