रंगोली चंदेल के ट्विटर विवाद पर क्या बोले शेखर सुमन?

शेखर सुमन

रंगोली चंदेल (Rangoli Chandel) के ट्विटर विवाद और एजाज खान (Ajaz Khan) के बयान और गिरफ्तारी जैसी घटनाओं पर बोले शेखर सुमन बोले , 'आप शालीनता के दायरे में क्यों नहीं बोल सकते?'

  • Share this:
    नई दिल्ली. शेखर सुमन (Shekhar Suman) ने लॉकडाउन के दौरान रंगोली चंदेल और एजाज खान के बयानों से फिल्म जगत में मचे उफान को लेकर अपनी राय रखी है. उन्होंने कहा, "आप शालीनता के दायरे में क्यों नहीं बोल सकते?" शेखर सुमन लॉकडाउन दौरान न्यूज 18 हिन्दी के साथ लाइव आए. इस दौरान शेखर ने हालिया रंगोली और एजाज के विवाद पर कहा, "हम सेलिब्रेटी जगत के लोग हमें संभल कर बोलना चाहिए. सेलिब्रेटी ही नहीं बल्कि कोई भी शख्स ऐसा क्यों बोले कि दूसरे को इससे ठेस पहुंचे. आज भाषा की स्थिति बहुत ज्यादा खराब हो चुकी है. चाहे कोई नेता हो या अभिनेता हो भाषा को आज यतीम बना दिया है. मैं यहां तक कह सकता हूं भाषा यतीम हो गई हो गई."

    यहां वीडियो में देखें कंगना के बहन के सवाल पर क्या बोले शेखर सुमन



    उल्लेखनीय है कि सोशल मीडिया (Social Media) पर रंगोली चंदेल को कई बार कंगना का पक्ष लेते हुए बड़े-बड़े सेलेब्स को भी आड़े हाथों लेते देखा जाता था. लेकिन बीते कुछ महीनों से वो सेलेब्स से बाहर आकर राजनैतिक और समसामयिक मसलों पर भी अपनी राय रखने लगी थीं. हाल ही में विवादित टिप्पणी करने के बाद रंगोली की ट्विटर अकाउंट सस्पेंड (Twitter account suspend) हो गया है. ऋतिक रोशन की एक्स वाइफ सुजैन की बहन फराह खान अली (Farah Khan Ali) ने इसकी शिकायत की थी.

    शिकायत के बाद ट्विटर ने रंगोली चंदेल (Rangoli Chandel) का अकाउंट सस्पेंड करने की चेतावनी दी थी. रंगोली फिर भी ऐसे पोस्ट करती रहीं कि ट्विटर ने एक्शन लेते हुए उनका अकाउंट सस्पेंड कर दिया. विवादित ट्वीट्स न करने की चेतावनी की बात भी उन्होंने खुद ट्वीट करके बताई थी. रंगोली ने लिखा था, ट्विटर की ओर से मुझे चेतावनी मिली है.

    यह भी पढ़ेंः मेंटल हेल्थ पर WHO के डायरेक्टर से बात करेंगी दीपिका पादुकोण, फैंस हुए नाराज

    दरअसल, रंगोली ने हाल ही में डॉक्टरों और पुलिस पर हुए हमले को लेकर ट्वीट किया था. उन्होंने लिखा था, 'एक जमाती की कोरोना से मौत हो गई, जब पुलिस और डॉक्टर उसके परिवार को चेक करने गए तो उन्होंने उनपर (पुलिस और डॉक्टर) हमला किया और मार दिया. धर्मनिरपेक्ष मीडिया, इन मुल्लाओं + धर्मनिरपेक्ष मीडिया को एक पंक्ति में खड़ा करके गोली मार देनी चाहिए. इतिहास में वे हमें नाजी कह सकते हैं, किसे चिंता है, जिदंगी फेक इमेज से ज्यादा जरूरी है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.