प्रतीक बब्बर ने अपने 'दिल' पर मां स्मिता पाटिल का लिखवाया नाम, देखें PHOTO

प्रतीक बब्बर कुछ दिनों के ही थे, जब उनकी मां स्मिता पाटिल दुनिया छोड़कर चली गई थीं (फोटो साभारः Instagram/_prat)

प्रतीक बब्बर कुछ दिनों के ही थे, जब उनकी मां स्मिता पाटिल दुनिया छोड़कर चली गई थीं (फोटो साभारः Instagram/_prat)

एक्टर प्रतीक बब्बर (Prateik Babbar) ने अपनी मां स्मिता पाटिल (Smita Patil) का नाम अपने दिल पर गुदवाया है. एक्टर ने सोशल मीडिया (Social Media) पर इसकी फोटो भी शेयर की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 28, 2021, 12:26 AM IST
  • Share this:
नई दिल्लीः प्रतीक बब्बर (Prateik Babbar) ने अपनी मां स्मिता पाटिल (Smita Patil) को तब खो दिया था, जब वे कुछ ही दिनों के थे. एक्टर सोशल मीडिया (Social Media) पर उनके बारे में लिखते और कहते रहते हैं. अब एक्टर ने अपनी मां के लिए अपना प्यार जाहिर करने के लिए उनके नाम को अपने दिल पर गुदवाया है. जी हां, प्रतीक ने अपने शरीर पर स्मिता पाटिल का नाम लिखवाया है. एक्टर ने अपने इंस्टाग्राम पेज पर इसकी एक फोटो भी शेयर की है.

फोटो में, प्रतीक अपने डॉगी के ऊपर लेटे नजर आ रहे हैं और अपनी छाती पर बना टैटू दिखा रहे हैं, जिसमें लिखा है- स्मिता 1955 से इन्फिनिटी तक. उन्होंने अपनी फोटो के कैप्शन में लिखा है, 'मैंने अपने दिल पर अपनी मां का नाम लिखवाया है... स्मिता #हमेशा के लिए 1955 - अनंत तक.'

(फोटो साभारः Instagram/_prat)


इस के बारे में बात करते हुए, प्रतीक ने ईटाइम्स को बताया, 'मैं हमेशा अपनी मां का नाम टैटू करवाना चाहता था. मैं इसे लेकर सालों से कुछ करना चाहता था. आखिरकार, यह पल सही लगा. उन्होंने ठीक वही लिखा, जहां उन्हें होना चाहिए था. 1955 उस साल को दर्शाता है, जब उन्होंने जन्म लिया था और अब वे अनंत समय तक मेरे साथ रहेंगी.'
इससे पहले जब उनसे मां के बारे में पूछा गया था, तो प्रतीक ने कहा था, 'हां, मुझे अपनी मां की विरासत की जिम्मेदारी का अहसास है. लोग इसे बोझ की तरह लेते हैं, लेकिन मैं इसे ऐसा नहीं कहूंगा. अगर यह मेरे कंधों पर एक भार के रूप में देखा जाता है, तो मैं कहूंगा कि यह एक ऐसा है जिस पर मुझे गर्व है. मैं इसे अपनी अंतिम सांस तक पूरी शान के साथ ले जाऊंगा.'

वे आगे कहते हैं, 'मेरी मां एक शानदार महिला थीं, जिन्होंने छोटे से करियर और जीवन में जादुई काम किए थे. उन्होंने बहुत से लोगों को छुआ और वे हमारे देश की सिनेमाई विरासत का हिस्सा हैं. मैं उनका बेटा होने के नाते खुद को सम्मानित और भाग्यशाली महसूस करता हूं.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज