गाजियाबाद वीडियो मामला: स्वरा भास्कर के खिलाफ शिकायत के बाद एक्‍ट्रेस ने क‍िया ट्वीट, 'भव‍िष्‍य उज्‍जवल नहीं है'

स्‍वरा भास्‍कर हाल ही में मुंबई पहुंची हैं. (Photo-@ReallySwara/Twitter)

एक्‍ट्रेस स्वरा भास्कर (Swara Bhaskar), पत्रकार आरफा खानम शेरवानी, आसिफ खान और ट्विटर इंडिया (Twitter India) के मनीष माहेश्वरी के खिलाफ गाजियाबाद का एक वीडियो ट्वीट (Ghaziabad Video Tweet) करने के मामले में वकील अमित आचार्य ने श‍िकायत दर्ज कराई है.

  • Share this:
    उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) स्थित गाजियाबाद का एक वीडियो ट्वीट (Ghaziabad Video Tweet) करने के मामले में एक्‍ट्रेस स्वरा भास्कर (Swara Bhaskar), पत्रकार आरफा खानम शेरवानी, आसिफ खान और ट्विटर इंडिया (Twitter India) के मनीष माहेश्वरी के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज की गई है. वहीं इस बीच एक्‍ट्रेस स्‍वरा भास्‍कर अपने सोशल मीडिया पर अब भी लगातार एक्टिव द‍िख रही हैं. स्‍वरा ने अपने ताजा ट्वीट में अपने हालात बयां करते हुए ल‍िखा है कि 'भव‍िष्‍य उज्‍जवल नहीं लग रहा है...'

    स्‍वरा और अन्‍य के ख‍िलाफ ये श‍िकायत वकील अमित आचार्य ने दिल्ली के तिलक मार्ग पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई थी. हालांकि, इस शिकायत पर अभी एफआईआर दर्ज नहीं की गई है. दिल्ली पुलिस ने इस श‍िकायत पर जांच भी शुरू कर दी है. वहीं स्‍वरा, जो इन दिनों अपने घर के र‍िनोवेशन के बाद उसमें दोबारा सेटल होने की तैयारी कर रही हैं, ने एक मजेदार ट्वीट किया है. स्‍वरा भास्‍कर ने सुबह-सुबह ट्वीट किया है, 'इस समय सुबह के 5.40 बज रहे हैं... मैंने अंधेरे में ही मैगी बनाई है और अब मैं उसी बर्तन में जमीन पर बैठकर ये मैगी खा रही हूं. मुझे मेरा भव‍िष्‍य उज्‍जव नहीं द‍िख रहा है.'





    आपको बता दें कि इससे पहले उत्तर प्रदेश पुलिस ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो प्रसारित करने के सिलसिले में माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर, एक समाचार पोर्टल और छह लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है. इस वीडियो में एक बुजुर्ग मुसलमान गाजियाबाद में कुछ लोगों के कथित हमले के बाद अपनी व्यथा सुनाता दिख रहा है. पुलिस का कहना है कि यह वीडियो सांप्रदायिक तनाव पैदा करने के लिए साझा किया गया था.

    स्वरा भास्कर के खिलाफ शिकायत की गई है. (फाइल फोटो)


    क्‍या है मामला-
    सोशल मीडिया पर 14 जून को सामने आए वीडियो क्लिप में बुजुर्ग मुस्लिम व्यक्ति अब्दुल समद सैफी ने आरोप लगाया कि कुछ युवकों ने उनकी पिटाई की और उनसे ‘जय श्री राम’ का नारा लगाने के लिए कहा, लेकिन गाजियाबाद पुलिस ने घटना के पीछे कोई साम्प्रदायिक कारण होने से इनकार किया और कहा कि आरोपी उस ताबीज से नाखुश थे जो सैफी ने उन्हें बेचा था. पुलिस ने सैफी पर हमला करने के आरोप में तीन लोगों को गिरफ्तार किया है.

    गाजियाबाद (ग्रामीण) के पुलिस अधीक्षक इरास राजा ने बुधवार को बताया कि सैफी को पीटने के आरोप में कल्लू गुर्जर, प्रवेश गुर्जर और आदिल को गिरफ्तार किया गया है. उन्होंने कहा कि पुलिस चार अन्य लोगों पोली, हिमांशु, आरिफ और मुर्शिद को भी तलाश रही है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.