होम /न्यूज /gujarat /Ahmedabad News: अहमदाबाद में आवारा पशुओं का आंतक, गाय से टकराई तेज रफ्तार बाइक तो चचेरे भाई की मौत पर खुद को ठहराया ज‍िम्‍मेदार

Ahmedabad News: अहमदाबाद में आवारा पशुओं का आंतक, गाय से टकराई तेज रफ्तार बाइक तो चचेरे भाई की मौत पर खुद को ठहराया ज‍िम्‍मेदार

अहमदाबाद की सड़कों पर खुले में आवारा पशु घूमते देखे जा सकते हैं जोकि हादसों का सबब बन रहे हैं. (File Photo)

अहमदाबाद की सड़कों पर खुले में आवारा पशु घूमते देखे जा सकते हैं जोकि हादसों का सबब बन रहे हैं. (File Photo)

Stray Cattles Road Accidents: एक 23 वर्षीय राहुल वंझरा अपने चचेरे भाई हसमुख वंझारा के साथ गत शन‍िवार दोपहर को खेड़ा के ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

बाइक चला रहे राहुल के खिलाफ लापरवाही से और तेज गति से वाहन चलाने पर मामला दर्ज
एम्‍बुलेंस पहुंचने से पहले मौके पर ही हो गई चचेरे भाई की मौत
मार्क‍िट में चाय पीने के ल‍िए बाइक से जा रहे थे दोनों भाई

अहमदाबाद: सड़कों पर घूमते आवारा पशुओं (Stray Cattles) पर लगाम लगाने के ल‍िए समय-समय पर न‍िर्देश-आदेश जारी होते रहे हैं. राज्‍यों की अदालतों की ओर से भी स‍िविक बॉडीज और प्रशासन को इन पर लगाम लगाने के सख्‍त आदेश द‍िए जाते रहे हैं. प‍िछले माह गुजरात हाईकोर्ट (Gujarat High Court) की ओर से भी आवारा पशुओं के खतरे से न‍िपटने को प्रशासन की ओर से सख्‍त न‍िर्देश द‍िए गए थे. बावजूद इसके अहमदाबाद (Ahmedabad) की सड़कों पर खुले में आवारा पशु घूमते देखे जा सकते हैं जोकि हादसों का सबब बन रहे हैं.

हादसों की बड़ी वजह यह है क‍ि आवारा पशु अचानक सड़क पर आ जा रहे हैं. तेज गत‍ि से आ रहे वाहन इसकी चपेट में ज्‍यादा आ जा रहे हैं. ToI में प्रकाश‍ित खबर के मुताब‍िक ताजा मामला अहमदाबाद के खेड़ा शहर का सामने आया है. जहां दो बाइक सवार आवार घूमती गाय से टकरा गए जि‍समें एक शख्‍स की मौत भी हो गई. इस मौत के ल‍िए बाइक चला रहे घायल 23 वर्षीय राहुल वंझरा ने खुद को ज‍िम्‍मेदार ठहराया और इसके ल‍िए स्‍वयं के ख‍िलाफ थाने में मामला भी दर्ज कराया. साथ ही यह भी सवाल क‍िया क‍ि क्‍या कानूनी तौर पर गाय और उसके माल‍िक को इस हादसे के ल‍िए ज‍िम्‍मेदार ठहराया जा सकता है?

गुजरात: वडोदरा में धार्मिक झंडे को लेकर दो गुटों में झड़प, 40 गिरफ्तार, खेड़ा में भी बवाल

दरअसल, मामला गुजरात के अहमदाबाद के खेड़ा शहर का है. 23 वर्षीय राहुल वंझरा अपने चचेरे भाई हसमुख वंझारा के साथ गत शन‍िवार दोपहर को खेड़ा के पारा दरवाजा के पास स्‍थ‍ित अपने वर्क प्‍लेस पर गए थे. इसके बाद वह दोनों मोटरसाइक‍िल पर चाय पीने के ल‍िए पास की मार्किट में चले गए. इस दौरान राहुल की बाइक की स्‍पीड काफी तेज थी. और एक तीखे मोड़ के पास अचानक एक गाय आ गई. गाय को बचाने के चक्‍कर में बाइक अन‍ियंत्र‍ित हो गई. इस पूरे मामले का खुलासा खुद राहुल ने अपनी कंप्‍लेंट में क‍िया. इस कंप्‍लेंट के आधार पर पुल‍िस ने मामला दर्ज क‍िया है.

राहुल ने खुद बताया क‍ि मैं लापरवाही से तेज गति से गाड़ी चला रहा था ज‍िसकी वजह से गाय के अचानक मोड़ पर आ जाने की वजह से न‍ियंत्रण खो द‍िया. और वह (राहुल) सड़क किनारे झाड़ियों में गिर गया. लेक‍िन इस हादसे में चचेरा भाई हसमुख वंझारा सड़क पर गिर गया और उसके सिर में गंभीर चोटें आईं. इसके बाद राहुल ने तुरंत एम्बुलेंस सेवा के ल‍िए फोन क‍िया. मौके पर पहुंचे पैरामेडिक्स ने हसमुख को मृत घोषित कर दिया. पुलिस ने राहुल के खिलाफ लापरवाही से और तेज गति से वाहन चलाने के आरोप में मामला दर्ज कर ल‍िया है.

दुर्घटना के लिए कानूनी तौर पर गाय या मालिक को कैसे जिम्मेदार ठहराया जा सकता है?
राहुल ने बताया कि उसकी लापरवाही और फुल स्‍पीड ड्राइव करने की वजह से चचेरे भाई की मौत हो गई. इसलिए मैंने अपने खिलाफ खुद शिकायत दर्ज कराई. उसने यह भी कहा क‍ि आवारा पशु के सड़क पर घूमने के ल‍िए पशु माल‍िक ज‍िम्‍मेदार है. उसकी गलती है. लेकिन इस दुर्घटना के लिए कानूनी तौर पर गाय या उसके मालिक को कैसे जिम्मेदार ठहराया जा सकता है?

Tags: Ahmedabad News, Stray animals

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें