TIK TOK बैन होते ही सोशल मीडिया पर आई मीम्स की बहार, सेलेब्स ने भी जताई खुशी

TIK TOK बैन होते ही सोशल मीडिया पर आई मीम्स की बहार, सेलेब्स ने भी जताई खुशी
टिकटॉक बैन होने के बाद सोशल मीडिया पर मीम्स वायरल हो रहे हैं. फोटो साभार- @meme_connection/twitter

हेलो और टिकटॉक (Helo and TikTok) दो ऐसी ऐप्स थीं, जिन्हें सेलेब्स भी काफी यूज करते थे. सरकार के फैसले के बाद सोशल मीडिया पर मीम्स का बाढ़ सी आ गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: June 30, 2020, 10:35 AM IST
  • Share this:
मुंबई. भारत सरकार (Government of India) सोमवार रात को एक बड़ा फैसला लेते हुए चीन के 59 ऐप्स बैन (59 Chinese Apps Banned) लगा दिया. इन ऐप्स में टिक टॉक (TikTok), यूसी ब्राउजर, हेलो और शेयर इट जैसे काफी पॉपुलर ऐप्स शामिल हैं. लद्दाख की गलवान घाटी में हुए भारत-चीन सैनिकों के बीच हुई हिंसक झड़प (India-China Rift) के बाद जारी तनाव के बीच मोदी सरकार ने ये फैसला लिया. इस फैसले के बाद सोशल मीडिया पर मीम्स (Meams) की बहार आ गई है और साथ ही सेलेब्रिटीज भी इन ऐप्स के बैन पर अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं.

हेलो और टिकटॉक (Helo and TikTok) दो ऐसी ऐप्स थीं, जिन्हें सेलेब्स भी काफी यूज करते थे. टीवी स्टार्स और बॉलीवुड सेलेब्स टिकटॉक (TikTok) पर एक से एक वीडियो बनाकर अपलोड किया करते थे. शिल्पा शेट्टी, माधुरी दीक्षित, रविना टंडन, दिशा पाटनी, यामी गौतम, नोरा फतेही, रितेश देशमुख, शाहिद कपूर, सिद्धार्थ मल्होत्रा, कपिल शर्मा, विद्युत जामवाल समेत कई सेलेब्रिटी टिकटॉक वीडियो बनाते हैं. इनके वीडियो को लोग काफी पसंद भी करते हैं. लेकिन इस बीच कुछ ऐसे सेलेब्स भी हैं, जो इन ऐप्स के बैन होने पर खुशी जाहिर कर रहे हैं.

बॉलीवुड एक्ट्रेस अमृता राव ने ट्वीट कर लिखा, 'भारत सरकार ने चीनी ऐप्स को बैन करने का यह फैसला देशहित और सुरक्षा के लिए अच्छा है. इसके अलावा सोशल मीडिया एडिक्शन से भी आजादी मिलेगी. इससे ब्रेक मिलने से लोगों को डिटोक्स होने में मदद मिलेगी.' अपने ट्वीट में उन्होंने बताया कि उन्होंने अपने फोन से पहले ही टिकटॉक ऐप को डिलीट कर दिया था.



कुमार विश्वास, टीवी स्टार निया शर्मा, कुशल टंडन सहित कई लोगों ने इस पर खुशी जाहिर की है.







वहीं, बैन होने के बाद सोशल मीडिया पर बॉलीवुड मीम्स की वायरल हो रहे हैं. सोशल मीडिया में लोग बॉलीवुड मीम्स के जरिए ख़ुशियां मना रहे हैं.











 



 







आपको बता दें कि भारत ने तर्क दिया है कि इन चाइनीज ऐप्स के सर्वर भारत से बाहर मौजूद हैं और इनके जरिए यूजर्स का डेटा चुराया जा रहा था. भारत सरकार ने स्पष्ट कहा है कि इन ऐप्स से देश की सुरक्षा और एकता को खतरा बना हुआ था, इसलिए ही इन्हें बैन करने का फैसला लिया गया है. सरकार ने इन्फर्मेशन टेक्नोलॉजी एक्ट के सेक्शन 69ए के तहत इन चीनी ऐप्स को बैन किया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading