वरुण ग्रोवर ने CAA-NRC पर लिखी कविता- 'कागज नहीं दिखाएंगे', Video हुआ वायरल

वरुण ग्रोवर ने CAA-NRC पर लिखी कविता- 'कागज नहीं दिखाएंगे', Video हुआ वायरल
वरुण ग्रोवर की कविता कागज नहीं दिखाएंगे.

संशोधित नागरिकता कानून (CAA) और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (NRC) के विरोध में बॉलीवुड के मशहूर लेखक वरुण ग्रोवर (Varun Grover) ने ऐसी कविता लिखी है कि विपक्ष के नेता भी उनकी वाहवाही कर रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 23, 2019, 4:10 PM IST
  • Share this:
मुंबई. बॉलीवुड और वेबसीरीज की दुनिया में अपनी लेखनी का लोहा मनवा चुके युवा लेखक वरुण ग्रोवर (Varun Grover) ने संशोधित नागरिकता कानून (CAA) और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (NRC) के विरोध में एक कविता लिखी है. वे आमतौर पर मुद्दों पर अपनी राय रखते हैं. उन्होंने कई मौकों पर खुलकर सरकारी नीतियों का विरोध किया है. अब उन्होंने एनआरसी और सीएए पर विरोध के लिए अपनी रचनात्मकता का प्रयोग करते हुए एक कविता लिखी है. इस कविता का शीर्षक- 'कागज नहीं दिखाएंगे' है.

उल्लेखनीय है कि हालिया संसदीय सत्र में भारतीय जनता पार्टी (BJP) के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) की सरकार ने सीएएस का प्रस्ताव रखा जो दोनों सदनों में पास हुआ. इसके बाद पूरे देश में हड़कंप मच गया. ज्यादातर लोगों ने इसे असम एनआरसी से जोड़कर देखा. असल में सरकार ने असम में एनआरसी के जरिए ऐसे लोगों से उनके भारतीय होने के साक्ष्‍य मांगे. इसमें उन सभी लोगों को जो साल 1971 के बाद भारत में शरणार्थी बन कर आए उनका नाम भारत की नागरिकता वाले रजिस्टर में दर्ज नहीं किया गया. तब प्रदेश के करीब 19 लाख से ज्यादा लोगों का नाम इस रजिस्टर में शामिल नहीं हो पाए.

ठीक इसी के बाद सरकार की ओर से सीएसएस लाए जाने से लोगों में कुछ लोगों में गुस्सा है. असल में सीएए के तहत पाकिस्तान, बंग्लादेश और अफगानिस्तान से भारत आए उन सभी लोगों को यहां की नागरिकता प्रदान की जाएगी. इसके विरोध की शुरुआत दिल्ली में जामिया मिल्ल‌िया विश्वविद्यालय से हुई. यहां जब पुलिस ने छात्रो के विरोध प्रदर्शन का जवाब दिया तो पूरे देश में हिंसा भड़क गई. इसके बाद देशभर के अलग-अलग कोनों से विरोध प्रदर्शन के सुर तेज हुए.



इसी दौरान हाल ही में मुंबई के क्रांति मैदान में हुए विरोध प्रदर्शन में फिल्म जगत के लोगों ने भी हिस्सा‌ लिया. वहां अनुराग कश्यप, फरहान अख्तर समेत कई जानीमानी हस्तियां पहुंचीं. इस क्रम में नवाजुद्दीन सिद्दकी ने एक कवितानुमा वीडियो में अपनी बात रखी. उन्होंने कुछ पंक्तियां लिखी थीं, उन्हें वो बार-बार एक पेपर दिखाते हैं. उसका सार ये था कि उनके अदंर सभी धर्म बसते हैं असल में वो एक कलाकार हैं.
लेकिन अब वरुण ग्रोवर ने खुलकर अपनी कविता से एनआरसी और सीएसएस का विरोध ‌किया है.

यहां वरुण की आवाज में सुनिए उनकी कविता
वरुण ग्रोवर की कविता पढ़िएराजनेताओं ने की वाहवाहीवरुण की इस कविता को शानदार बताते हुए कांग्रेस नेता शशि थरूर ने कहा कि उन्हें पता कि ये बेहतरीन कवि कौन है. पर उनकी कविता वाकई शानदार है.

इसके अलावा मार्क्सवादी भारतीय कम्यूनिस्ट पार्टी नेता सीताराम येचुरी ने भी वरुण ग्रोवर की कविता को सराहा है.

यह भी पढ़ेंः Bigg Boss 13-झगड़े के बीच रश्मि देसाई ने सिद्धार्थ शुक्ला को बताया ड्रग एडिक्ट
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading