मकर संक्रांति को लेकर जोश, तारीख पर पचड़ा

मकर संक्रांति को लेकर श्रद्धालुओं में जबरदस्त उत्साह है, लेकिन इसकी तारीख को लेकर विवाद भी खड़ा हो गया है।

  • News18India
  • Last Updated: January 13, 2015, 4:32 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली। मकर संक्रांति को लेकर श्रद्धालुओं में जबरदस्त उत्साह है, लेकिन इसकी तारीख को लेकर विवाद भी खड़ा हो गया है। पंचांग के मुताबिक स्नान का वक्त बुधवार देर रात यानि 14 तारीख को रात सवा एक बजे के बाद शुरु होगा। लेकिन इसके बावजूद 14 की सुबह ही लाखों की संख्या में श्रद्धालुओं के गंगा में स्नान करने का अनुमान है।

माघ महीने में श्रद्धालु मोक्ष की आकंक्षा से संगम में डुबकी लगाने के लिए इलाहाबाद आते हैं। पंचांग इस स्नान के सबसे शुभ मुहर्त निकालते हैं। श्रद्धालु उसी मुहूर्त के हिसाब से स्नान करते हैं ताकि उन्हें ज्यादा से ज्यादा पुण्य मिले, लेकिन इस बार बड़ा ये है कि आखिर वो शुभ मुहर्त है कब?

कब है मकर संक्रांति?
14 जनवरी को या 15 जनवरी को? पंडितों और संतों की माने तो इस बार मकर संक्रांति का शुभ मुहूर्त 15 वें नक्षत्र स्वाति में 15 जनवरी को है। यानी इस बार मकर संक्रांति पर 15-15 और 15 का संयोग है। यानी जानकारों के मुताबिक 14 जनवरी की देर रात 1 बजकर 20 मिनट से मकर संक्रांति शुरू होगी। 15 जनवरी की दोपहर 12 ब्रुाकर 20 मिनट पर शुभ मुहूर्त खत्म होगा।
प्रशासन का अनुमान है कि मगर संक्रांति पर 50 लाख श्रद्धालु डुबकी लगाएंगे। आमतौर पर माघ मेले में कल्पवास करने वाले लाखों श्रद्धालु हर सुबह गंगा स्नान करते हैं। लेकिन बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं के लिए मकर संक्रांति के तारीख विवाद ने संशय की स्थिति पैदा कर दी है। हालांकि ज्यादातर श्रद्धालु हर साल की तरह 14 जनवरी को ही मकर संक्रांति मनाने की तैयारी कर रहे हैं।




अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading