• Home
  • »
  • News
  • »
  • entertainment
  • »
  • अंकिता कोंवर का छलका दर्द, बोलीं- 'मेडल जीता तो भारतीय बन गए, वरना चिंकी, चाइनीज, कोरोना हैं'

अंकिता कोंवर का छलका दर्द, बोलीं- 'मेडल जीता तो भारतीय बन गए, वरना चिंकी, चाइनीज, कोरोना हैं'

अंकिता कोंवर का कहना है कि नॉर्थ-ईस्ट के लोगों को चिंकी, चाइनीज, नेपाली या कोरोना कहकर बुलाया जाता है. (फोटो साभारःInstagram/ankita_earthy)

अंकिता कोंवर का कहना है कि नॉर्थ-ईस्ट के लोगों को चिंकी, चाइनीज, नेपाली या कोरोना कहकर बुलाया जाता है. (फोटो साभारःInstagram/ankita_earthy)

मिलिंद सोमन (Milind Soman) की पत्नी अंकिता कोंवर (Ankita Konwar) ने उन लोगों से नाराजगी जताई है, जो नॉर्थ-ईस्ट (North East) के लोगों के साथ गलत बर्ताव करते हैं. उन्होंने इंस्टाग्राम पर लोगों के भेदभाव भरे बर्ताव पर तीखी टिप्पणी की है.

  • Share this:
    नई दिल्लीः एक्टर मिलिंद सोमन (Milind Soman) की पत्नी अंकिता कोंवर (Ankita Konwar) के इंस्टाग्राम पर काफी फॉलोअर्स हैं. वे अक्सर सोशल मीडिया पर फैंस को अपनी निजी जिंदगी की झलकियां दिखाती रहती हैं. फैंस के बीच उनके वर्कआउट वीडियोज काफी पसंद किए जाते हैं. वे मिलिंद के साथ लंबी-लंबी यात्राओं पर जाती हैं, जिसकी जानकारी फैंस को समय-समय पर देती रहती हैं. लेकिन, इस बार उन्होंने अपने दिल का दर्द बयां किया है. उन्होंने सोशल मीडिया पर नॉर्थ-ईस्ट के लोगों के साथ हो रहे भेदभाव का मुद्दा उठाया है.

    अंकिता ने अपनी इंस्टाग्राम पोस्ट में नॉर्थ-ईस्ट लोगों के साथ हो रहे गलत बर्ताव के बारे में बात की है. उन्होंने ओलंपिक में सिल्वर मेडल जीतने वाली वेटलिफ्टर मीराबाई चानू (Mirabai Chanu) का जिक्र करते हुए कहा है कि देश के लिए मेडल जीतने पर ही, नॉर्थ-ईस्ट के लोगों को इंडियन समझा जाता है. वे कहती हैं, 'अगर आप नॉर्थ-ईस्ट से हैं, तो आप तभी इंडियन कहलाएंगे, जब आप देश के लिए मेडल जीतते हैं. वरना हमें चिंकी, चाइनीज, नेपाली या कोरोना कहकर बुलाते हैं. भारत में सिर्फ जातिवाद ही नहीं, नस्लवाद भी है. अपने अनुभव से कह रही हूं.'

    (फोटो साभारःInstagram/ankita_earthy)


    ये भी पढ़ें: 'अतरंगी रे' से 'डायल 100' तक अगस्त में होगा एंटरटेनमेंट का धमाका, देखे पाएंगे ये फिल्म और वेब सीरीज

    अंकिता की इस पोस्ट की हर और सराहना हो रही है. कई लोग उनका सपोर्ट करते नजर आए. एक यूजर लिखता है, 'बेहद दुख की बात है कि इतनी विविधता होने के बावजूद हमारे अंदर इंसानियत की कमी है. दूसरे यूजर ने अंकिता का समर्थन करते हुए कहा कि इसे बदलना चाहिए.' बता दें कि वे पहले भी ऐसे मुद्दे उठाती रही हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज