सोनू सूद ने लोगों को पिलाया जूस, पीएम बनने के सवाल पर बोले- 'जहां हूं, वहीं सही हूं'

सोनू सूद महामारी में बिना रुके, बिना थके लोगों की मदद कर रहे हैं (फोटो साभारः Instagram/Sonu Sood)

सोनू सूद महामारी में बिना रुके, बिना थके लोगों की मदद कर रहे हैं (फोटो साभारः Instagram/Sonu Sood)

सोनू सूद (Sonu Sood) जब अपनी बिल्डिंग के बाहर इकट्ठा लोगों को जूस पिलाने के आए, तो एक शख्स ने उन्हें अगला प्रधानमंत्री (Prime Minister) बनाए जाने की इच्छा के बारे में बताया. इसका एक्टर ने अपने निराले अंदाज में जवाब दिया.

  • Share this:

नई दिल्लीः सोनू सूद (Sonu Sood) ने नेकी के काम से लाखों लोगों को सही राह दिखाई है. बॉलीवुड (Bollywood) और टीवी की दुनिया के कई सेलेब्स, सोनू से प्रेरित होकर लोगों की मदद को आगे आए हैं. एक्टर भी हर स्थिति में लोगों की सहायता करते हैं. एक्टर की निःस्वार्थ सेवा भाव को देखकर लोगों के साथ-साथ सेलेब्स भी उन्हें अगले प्रधानमंत्री (Prime Minister) के तौर पर देखना चाहते हैं. जब सोनू को लोगों की इस इच्छा के बारे में बताया गया तो एक्टर ने इसका अपने अंदाज में जवाब दिया.

हाल में सोनू ने जब अपनी बिल्डिंग के बाहर लोगों के हुजूम को देखा तो वे तुरंत उन्हें जूस पिलाने के लिए नीचे उतर आए. एक्टर के हाथों से ठंडा जूस पीना, लोगों को बहुत भाया. तभी लोगों की इस भीड़ में से किसी ने सोनू सूद को देश का अगला प्रधानमंत्री बनाए जाने की इच्छा जताई. इस पर सोनू सूद ने अपने ही अंदाज में जवाब दिया. एक्टर ने कहा, 'जो जहां है, वो वहां सही. आम इंसान ही बेहतर हूं. आप लोगों के साथ तो खड़ा हूं.'



आम आदमी क्या, सोनू सूद को सेलेब्स भी प्रधानमंत्री बनते हुए देखना चाहते हैं. राखी सावंत, वीर दास जैसे स्टार खुलकर अपनी यह इच्छा जाहिर भी कर चुके हैं. सोनू सूद एक ऐसे हीरो एक तौर पर उभरे हैं, जो पिछले साल लॉकडाउन से लोगों की मदद करने में लगे हैं. वे बिना रुके, बिना थके, लोगों की मदद कर रहे हैं. वे रोजाना हजारों लोगों की कॉल अटेंड करते हैं और उन्हें हर मुमकिन मदद पहुंचाते हैं. वे किसी को इलाज तो किसी को जरूरी सामान उपलब्ध करा रहे हैं. इन्हीं कारणों से सोनू ने लोगों के दिलों में गहरी जगह बना ली है.

आज तक से बातचीत के दौरान एक्टर ने कहा था, 'इस समय हर किसी को हर किसी की जरूरत है. मैं कैसे करता हूं, मुझे खुद नहीं पता. मैं करीब 22 घंटे फोन पर रहता हूं. हमारे पास 40 हजार से 50 हजार के बीच मदद के लिए रिक्वेस्ट आती है.' इसके अलावा, सोनू सूद विदेशी कंपनियों के साथ मिलकर देश में ऑक्सीजन प्लांट लगवाने पर काम कर रहे हैं. एक वेब पोर्टल से बातचीत में सोनू ने बताया था कि वे चीन, फ्रांस और ताइवान की कंपनियों के साथ मिलकर भारत में ऑक्सीजन प्लांट लगवा रहे हैं, जिससे अगर कोरोना की तीसरी लहर आती है तो हम पहले से तैयार होंगे.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज