#ArrestMunmunDutta: 'तारक मेहता...' की मुनमुन दत्ता मुश्किल में, उठ रही गिरफ्तारी की मांग

मुनमुन दत्ता (Munmun Dutta) ने अपनी गलती को स्वीकार करते हुए लोगों से माफी मांगी है. (फोटो साभारः Instagram @mmoonstar)

मुनमुन दत्ता (Munmun Dutta) ने अपनी गलती को स्वीकार करते हुए लोगों से माफी मांगी है. (फोटो साभारः Instagram @mmoonstar)

'तारक मेहता का उल्टा चश्मा (Taarak Mehta Ka Ooltah Chashmah)' की बबीता जी यानी मुनमुन दत्ता (Munmun Dutta) ने अपनी गलती को स्वीकार करते हुए लोगों से माफी मांगी है.

  • Share this:

नई दिल्ली. टीवी का सबसे पॉपुलर कॉमेडी शो 'तारक मेहता का उल्टा चश्मा (Taarak Mehta Ka Ooltah Chashmah)' की बबीता जी यानी मुनमुन दत्ता (Munmun Dutta) सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहती हैं. उनकी सुंदरता लोगों को दीवाना बना देती हैं. वह अपने सोशल नेटवर्किंग साइट इंस्टाग्राम और ट्विटर पर आए दिन अपनी तस्वीरें और वीडियोज शेयर करती रहती हैं. ऐसे में रविवार को उन्होंने अपना एक वीडियो शेयर किया था, जो उनके चाहने वालों को बिलकुल भी पसंद नहीं आया और आखिरकार उन्हें ट्रोल का सामना करना पड़ रहा है.

दरअसल, मुनमुन जल्द ही यूट्यूब पर आने वाली हैं इसके लिए उन्होंने रविवार को एक वीडियो शेयर किया था, जिसमें उन्होंने कहा था, 'मैं यूट्यूब में आने वाली हूं, इसलिए मैं अच्छा दिखना चाहती हूं, मैं भंगी की तरह नहीं दिखना चाहती हूं.' इसमें मुनमुन की भंगी वाली बात लोगों को पसंद नहीं आई और दलित समुदाय के लिए जातिसूचक शब्‍द का इस्तेमाल किए जाने पर लोग उन्हें सोशल मीडिया पर ट्रोल कर रहे हैं. इतना ही नहीं, लोग उनकी ट्विटर पर मुनमुन की गिरफ्तारी की मांग भी कर रहे हैं. इस वक्त ट्विटर पर #ArrestMunmunDutta टॉप ट्रेंड कर रहा है, हालांकि मुनमुन ने अपनी गलती को स्वीकार भी कर लिया है.


Twitter Printshot

Twitter Printshot

Taarak Mehta Ka Ooltah Chashmah, Munmun Dutta

मुनमुन ने अपने ट्विटर पर एक ट्वीट कर लोगों से माफी मांगी है. 'यह एक वीडियो के संदर्भ में है ज‍िसे मैंने कल पोस्‍ट किया था, जहां मेरे द्वारा इस्‍तेमाल क‍िए गए एक शब्‍द का गलत अर्थ लगाया गया है. यह अपमान, धमकी या क‍िसी की भावनाओं को चोट पहुंचाने के इरादे से कभी नहीं कहा गया था. मेरी भाषा के अवरोध के कारण, मुझे सही मायने में शब्‍द का अर्थ के बारे में गलत जानकारी थी. एक बार जब मुझे इसके अर्थ से अवगत कराया गया तो मैंने तुरंत उस भाग को न‍िकाल द‍िया है. मेरा हर जाति, पंथ या ल‍िंग से हर एक व्‍यक्ति के ल‍िए अत्‍यंत सम्‍मान है और समाज या राष्‍ट्र में उनके अपार योगदान को मैं स्‍वीकार करती हूं. मैं ईमानादार से हर एक व्‍यक्ति से माफी मांगना चाहती हूं जो शब्‍द के उपयोग से अनजाने में आहत हुए हैं और मुझे उसके लिए खेद है.'

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज