स्वरा भास्कर के खिलाफ हुई FIR तो जावेद अख्तर ने किया ट्वीट, 'बेगुनाहों को गिरफ्तार किया और…'

जावेद अख्तर और स्वरा भास्कर दोनों सोशल मीडिया पर एक्टिव रहते हैं.

गाजियाबाद का एक वीडियो ट्वीट (Ghaziabad Video Tweet) करने के मामले में वकील अमित आचार्य ने बॉलीवुड एक्ट्रेस स्वरा भास्कर (Swara Bhaskar) सहित अन्य लोगों के खिलाफ श‍िकायत दर्ज कराई है. इस मामले पर जावेद अख्तर ने ट्वीट कर रिएक्ट किया है.

  • Share this:
    उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के गाजियाबाद इन दिनों एक वायरल वीडियो (Ghaziabad Video Tweet) को लेकर सुर्खियों में बना हुआ है. वीडियो इतना वायरल हुआ कि पुलिस ने एक्शन लिया. सोशल मीडिया पर एक्टिव रहने वाली बॉलीवुड एक्ट्रेस स्वरा भास्कर (Swara Bhaskar) ने भी वीडियो को ट्वीट किया, जिसके बाद पुलिस ने एक्ट्रेस स्वरा भास्कर, ट्विटर इंडिया के मनीष माहेश्वरी समेत अन्य लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई गई है. केस दर्ज होने के बाद अब इस पर जावेद अख्तर ने ट्वीट कर रिएक्ट किया है.

    स्वरा भास्कर (Swara Bhaskar) ने एक ट्वीट किया, उन्होंने लिखा- मैं इस बात से सहमत हूं, मैं विश्वास कर सकती हूं कि मुसलमानों के एक झुंड ने एक बूढ़े मुस्लिम व्यक्ति को पीटा, लेकिन उसे #जयश्रीराम का जाप करने और उसकी दाढ़ी काटने के लिए मजबूर किया?! यह वास्तव में पूरी कहानी है? वैसे भी .. कैसे संघी आसानी से मुख्य आरोपी की अनदेखी कर रहे हैं कि प्रवेश जिसने बूढ़े को पीटा और उसे जप करने के लिए मजबूर किया! प्यार करें कि कैसे संघियों ने मुख्य आरोपी को आसानी से अनदेखा कर दिया कि 'प्रवेश' जिसने बूढ़े को पीटा और उसे जप करने के लिए मजबूर किया!

    Javed Akhtar, Javed Akhtar tweet, Ghaziabad video case, Javed Akhtar tweeted after complaint filed against swara bhaskar, स्वरा भास्कर,  जावेद अख्तर

    स्वरा भास्कर के इस ट्वीट के देखने के बाद जावेद अख्तर ने ट्वीट किया और लिखा- 'मैं उन लोगों के बारे में सोच रहा हूं जिन्होंने जानते हुए उन बेगुनाह लोगों को गिरफ्तार किया, उन्हें मारा, जेल में रखा, झूठे प्रूफ और गवाह बनाए और फिर अपने घर जाकर परिवार से नजरें मिलाई, बच्चों के साथ खेला, अच्छा खाना खाया और मस्त सो गए. वाह!'

    आपको बता दें कि स्‍वरा और अन्‍य के ख‍िलाफ ये श‍िकायत वकील अमित आचार्य ने दिल्ली के तिलक मार्ग पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई थी. हालांकि, इस शिकायत पर अभी एफआईआर दर्ज नहीं की गई है. दिल्ली पुलिस ने इस श‍िकायत पर जांच भी शुरू कर दी है.

    इससे पहले उत्तर प्रदेश पुलिस ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो प्रसारित करने के सिलसिले में माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर, एक समाचार पोर्टल और छह लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है. इस वीडियो में एक बुजुर्ग मुसलमान गाजियाबाद में कुछ लोगों के कथित हमले के बाद अपनी व्यथा सुनाता दिख रहा है. पुलिस का कहना है कि यह वीडियो सांप्रदायिक तनाव पैदा करने के लिए साझा किया गया था.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.