Ahmedabad News: आयशा की आत्महत्या के बाद सरकार सतर्क, 50 से अधिक स्कूटर और स्पीड बोट करेंगी साबरमती रिवरफ्रंट पर गश्त

साबरमती रिवर फ्रंट

साबरमती रिवर फ्रंट

Ahmedabad News: साबरमती रीवरफ्रंट में छेड़छाड़ की घटनाओं को रोकने के लिए 40 से अधिक दोपहिया वाहनों की खरीद की गई है. रिवरफ्रंट पर दो स्पीडबोट भी तैनात किए जाएंगे, जहां अधिक युवा महिलाएं घूमती हैं और छेड़छाड़ की घटनाएं बढ़ रही हैं.

  • Share this:
अहमदाबाद.  गुजरात (Gujarat) के अहमदाबाद (Ahmedabad) में खुद का वीडियो बनाकर साबरमती रिवर फ्रंट पर सुसाइड करने वाली आयशा (Ayesha Suicide) के केस ने हर किसी को हिलाकर रख दिया है. सरकार ने कहा है कि अब रिवरफ्रंट पर सुरक्षा बढ़ाई जाएगी. सरकार ने थ्री लेयर सुरक्षा का आदेश दिया है. अब स्पीड बोट भी नदी में गश्त करेगी. पुलिस ने 50 से अधिक स्कूटर और 2 गोल्फ कार्ट में गश्त करने की योजना बनाई है. इसमें महिला पुलिस को भी शामिल किया जाएगा.

इसके अलवा महिला दिवस के मौके पर ये भी ऐलान किया गया कि भारत सरकार के सुरक्षित शहर परियोजना के तहत महिलाओं की सुरक्षा के लिए एक अनुदान आवंटित किया जाएगा. इस परियोजना में कुल आठ शहर शामिल किए गए हैं. इसमें अहमदाबाद भी शामिल है. अहमदाबाद पुलिस द्वारा निर्भया परियोजना के तहत रखे गए प्रस्ताव के बारे में, शहर की पुलिस को पहले तीन साल के लिए 220 करोड़ रुपये के अनुदान में से पहले साल के लिए 820 करोड़ रुपये का अनुदान मिला है. शहर के दो सेक्टर जेसीपी, 10 से अधिक डीसीपी और 15 से अधिक एसीपी को पूरे प्रोजेक्ट के लिए अलग-अलग जिम्मेदारियां सौंपी गई हैं.

ये भी पढ़ें:- द‍िल्‍ली बजट: द‍िल्‍लीवालों को मि‍ल सकता है फ्री वैक्सीनेशन का तोहफा



छेड़छाड़ की घटनाओं को रोकने के लिए 40 से अधिक दोपहिया वाहनों की खरीद की गई है - कंकरिया में इस्तेमाल किए जाने वाले वाहनों के समान भी गश्त की जाएगी - रिवरफ्रंट पर दो स्पीडबोट भी तैनात किए जाएंगे जहां अधिक युवा महिलाएं घूमती हैं और छेड़छाड़ की घटनाएं बढ़ रही हैं.

इसके अलावा बस स्टैंड, रिक्शा स्टैंड और रेलवे स्टेशन पर अधिक संख्या में सीसीटीवी कैमरों के साथ हॉटस्पॉट लगाए जाएंगे. एक विशेष नियंत्रण कक्ष और स्थानीय पुलिस द्वारा निगरानी के साथ-साथ साइबर अपराध में एक विशेष महिला टीम भी होगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज