सोनू सूद से फैंस ने कहा- 'सुपरहीरो इज बैक', तो एक्टर बोले- 'प्रार्थना करें हम और जीवन बचा सकें'

जो भी जरूरतमंद लोग अपने नेताओं और जनप्रतिनिधियों से निराश हो चुके हैं, उन्हें भी अभिनेता सोनू सूद निराश नहीं करते हैं. (Photo: @SonuSood)

जो भी जरूरतमंद लोग अपने नेताओं और जनप्रतिनिधियों से निराश हो चुके हैं, उन्हें भी अभिनेता सोनू सूद निराश नहीं करते हैं. (Photo: @SonuSood)

Ajit Goud नामक फैंस ने ट्विटर पर सोनू सूद (Sonu Sood) को टैग करके लिखा है कि, 'सुपरहीरो वापस आ गया है'. उन्होंने इलाज इंडिया को भी टैग किया है. अब ऑक्सीजन, एयर एम्बुलेंस, आईसीयू बेड, रेमेडिसविर, मेडिसिन से देश के लोगों को बचा रहे हैं.'

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 25, 2021, 8:02 PM IST
  • Share this:
मुंबई. पिछले साल कोरोना वायरस (Coronavirus) के कारण जब मुंबई से प्रवासी मजदूर पलायन करने लगे तो उनमें से कई पैदल तो कुछ अपनी व्यवस्था से हजारों किलोमीटर दूर अपने घर जाने लगे. ऐसी स्थिति में बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद (Sonu Sood) इन प्रवासी मजदूरों के लिए मसीहा बनकर सामने आए. उसके बाद से आज तक वे जरूरतमंद लोगों की लगातार मदद करते आ रहे हैं.

देश में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों को हॉस्पिटल में बेड, ऑक्सीजन, एयर एंबुलेंस, रेमडेसिविर और दवाओं की बहुत कमी हो गई है. लोगों के परिवार के लोग और उनके नजदीकी लोग अपने संक्रमित करीबी शख्स की जान बचाने के लिए शासन, प्रशासन, जनप्रतिनिधियों से लगातार मदद की गुहार लगा रहे हैं. सोनू सूद हर तरफ से निराश हो चुके लोगों के आशा की एकमात्र किरण बन चुके हैं. जो अपने नेताओं और जनप्रतिनिधियों से निराश हो चुके हैं, उन्हें भी अभिनेता सोनू सूद निराश नहीं करते हैं.

सोनू सूद की पोस्ट.


Ajit Goud नामक फैंस ने ट्विटर पर सोनू सूद को टैग करके लिखा है कि, 'सुपरहीरो वापस आ गया है'. उन्होंने इलाज इंडिया को भी टैग किया है. अब ऑक्सीजन, एयर एम्बुलेंस, आईसीयू बेड, रेमेडिसविर, मेडिसिन से देश के लोगों को बचा रहे हैं.' सूद ने विनम्रता से इसका जवाब दिया है. उन्होंने लिखा है कि, 'प्रार्थना करें कि हम और जीवन बचा सकें'.
ऐसे हालात में कुछ लोग मदद के लिए सामने आ रहे हैं तो कुछ लोग डर के मारे घर में बैठ कर टीवी पर हालात का जायजा ले रहे हैं. ऐसे में सोनू सूद ने ट्वीट कर देश की जनता से प्रार्थना की है. सोनू ने अपने पोस्ट में लिखा ‘ टीवी रिमोट छोड़िए,देश को जोड़िए. दूसरे की जान बचाएंगे, तभी तो जी पाएंगे'.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज